कोरोना काल में ज्यादातर लोग अब वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं। इसकी वजह से लोग अधिक से अधिक समय कंप्यूटर के सामने बिता रहे हैं। कंप्यूटर पर बहुत अधिक समय बिताने की वजह से कई शारीरिक समस्याएं शुरू होने लगी है। उन्हीं में से एक है उंगलियों और बाहों में दर्द होना। दरअसल कंप्यूटर पर काम करते वक्त अक्सर कमर दर्द या फिर गर्दन की समस्या के बारे में आपने सुना होगा, लेकिन कई ऐसे लोग हैं, जिन्हें बाहों और उंगलियों में भी समस्याएं शुरू हो गई हैं। इससे उन्हें हाथ और उंगलियों में दर्द का सामना करना पड़ रहा है। धीरे-धीरे यह दर्द उंगलियों और हाथों के जोड़ों में पहुंच जाता है। बहुत अधिक समय तक कीबोर्ड और माउस का उपयोग आपके हाथों और उंगलियों को अंदर से कमजोर कर सकता है। उंगली के पोर पर हल्का सा दबाव भी आपको दर्द का अहसास करा सकता है। ऐसे में इससे राहत पाने के लिए आप कुछ तरीके अपना सकती हैं।

कंप्यूटर की हाइट और हाथों की स्थिति

finger pain

आप जहां काम करती हैं वहां पहले कंप्यूटर की हाइट को चेक करें। कोशिश करें कि आप लैपटॉप और कंप्यूटर को उस स्थान पर रखें, जहां से वह आपकी आंखों के बराबर हो।
इसके अलावा बांह की कलाई को सीधे कीबोर्ड पर हॉरिजॉन्टल के रूप में रखा जाना चाहिए। साथ ही, कीबोर्ड तक पहुंचने के लिए अपनी कलाई को बहुत दूर न खींचें या फिर कलाई को नीचे की ओर न झुकाएं।

 

अपनी कलाई और उंगलियों पर दबाव न डालें

काम करते वक्त कलाई को मेज पर रखकर कीबोर्ड पर उंगलियों का उपयोग करने से दर्द हो सकता है। ऐसे में आप कीबोर्ड पर केवल अपनी उंगलियों का इस्तेमाल करें। कलाई को हवा में थोड़ा ऊपर रहने दें। इस तरह आपकी कलाई डेस्क से नहीं टकराएगी और इससे आप दर्द से भी राहत पा सकती हैं।

इसे जरूर पढ़ें: मेनोपॉज के बाद हार्ट डिजीज से बचना है तो एक्सरसाइज करें

ब्रेक में बाहों को करें स्ट्रेच

Stretch your arms

काम के दौरान बीच-बीच में ब्रेक लेना बहुत जरूरी है। लेकिन कई लोग काम की वजह से ब्रेक लेना भूल जाते हैं। समय-समय पर ब्रेक लेने से आप न सिर्फ बाहों और उंगलियों के दर्द से राहत पा सकती हैं बल्कि अन्य शारीरिक परेशानियों को भी दूर कर सकती हैं। अपनी सेहत के लिए एक या दो मिनट का समय निकालें और बाहों और उंगलियों को आराम दें या फिर स्ट्रेच करें। ब्रेक लेते समय अपनी बाहों को फैलाएं साथ ही उसे अच्छी तरीके से स्ट्रेच करें।

कलाइयों के लिए करें एक्सरसाइज

take care of hands

अपनी मुठ्ठी को बाएं से दाएं और दाएं-बाएं से करीब 10 बार दबाने के बाद धीरे से कलाई को घूमाएं। इसे कम से कम दो घंटे में एक बार दोहराएं। साथ ही आप एक और एक्सरसाइज कर सकती हैं। अपने दाएं और बाएं हाथ की उंगलियों को इंटरलॉक करें और अपनी बाहों को धीरे से ऊपर की ओर खींचें। उंगलियों को दर्द से राहत देने के लिए आप कुछ समय के लिए अपनी मुट्ठी भी खोल और बंद कर सकती हैं। इस तरह आप अपनी बाहों को दर्द से छुटकारा दिला सकती हैं।

मसाज करें

अगर आप रोजाना 10 घंटे की शिफ्ट करती हैं तो एक दिन अपनी बाहों और उंगलियों को आराम दें। इसके लिए अगर आप चाहे तो बाहों और उंगलियों की आयुर्वेदिक ऑयल से मसाज कर सकती हैं। अगर आपके पास आयुर्वेदिक ऑयल नहीं है तो तिल या फिर सरसों के तेल का उपयोग कर सकती हैं। इससे आपको काफी राहत मिलेगी। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।