गर्मियों का मौसम आते ही पसीने की चिपचिपाहट से सभी को जूझना पड़ता है। ऐसे भी लोग हैं जिनकों पैरों में भी पसीना आता है। जिनके साथ पैरों में पसीना आने की दिक्कत होती है। उनके पैरों से बदबू भी खूब आती है। ऐसे ही लोगों में हैं नीता। नीता पैरों की कितनी भी सफाई करले। मगर, उसके पैरों से पसीना आना बंद नहीं होता। उसके शूज में से हमेशा ही अजीब सी दुर्गंध आती है। इस वजह से ऑफिस में उसके पास कोई भी नहीं बैठना चाहता। कई बार तो उसे शर्मिंदा भी होना पड़ता है। वैसे नीता जैसी और भी कई महिलाएं हैं जो इस परेशानी से जूझा रही हैं। बाजार में स्मेली फीट्स के लिए काफी प्रोडक्ट्स आते हैं मगर, इन प्रोडक्ट्स का असर टेम्प्रेरी होता है। इसलिए फिटनेस ट्रेनर एवं हेल्थ इंस्ट्रक्टर कुणाल शर्मा स्मैली फीट्स की समस्या को दूर करने के लिए कुछ खास टिप्स देते हैं। 

summer smelly feet

चाय का पानी 

आपके पैरों से अगर पसीने की बहुत दुर्गंध आती है तो आपको घर पर चाय के पानी में कुछ देर के लिए अपने पैरों को डुबो कर रखना चाहिए। इसलिए आप चाय की पत्ती को कुछ देर के लिए पानी में भिगो कर रख दें। कुछ देर बाद आपको उस पानी में अपने पैर डुबो लेने चाहिए। आपको 20 मिनट तक अपने पैरों को उस पानी में डुबो कर रखना चाहिए। चाय एंटीबायोटिक होती है और यह बैक्टीरिया को किल करती है। अगर आप रोज चाय के पानी में कुछ देर पैर डुबो कर रखेंगे तो हो सकता है कि एक महीने बाद आपकी इस परेशानी में आपको कुछ राहत मिल जाए। 

एल्कोहॉल थेरेपी 

एल्कोहॉल का इस्तेमाल कई चीजों में किया जाता है। अगर आपको स्मैली फीट की प्रोब्लम है तो आप एल्कोहॉल थेरेपी की मदद ले सकती हैं। इसके लिए आपको पहले अपने पैरों को वॉश करना हेागा उसके बाद आप उसे पोछ लें। इसके बाद आपको एल्कोहॉल में कॉटन को डिप करना होगा और उससे फीट को वाइप कर लें। ध्यार रखें बीयर का प्रयोग इसके लिए न करें। आप इसे रोजाना 15 दिन तक करें। इससे भी आपको फायदा मिलेगा। 

expert tips on smelly feet

विनेगर थेरेपी 

सिरका भरतीय रसोई में खाने में फ्लेवर डालने के लिए यूज किया जाता है। आप भी इसका इस्तेमाल खाना पकाते वक्त करती होंगी। अब से आप इसका इस्तेमाल अपने पैरों की दुर्गंध को मिटाने के लिए भी कर सकती है। इसे लिए आपको एक टब में पानी लेना है और उसमें 3 से 4 छोटे चम्मच विनेगर डालना है। 15 मिनट तक आपको उस पानी के अंदर अपने पैरों को रखना है। ऐसा आप हर दिन 1 महीने तक करें। आपको जरूर फायदा होगा। 

एंटीबैक्टीरियल पाउडर 

यह एक बेहद आसान तरीका है। सबसे पहली बात तो यह है कि आपको अपने मोजे हर दिन बदल कर और साफ पहनने चाहिए। इसके साथ आपको हमेशा मोजे पहनने से पहले अपने मोजो के अंदर एंटीबैक्टीरियल पाउडर छिड़क लेना चाहिए। अगर आप ऐसा करेंगी तो आपके पैरों में एक तो कम पसीना आएगा और दूसरा यह पैरों की दुर्गंद को भी कम करेंगा। 

इन थेरेपीज के अलावा आपको अपको हमेशा ही अपनी स्किन की अच्छे से सफाई करनी चाहिए। आपको ज्यादा से ज्यादा पानी पी कर अपने आप को हाइड्रेटेड रखना चाहिए साथ ही आपको समय-समय पर अपने पैरों को पानी से वॉश करते रहना चाहिए।