हम में से लगभग सभी को अपने जीवन में कभी-कभी सिरदर्द की समस्‍या से जूझना पड़ता है। यह काफी सामान्य लक्षण है। जबकि कुछ के लिए यह कुछ समय में गायब हो जाता है, कई अन्य के लिए, यह एक स्थायी स्थिति है। हालांकि, सिरदर्द कोई बीमारी नहीं है। यह सिर्फ एक लक्षण है और इसके पीछे अलग-अलग कारण हो सकते हैं।

सिरदर्द के सामान्य कारण

  • अनिद्रा
  • हाई ब्‍लड प्रेशर 
  • आंखों में कमजोरी
  • साइनसाइटिस
  • एनीमिया 
  • वातस्फीति
  • नींद की कमी
  • उचित आराम का अभाव
  • थकान

खराब लाइफस्‍टाइल

सिरदर्द के पीछे ये कुछ सबसे सामान्य कारण हैं। यदि सिरदर्द लगातार बना रहता है, तो यह एक अंतर्निहित स्वास्थ्य समस्या के कारण हो सकता है और किसी भी गंभीर स्वास्थ्य समस्या को रोकने के लिए किसी को तुरंत डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

सिरदर्द से तुरंत राहत पाने के उपायों के बारे में जानने के लिए हमने वेलक्योर की को-फाउंडर और लाइफस्टाइल मेडिसिन कोच आंचल कपूर से बात की। तब उन्‍होंने हमें सामान्य कारणों से होने वाले सिरदर्द के लिए कुछ प्राकृतिक घरेलू उपचार शेयर किए। आइए आप भी हमारे साथ इस बारे में विस्‍तार से जानें। लेकिन सबसे पहले लाइफस्‍टाइल में होने वाले बदलावों के बारे में जान लेते हैं।

इसे जरूर पढ़ें:सिरदर्द का देसी इलाज हैं ये 5 हर्ब, एक बार जरूर करें ट्राई

लाइफ स्‍टाइल में बदलाव

लाइफ स्‍टाइल से जुड़ी आदतें आपके स्वास्थ्य को निर्धारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। विशेषज्ञ ने सुझाव दिया कि सिरदर्द को रोकने के लिए अपनी लाइफ स्‍टाइल में कुछ बदलाव करने चाहिए।

  • आपको रोजाना रात में कम से कम 7-8 घंटे की अच्छी नींद लेनी चाहिए।
  • बिस्तर पर जाने से पहले अपना चेहरा धो लें।
  • अच्छी नींद के लिए सोने से कम से कम एक घंटे पहले किसी भी गैजेट से दूर रहें। 
  • मोबाइल फोन या लैपटॉप को रात में सिर के पास न रखें ताकि फोन के बजने से होने वाली किसी भी तरह की परेशानी और विकिरणों के हानिकारक प्रभावों से भी बचा जा सके।
  • शांतिपूर्ण नींद के लिए मेडिटेशन करने की कोशिश करें।
  • 'अनुलोम विलोम' और 'ब्रह्मारी प्राणायाम' जैसे ब्रीदिंग एक्सरसाइज लंबे समय में माइग्रेन से राहत दिलाने में काफी मददगार होते हैं।

हाइड्रेटेड रहना

सिर दर्द को कम करने के लिए खुद को हाइड्रेटेड रखना बेहद जरूरी होता है। कैफीनयुक्त ड्रिंक्‍स की जगह आप पानी और ताजे फलों का रस जैसे अनार आदि को अपनी डाइट में शामिल करें।

सही खाएं

healthy diet for headache

वेलनेस एक्सपर्ट ने बताया कि पालक में काफी मात्रा में फोलिक एसिड और विटामिन-बी होता है, जो माइग्रेन से राहत दिलाने में मदद करता है। केला, पपीता, सेब, खुबानी और खट्टे फल खाने से आपके ब्रेन में नर्वस सर्किट को शांत करने में मदद मिलती है और दर्द से राहत मिलती है।

अजवाइन

सामान्य कोल्‍ड या माइग्रेन के कारण होने वाले सिरदर्द के लिए, एक छोटे कॉटन के कपड़े में कुछ अजवाइन या अजवाइन के पाउडर को लपेटकर 'पोटली' बना लें। राहत पाने के लिए इसे बार-बार सूंघते रहें।

नींबू के छिलके

2-3 नींबू के छिलके लें, उन्हें पीसकर पेस्ट बना लें और अपने माथे पर लगाएं। नींबू की सुगंध आपकी इंद्रियों को शांत करती है और दर्द को शांत करती है। यह धड़कन से भी राहत देता है।

 

Recommended Video

ठंडा सेक

आपके सिर या गर्दन पर कोल्ड कंप्रेस/आइस पैक दर्द की अनुभूति को कम करता है।

नीम के पत्तों का पाउडर

बार-बार सिरदर्द होने पर 1 चम्मच नीम की पत्तियों का चूर्ण सुबह पानी के साथ!

काली मिर्च

kaali mirch for headache

10-12 काली मिर्च और चावल के 10-12 दाने पानी के साथ पीसकर पेस्ट बना लें। सिर के प्रभावित हिस्से पर 15-20 मिनट के लिए लगाएं।

इसे जरूर पढ़ें:5 समस्‍याओं का 1 इलाज है अजवाइन, बस सही इस्‍तेमाल जान लें

वेट आई पैक्स

आंखों पर गीले पैक लगाने से सिरदर्द के साथ-साथ आंखों के स्‍ट्रेस से भी तुरंत राहत मिलती है। कॉटन के कपड़े की एक पट्टी को पानी (कमरे के तापमान) में डुबोएं, इसे अच्छी तरह से निचोड़ें (यह टपकना नहीं चाहिए) और इसे अपनी आंखों पर रखें। रिलैक्‍स करें। 3-5 मिनट के बाद गीले पैक को बदलें। इसे कम से कम 20-30 मिनट तक करें।

हालांकि ये घरेलू उपचार प्रभावी हैं, लेकिन अगर आप कुछ तरह की दवाएं खाती हैं या आपको कोई हेल्‍थ ट्रीटमेंट चल रहा हैं तो सुनिश्चित करें कि आप इनमें से किसी को भी फॉलो करने से पहले एक्‍सपर्ट से परामर्श करें। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिदंगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com & shutterstock.com