अपनी सेहत का ध्‍यान तो सब ही रख लेते हैं, मगर क्‍या आप अपने पेरेंट्स की हेल्‍थ को लेकर भी उतने ही एलर्ट रहते हैं, जितना आप अपनी हेल्‍थ को लेकर होते हैं। जाहिर है, आपका जवाब 'हां' होगा। हर कोई चाहता है कि उसके पेरेंट्स हमेशा सेहतमंद रहें और बीमारी उनसे कोसो दूर रहे। मगर उम्र बढ़ने के साथ-साथ शरीर में कई बदलाव होते हैं और इन बदलावों से कभी-कभी शरीर को नुकसान भी पहुंचता है। इसलिए इन पर ध्‍यान देना बेहद जरूर हो जाता है। 

फिटनेस एक्‍सपर्ट रुजुता दिवेकर ने अपने इंस्‍टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें वह बता रही हैं कि आपको अपने बूढ़े माता-पिता के स्‍वास्‍थ्‍य की देखभाल कैसे करनी चाहिए। इतना ही नहीं, रुजुता ने वीडियो में बताया है कि पेरेंट्स को सेहतमंद बनाए रखने के लिए किन-किन बातों पर विशेष ध्‍यान देना चाहिए। 

इसे जरूर पढ़ें: बच्चों पर अक्सर चिल्लाती हैं आप तो कुछ इस तरह बदलें अपनी आदत

सिर से लेकर पांव तक हो रहे शारीरिक बदलावों पर नजर रखें 

  • अपने पेरेंट्स के बालों की क्‍वालिटी चेक करें। बढ़ती उम्र के साथ बालों के सफेद होने की समस्‍या और हेयरफॉल की परेशानी आम है। मगर यदि बाल बेवजह ही सफेद हो रहे हैं और झड़ रहे हैं तो आपको किसी अच्‍छे डर्मेटोलॉजिस्ट से अपने पेरेंट्स का चेकअप करवाना चाहिए।  
  • उम्र के बढ़ने के साथ सुनने की शक्ति और आंखों की रोशनी में भी फर्क आता है। इसलिए समय-समय पर अपने माता-पिता का आई टेस्‍ट जरूर करवाएं। यदि उन्‍हें पुराने चश्‍में से देखने में परेशानी हो रही है या सिर में अत्‍याधिक दर्द रहता है तो इसे नजरअंदाज न करें। 
  • अपने पेरेंट्स के कंधों पर ध्‍यान दें। कई बार उम्र बढ़ने के साथ कंधे ढीले पड़ने लग जाते हैं। यदि वक्‍त रहते इन पर ध्‍यान न दिया जाए तो आगे चल कर यह भी परेशानी का कारण बन सकते हैं। 
  • अगर आपके पेरेंट्स का पेट निकल रहा है और हाथ पतले होते जा रहे हैं या पेट अंदर होता जा रहा है और हाथों में चर्बी इकट्ठा होती जा रही है तो आपको अपने माता-पिता का चेकअप करवाना चाहिए क्‍योंकि ऐसा होने के पीछे गंभीर कारण भी हो सकता है। 
  • अपने पेरेंट्स के उठने-बैठने के तरीके और चलने-फिरने के तरीके पर गौर करें। कई बार बढ़ती हुई उम्र के साथ हिप्‍स और पैरों के ज्‍वाइंट्स का लचीलापन खत्‍म हो जाता है। ऐसे में आपके पेरेंट्स को मेडिकल ट्रीटमेंट की जरूरत होती है। यदि इस परेशानी को शुरुआत में ही नजरअंदाज न किया जाए तो केवल दवाओं से ही इसे ठीक किया जा सकता है। 
parents health checkup

एक्‍सरसाइज टिप्‍स 

  • अपने पेरेंट्स को हफ्ते में एक बार योगा करने के लिए जरूर कहें। आपको बता दें कि उम्र कोई भी योगा हर उम्र के लोगों की सेहत के लिए जरूरी होता है। 
  • जितना हो सके पैदल चलने (पैदल चलने के फायदे) की आदत डलवाएं। रोजाना पैदल चलने से शरीर का वजन मेंटेन रहता है। साथ ही यह दिल की सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है। पैदल चलने से मांसपेशियां और हड्डियां भी मजबूत होती हैं। यदि आप अपने माता-पिता को प्रति दिन मात्र 30 मिनट पैदल चलने के लिए कहते हैं तो उन्‍हें डायबिटीज होने का खतरा भी कम हो जाता है।
  • अगर आपके घर पर लिफ्ट लगी है तो जाहिर है कि आपके माता-पिता सीढ़ी चढ़ने-उतरने की कोशिश नहीं करते होंगे। मगर आपको बता दें कि सीढ़ी चढ़ना-उतरना बेस्‍ट कार्डियो एक्‍सरसाइज है। यह आपके दिल के लिए तो फायदेमंद है ही, साथ ही इससे मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य को भी फायदा पहुंचता है और स्‍टेमिना भी बढ़ता है। 
  • साइकिल चलाने की भी कोई उम्र नहीं होती है। यदि आपके माता-पिता को साइकिल चलाना आता है तो उन्‍हें दिन में एक बार साइकिल चलाने के लिए जरूर कहें। इससे उन्‍हें दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा नहीं होगा, साथ ही शरीर में ब्‍लड सर्कुलेशन ठीक तरह से होगा। पैरों की अच्‍छी एक्‍सरसाइज के लिए भी साइकिल चलाना अच्‍छा है, इससे पैरों की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। इतना ही नहीं, साइकिल चलाने से इम्‍यून सिस्‍टम मजबूत होता है। 
 
 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Rujuta Diwekar (@rujuta.diwekar)

डाइट टिप्‍स 

  • सुबह की शुरुआत नट्स से करें और फिर चाय का सेवन करें। खाली पेट पेरेंट्स को चाय न पीने दें, इससे उन्‍हें एसिडिटी की शिकायत हो सकती है। 
  • बासी खाना या नाश्‍ता करने से बचे। हो सके तो नियमित रूप से पेरेंट्स को एक केला और एक कप दूध नाशते में जरूर दें। 
  • दोपहर के खाने में अपने माता-पिता को आप सीजनल अचार और चटनी दे सकते हैं। 
  • दिन में 20 से 40 मिनट के लिए अपने पेरेंट्स को आराम करने के लिए जरूर कहें। 
  • दोपहर में आराम करने के बाद आप अपने पेरेंट्स को दही या उससे बनी कोई खाने की चीज दे सकते हैं। 
  • रात का खान 8 बजे से पहले हो जाए तो आपके पेरेंट्स के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बेहतर होगा। खाने में घी वाली रोटी और गुड़ को जरूर शामिल करें। 
  • रात में पेरेंट्स के सोने से पहले उन्‍हें एक कप दूध जरूर दें। 

Recommended Video

रुजुता दिवेकर की इन टिप्‍स को अपने पेरेंट्स पर भी लागू करें और उन्‍हें सेहतमंद बनाए रखें। यदि इनमें से किसी भी टिप्‍स से आपके पेरेंट्स को कोई तकलीफ पहुंच रही हो तो उसे तुरंत ही करना बंद करवा दें। 

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें। साथ ही इसी तरह के और भी हेल्‍थ टिप्‍स जानने के लिए पढ़ती रहें हरजिंदगी।