ऐसा कहा जाता है कि जैसा हम खाते हैं, वैसा ही नजर आते हैं। इसलिए अंदर और बाहर दोनों तरह से हेल्दी बनने के लिए जरूरी है कि आपका खानपान भी वैसा हो। पोषक तत्वों से पैक आहार आपको अधिक हेल्दी बनाने में मदद करता है। वैसे जब पोषक तत्वों की बात हो और उसमें फिश ऑयल का नाम ना लिया जाए, ऐसा तो हो ही नहीं सकता। यह ओमेगा- 3 फैटी एसिड में समृद्ध है, जो आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। फिश ऑयल को आमतौर मछली के टिश्यू से निकाला जाता है। कुछ विशिष्ट मछलियाँ होती हैं जैसे ट्यूना, हेरिंग, एन्कोवीज़ और मैकेरल, जिनके शरीर में तेल की मात्रा अधिक होती है, उनका इस्तेमाल करके ही ऑयल लिया जाता है। फिश ऑयल में ओमेगा- 3 फैटी एसिड के अलावा विटामिन ए व विटामिन डी भी पाया जाता है। यह फिश ऑयल कई मायनों में हेल्थ के लिए लाभकारी होता है। जिसके बारे में हम आज आपको बता रहे हैं-

मेंटल डिसऑर्डर के इलाज में करे मदद

 fish oil inside

मानव मस्तिष्क ओमेगा 3 फैटी एसिड के 60% से बना है, इसलिए आपके मस्तिष्क को अपने कार्य को बनाए रखने के लिए ओमेगा 3s की सही एकाग्रता की आवश्यकता होती है। मछली के तेल में ओमेगा 3s मानसिक विकारों जैसे कि स्किज़ोफ्रेनिया, बाइपोलर डिसऑर्डर आदि से जुड़े गंभीर लक्षणों को सुधारने से रोक सकता है। साथ ही फिश ऑयल के सेवन से आपको अवसाद का खतरा भी कम रहता है।

वजन घटाने में मददगार

 weight loss inside

आपको शायद पता ना हो लेकिन फिश ऑयल वजन कम करने में भी सहायक है। दरअसल, यह आपके मेटाबॉलिज्म को बेहतर बनाने में मदद करता है और मोटापे के रिस्क फैक्टर को कम करता है। जिससे वजन को नियंत्रित करने में आसानी होती है। वहीं कुछ अध्ययनों से भी यह बात सामने आई है नियमित व्यायाम के साथ मछली का तेल स्वस्थ वजन घटाने को बढ़ावा दे सकता है।

इसे जरूर पढ़ें: क्या आप जानती हैं एसेंशियल ऑयल के ये हेल्थ बेनिफिट्स

अस्थमा के लक्षणों को करे कम 

 side effects inside

अगर आपको अस्थमा की शिकायत है तो यकीनन ठंड में आपको काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में आप फिश ऑयल को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। इसका नियमित सेवन अस्थमा के लक्षणों को कम करने में सहायक है। दरअसल, इसमें एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं और यह आपको एक क्लीयर वायुमार्ग प्रदान करने में मदद करता है, जिससे आपको यकीनन बेहद राहत मिलती है।

आई हेल्थ के लिए बेहद लाभकारी

 use fish oil inside

मछली का तेल आंखों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। आपके मस्तिष्क की तरह, आपकी आंखों को भी अपने कार्य को बेहतर बनाने के लिए ओमेगा 3 फैटी एसिड की आवश्यकता होती है। बढ़ती उम्र के साथ आपकी आंखों की सेहत में गिरावट आती है। लेकिन अगर आप फिश ऑयल को अपनी डाइट का हिस्सा बनाती हैं तो इससे आप बढ़ती से उम्र से संबंधित आंखों की समस्याओं व अन्य कई तरह की आंखों की बीमारियों से बचाता है। साथ ही यह आपकी विजन में सुधार करता है।

इसे जरूर पढ़ें: Hair Care Tips: तेल लगाने से बाल हो जाएंगे लंबे और घने, मिलते हैं ऐसे ही 5 फायदे

Recommended Video

जोड़ों के दर्द को कम करता है

 how to fish oil inside

मछली का तेल जोड़ों के दर्द को कम करता है और जोड़ों में अकड़न को रोकता है। यह गठिया और ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित लोगों के लिए भी फायदेमंद है क्योंकि यह हड्डियों के घनत्व को बढ़ाने में मदद करता है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik