चोट कब कहां, किसे और कैसे लग जाए, यह कहा नहीं जा सकता। कई बार ऐसा होता है कि किसी व्यक्ति को चोट लग जाती है और डॉक्टर के पास ले जाने से पहले उसे फर्स्ट एड दिया जाता है। ऐसा इसलिए किया जाता है ताकि व्यक्ति की इंजरी या चोट बहुत अधिक गहरी ना हो जाए। लेकिन फर्स्ट एड सही तरह से देना भी बेहद आवश्यक है। कुछ लोग अनजाने ही चोट लगने पर खुद को या दूसरों को गलत तरीके से फर्स्ट एड दे देते हैं, जिससे समस्या और भी अधिक बढ़ जाती है।

हो सकता है कि आपके साथ भी ऐसा हुआ हो और आपने अपनी गलती से सीख ली हो। लेकिन चीजों को ठीक करने के लिए हर बार गलती करना जरूरी नहीं है। अगर चोट लगने, जख्म लगने या फिर जल जाने पर आप फर्स्ट एड के दौरान गलतियां करेंगी तो इससे समस्या ना केवल चोट को हील होने में अधिक समय लगेगा, बल्कि कई बार परेशानी बहुत अधिक बढ़ जाएगी। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको फर्स्ट एड के दौरान की जाने वाली ऐसी ही कुछ कॉमन मिसटेक्स के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें लोग बार-बार दोहराते हैं-

नाक से खून बहने पर लेट जाना

nose bleeding

यह एक बेहद ही कॉमन फर्स्ट एड मिसटेक है, जिसे अक्सर लोग बार-बार दोहराते हैं। कुछ लोगों को बहुत अधिक गर्मी के दिनों में नाक से नकसीर फूटती है, जिसके कारण नाक से खून बहने लगता है। इसके अलावा, एलर्जी या फिर चोट लगने पर भी नाक से खून आ सकता है। इस स्थिति में लोग लेट जाने की सलाह देते हैं। हालांकि, इससे आपको समस्या हो सकती है, क्योंकि इससे नाक से बहने वाला खून रुकेगा नहीं, बल्कि वह गले में चला जाएगा, जिससे आपको समस्या हो सकती है। इसलिए, बेहतर होगा कि इस स्थिति में आप तुरंत डॉक्टर की मदद लें।

इसे भी पढ़ें: पेट के कीड़ों से पाना है छुटकारा तो फॉलो करें एक्सपर्ट के ये टिप्स

जले हुए पर क्रीम लगाना

यह एक बेहद ही कॉमन मिसटेक है, जो आपने भी कभी ना कभी अवश्य दोहराई होगी। जब कभी गलती से हमारा हाथ जल जाता है तो हम उस पर ऑयनमेंट लगा लेते हैं। हालांकि, यहां आपको यह समझना चाहिए कि जब स्किन जल जाती है तो वह बहुत अधिक गर्मी का अनुभव करती है जो शरीर के टिश्यूज में गहराई तक जाती है। इस स्थिति में सबसे अच्छा तरीका है कि आप प्रभावित क्षेत्र को लगभग 15 मिनट तक ठंडे पानी में रखें। यह अतिरिक्त गर्मी को दूर करने में मदद करेगा। साथ ही, स्किन के जल जाने पर किसी भी चीज़ को सीधे त्वचा में न रगड़ें, क्योंकि इससे गर्मी बाहर नहीं निकल पाएगी। करीबन 15-20 मिनट बाद ही कोई क्रीम लगाएं। (स्किन जल जाने पर आजमाएं घरेलू उपाय)

Recommended Video

जख्म पर बैंडेज लगाना

जब कभी हमें कोई छोटी चोट लग जाती है तो हम उस जख्म को हील करने के लिए उस पर बैंडेज लगा लेते हैं। लेकिन फर्स्ट एड का यह तरीका भी गलत है। इससे जख्म ठीक नहीं होता, बल्कि उसे हील होने में अतिरिक्त समय लगता है। अगर आपको चोट लगी है तो उस दौरान सबसे अच्छा तरीका है कि आप पहले अपने जख्म को अच्छी तरह साफ करें और फिर कोई एंटीबैक्टीरियल दवाई लगाएं। इससे आपको जल्द व बेहतर असर देखने को मिलेगा। (चोट के सूजन को ऐसे करें कम)

इसे भी पढ़ें: स्किन से स्‍ट्रेच मार्क्‍स को गायब कर सकते हैं ये 5 घरेलू नुस्खे

चॉकिंग होने पर पीठ थपथपाना 

back problem

कभी-कभी ऐसा होता है कि गले में कुछ अटक जाता है और उस समय लोग व्यक्ति की पीठ को जोर से थपथपाना शुरू कर देते हैं। लेकिन ऐसा करने से गले में अटकी हुई वह चीज विंडपाइप में चली जाएगी। इससे व्यक्ति को और भी अधिक समस्या हो सकती है। इसके बजाय आपको यह करना चाहिए कि व्यक्ति को झुक जाने में मदद करें, सुनिश्चित करें कि वे शांत हैं। अब आप उन्हें दो बार बहुत धीरे-धीरे सांस लेने के लिए कहें। यह चॉकिंग को कम करने और उनके वायुमार्ग को ब्लॉक करने वाली वस्तु को ऊपर लाने में मदद करेगा।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।