• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

Diabetes Plant: सिर्फ पत्तियां चबाने से होगा शुगर कंट्रोल, जानें क्‍या है इस जादुई पौधे का राज

Insulin Plant for Diabetes: आप इस जादुई पौधे की पत्तियों से अपनी शुगर को आसानी से कंट्रोल कर सकती हैं, जानें कैसे। 
author-profile
Published -10 Aug 2022, 14:04 ISTUpdated -10 Aug 2022, 16:15 IST
Next
Article
Insulin Plant for sugar control

Verified by Mrs. Simran Saini, Dietician And Nutritionist  

Insulin Plant: डायबिटीज एक आम बीमारी है जो देश के लगभग हर दूसरे घर में देखने को मिल जाती है। यह बीमारी शरीर की इम्‍यूनिटी को भी काफी कम कर देती है जिससे व्‍यक्ति कई अन्य बीमारियों की चपेट में आ जाता है। लेकिन आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि ऐसे में इंसुलिन को पौधा आप इस्‍तेमाल कर सकती हैं।  

सरल शब्दों में, डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जिसमें शरीर का ब्‍लड ग्लूकोज लेवल बहुत अधिक हो जाता है और इंसुलिन एक हार्मोन है जो ग्लूकोज को आपकी कोशिकाओं में एनर्जी देने में मदद करता है और इसलिए कंडीशन को मैनेज करने में मदद करता है। इंसुलिन का पौधा औषधीय पौधों में से एक है जो डायबिटीज को कंट्रोल करने में मदद करता है

तो अगर आप या आपका कोई परिचित डायबिटीज से पीड़ित है, तो आपको यह समझने के लिए इस आर्टिकल को जरूर पढ़ना चाहिए कि जादुई पौधा इंसुलिन डायबिटीज के इलाज में कैसे मदद करता है। इसके बारे में हमें डाइटिशियन सिमरन सैनी जी बता रही हैं। 

इंसुलिन का पौधा  (What is Insulin Plant?)

डायबिटीज के इलाज के लिए प्रकृति मां द्वारा इंसुलिन का पौधा एक वरदान है जो एक खतरनाक हेल्‍थ कंडीशन, (अगर अनुपचारित छोड़ दिया जाए) यह शरीर के विभिन्न अंगों जैसे किडनी, आंख, जठरांत्र संबंधी मार्ग और हार्ट पर गंभीर प्रभाव डाल सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें:  नेचुरल तरीकों से कैसे कंट्रोल करें ब्लड शुगर, एक्सपर्ट से जानें आसान टिप्स

इंसुलिन का पौधा कैसे काम करता है?  (How to Control Diabetes From Insulin Plant?)

Insulin Plant Benefits

इंसुलिन का पौधा, जिसका वैज्ञानिक नाम कोक्टस इग्नस है, आयुर्वेद में बहुत महत्व रखता है और इस पौधे की पत्तियों को चबाने से आपका शुगर लेवल काफी हद तक कंट्रोल हो सकता है, हालांकि इसका स्वाद मुंह में खट्टापन छोड़ सकता है।

पत्ते के सही उपयोग से ब्‍लड शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है। यह जानना दिलचस्प है कि इस पौधे में इंसुलिन नहीं होता है, न ही यह शरीर में इंसुलिन बनाता है, लेकिन इस पौधे में मौजूद प्राकृतिक केमिकल चीनी को ग्लाइकोजन में बदल देते हैं, जो मेटाबॉलिज्‍म प्रक्रिया को बढ़ावा देता है।

विभिन्न शोधों के अनुसार, कोस्टस इग्नस की पत्तियां या चमत्कारी इंसुलिन का पौधा एक केमिकल से भरपूर होता है जो डायबिटीज के खतरे को कम करता है। इंसुलिन के पत्तों में यह ब्‍लड में बढ़े हुए शुगर के लेवल को कम करता है। इतना ही नहीं, इस अद्भुत पौधे की पत्तियां मूल्यवान पोषक तत्वों जैसे प्रोटीन, टेरपेनोइड्स, फ्लेवोनोइड्स, एंटीऑक्सीडेंट्स, एस्कॉर्बिक एसिड, आयरन, बी कैरोटीन, कोर्सोलिक एसिड आदि से भरपूर होती है।

इंसुलिन के पौधे के फायदे (Insulin Plant Benefits)

इस पौधे की हरी पत्तियां कोर्सोलिक एसिड से भरपूर होती हैं। यह केमिकल जब अंतर्ग्रहण किया जाता है, तो अग्न्याशय से इंसुलिन के स्राव को बढ़ाकर जादू की तरह काम करता है। यह ब्‍लड फ्लो में ग्लूकोज के हाई लेवल को ट्रिगर करता है और कंडीशन को ठीक करता है।

इंसुलिन संयंत्र का उपयोग खांसी, सर्दी, त्वचा संक्रमण, आंखों के संक्रमण, फेफड़ों के रोग, अस्थमा, दस्त और कब्ज जैसी बीमारियों के लिए भी किया जाता है।

इंसुलिन के पौधे का सेवन कैसे किया जाता है? (How to Eat Insulin Plant)

Insulin Plant Benefits In Diabetes,

अब तक आप डायबिटीज के इलाज के लिए इस पौधे के जादुई प्रभावों से अच्छी तरह वाकिफ हो गई होंगी। शुगर के लेवल में प्रभावी परिणाम देखने के लिए डॉक्टर इस पौधे की एक पत्ती को एक महीने तक रोजाना चबाने की सलाह देते हैं।

एक और तरीका जिससे आप इस पौधे के गुणों का लाभ उठा सकती हैं, वह पत्तियों को सुखाना है। आप इस पौधे से पत्ते ले सकती हैं और उन्हें छाया में सुखा सकती हैं। इसके बाद सूखे पत्तों को पीस लें। इसलिए बनने वाले पाउडर का रोजाना सेवन करना चाहिए। आप इस चूर्ण का 1 चम्मच प्रतिदिन सेवन कर सकती हैं।

Recommended Video

सावधानी (Insulin Plant Side Effects)

निर्धारित से अधिक न चबाएं क्योंकि इससे अन्य स्वास्थ्य जोखिम हो सकते हैं।

इंसुलिन का पौधा कहां से खरीद सकते हैं? (How to Get Insulin Plant) 

आप अपने घर पर साल भर में कभी भी इंसुलिन का पौधा लगा सकती हैं। यह एक झाड़ीदार पौधा है जिसकी ऊंचाई ढाई से तीन फीट के बीच होती है। अगर आप घर में गमले में कम्पोस्ट और मिट्टी को सही अनुपात में डालती हैं और पानी देती रहती हैं, तो आपको जल्द ही रिजल्‍ट देखने को मिलेंगे। साथ ही ये पौधे आपको नर्सरी में मिल जाएंगे। आप आसानी से कई स्थानीय पौधे विक्रेता पा सकते हैं जो न केवल पौधे बेचते हैं बल्कि इस पौधे के बीज भी उपलब्ध कराते हैं।

इसे जरूर पढ़ें: रोजाना 10 मिनट निकालकर करेंगी ये 3 योग तो डायबिटीज रहेगी कंट्रोल

आप भी इसकी मदद से अपनी डायबिटीज को कंट्रोल कर सकती हैं। लेकिन इसे इस्‍तेमाल करने से पहले एक बार अपने डॉक्‍टर से सलाह जरूर कर लें। उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। इस आर्टिकल को शेयर और लाइक जरूर करें, साथ ही कमेंट भी करें। डाइट और हेल्‍थ से जुड़े ऐसे ही और आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: Shutterstock & Freepik 

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।