छोटे बच्चे अक्सर खेलते समय गिर जाते हैं और उनके सिर में ख़ासतौर पर माथे में सूजन आ जाती है। बच्चों के माथे पर आयी सूजन उन्हें दर्द से परेशान करने के साथ उनके दिमाग के किसी हिस्से पर भी असर डाल सकती है। चोट लगने की वजह से सूजन क्षतिग्रस्त रक्त वाहिकाओं से बहने वाले तरल पदार्थों के एक जगह इकट्ठा होने की वजह से होती है। यदि इस तरल पदार्थ को एक जगह इकठ्ठा होने से लम्बे समय तक के लिए रोका नहीं गया तो ये आगे चलकर किसी बड़ी समस्या को जन्म दे सकती है।

बच्चों की इस चोट का तुरंत इलाज करना जरूरी है जिससे उन्हें दर्द से तुरंत राहत मिल सके और लॉन्ग टर्म में उनकी सेहत को कोई नुकसान भी न पहुंच सके। आइए जानें घर पर किस तरह से तुरंत बच्चों के सिर की चोट में आई सूजन से राहत दिलाई जा सकती है। 

कोल्ड कंप्रेश करें

cold compress

जैसे ही बच्चे को किसी वजह से चोट लगे उसके सिर की चोट को ध्यान से देखें और उस प्रभावित क्षेत्र पर तुरंत आइस पैक लगाएं। आइस पैक वैसोकोन्ट्रैक्शन यानी वाहिका संकीर्णन को बढ़ावा देगी या रक्त वाहिकाओं को कस देगी, जिससे सूजन सीमित हो जाएगी और ब्लड एक जगह पर लम्बे समय तक के लिए इकठ्ठा नहीं होगा। एक ठंडा कंप्रेसन दर्द को कम करने में भी मदद करता है और बच्चे को चोट से राहत दिलाता है। चोट लगने के पहले 24 से 48 घंटों के लिए कोल्ड कंप्रेस किया जाना चाहिए। कोल्ड कंप्रेस देने के लिए एक तौलिया में कुछ बर्फ के टुकड़े लपेटें और प्रभावित क्षेत्र पर 20 मिनट के लिए इस आइस पैक को लगाएं। कुछ मिनट के बाद आइस पैक को बार-बार चोट वाले स्थान पर लगाएं।

वार्म कंप्रेशन

warm compression

तुरंत दिए गए कोल्ड कम्प्रेशन के कम से कम 24 घंटे बीत जाने के बाद आप प्रभावित क्षेत्र पर वार्म कंप्रेशन दे सकती हैं। वार्म कंप्रेशन सूजन वाले क्षेत्र में रक्त के प्रवाह में वृद्धि करता है, जिससे रक्त वाहिकाओं को खोलकर ऑक्सीजन युक्त रक्त और पोषक तत्वों को क्षतिग्रस्त ऊतकों तक पहुंचने में मदद करता है। वार्म कम्प्रेशन देने के लिए आप किसी कपड़े को गरम तवे या प्रेस में रखकर गरम करें और चोट वाले स्थान पर लगाएं। 

इसे जरूर पढ़ें:गरम चाय या पानी से जलने पर अपनाएं ये 10 घरेलू नुस्खे, तुरंत कम हो जाएगी जलन

हल्दी और सरसों का तेल 

turmeric mustard oil

चोट वाले स्थान पर कुछ देर के बाद हल्के गुनगुने तेल में हल्दी मिलाकर लगाएं। हल्दी एंटी सेप्टिक और एंटी इन्फलेमेट्री गुणों से भरपूर होती है ये किसी भी चोट को जल्द ही ठीक करने में सहायक होती है। हल्दी बच्चे के सिर की सूजन को कम करने के साथ दर्द से भी तुरंत राहत दिलाती है। 

शहद 

honey in swelling child

चोट की सूजन में शहद का इस्तेमाल करने से चोट वाली जगह पर तुरंत राहत मिलती है। इसके लिए आप सूजन वाली जगह पर शहद में थोड़ा सा चूना मिक्स करके लगाएं। शहद और चूना का मिश्रण चोट खींचने में और सूजन कम करने में मदद करेगा। यदि आपके पास चूना नहीं है तो चोट की सूजन पर शहद का लेप करें। इससे दर्द में तुरंत राहत मिलेगी। 

तकिया का इस्तेमाल 

pillow in kid

चोट लगने के बाद बच्चे को सोते समय सिर के नीचे 1 या 2 तकिए का उपयोग करें। बच्चे को थोड़ी ऊंची तकिया पर सुलाएं। इससे ब्लड का फ्लो ब्रेन तक होता है और सूजन कम होने में मदद मिलती है। 

Recommended Video

बच्चे को शांत रखें 

kids calm

जब बच्चे को ऐसी कोई चोट लग जाए जिससे सिर में सूजन आ जाए तो उसे शांत रखने की कोशिश करें। यदि बच्चा बहुत छोटा है तो उसे गोद में लेकर चुप कराएं और थोड़ी देर के लिए उसे आराम करने दें। आराम से चोट की रिकवरी जल्दी होती हो और सूजन भी कम हो जाती है। 

इसे जरूर पढ़ें:मिर्च काटने के बाद हो रही है हाथों में जलन, तो इन ईज़ी ट्रिक्स से पाएं मिनटों में राहत

अर्निका

arnika use in swelling

एनल्जेसिक गुणों के कारण अर्निका सूजन के इलाज के लिए एक प्रभावी जड़ी बूटी है। अर्निका का रस चोट वाली जगह पर लगाने से दर्द और सूजन दोनों में तुरंत राहत मिलती है। यह रक्त वाहिकाओं में तरल पदार्थों के पुन: संशोधन को बढ़ावा देता है, जो बदले में दर्द और सूजन को कम करता है। इसके अलावा यह तेजी से रक्त संचरण में सुधार करता है।

ये सभी उपाय प्राथमिक उपचार की तरह इस्तेमाल किये जा सकते हैं, लेकिन यदि चोट या सूजन ज्यादा है तो इन घरेलू उपचारों के साथ तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। यदि 24 घंटे के अंदर बच्चे को उल्टी, चक्कर या अन्य कोई लक्षण दिखें तो घरेलू उपचारों की जगह चिकित्सकीय परामर्श जरूरी है।  

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik