दिनभर बिजी रहने और भागदौड़ के बाद जब रात को नींद ना आए या नींद आने के बाद अचानक से आधी रात को नींद खुल जाए और फिर दोबारा नींद आने में परेशानी हो तो आप परेशान हो जाती हैं। इसके अलावा कुछ महिलाओं को तो हल्‍की सी आहट, किसी की आवाज और दूसरे कमरों से आती हल्‍की सी आवाज भी सोने नहीं देती। एक तरफ नींद ना आने की समस्‍या से आप जूझ रही है और दूसरी तरफ अगले दिन के काम आपको सोने नहीं देती है।   

नींद ना आने के स्‍ट्रेस से हम सभी कभी ना कभी जूझती हैं। और रात में नींद पूरी ना हो तो ना सिर्फ हमारे रूटीन पर असर होता है बल्कि लंबे समय तक यह समस्या रहने पर हमारी हेल्‍थ पर भी इसका बुरा असर पड़ता है। अगर आप चाहती हैं कि आपको सुकून की नींद आए और आपकी लाइफ रहे खुशगवार तो अपनी डाइट में कुछ चीजों को शामिल करें। जी हां आरामदायक नींद के लिए डाइट एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। विशेषज्ञों का कहना हैं कि अपनी डाइट पर ध्यान देकर अच्छी नींद ली जा सकती है। बादाम, कीवी, अखरोट, केला, काबुली चना, दूध, दलिया और चावल ऐसे फूड हैं जो नींद बढ़ाने में सहायक होते हैं।

sound sleep health in

जल्दी पचने वाला फूड है दलिया 

‘संडे मैट्रेस’ के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी अल्फोंस रेड्डी और ‘सिस्लो कैफे’ के किचन विशेषज्ञ मृनमॉय आचार्य ने भोजन और बेहतर नींद में सहायक और आसानी से बनने वाले भोजन पर अपने विचार शेयर किए हैं। दलिया और चावल में कार्बोहाइड्रेट्स प्रचूर मात्रा में पाया जाता है और यह बहुत जल्दी पच जाता है जिससे नींद बढ़ने लगती है। दलिया पोषण से भरपूर हल्का-फुल्का फूछ है। यह आसनी से पच भी जाता है। रात को दूध, शहद, केले और बादाम के साथ इसे खा सकती हैं। रात को सोने से पहले एक कटोरी दलिया जरूर खाएं।

Read more: अच्‍छी नींद चाहती हैं तो आज से ही अपना वजन कम कर लें

कैल्शियम से भरपूर है दूध

रात को सोने से पहले दूध का सेवन करना अच्छा माना जाता है। इसमें बहुत सारा कैल्शियम होता है जो नींद में किसी तरह की कोई बाधा नहीं बनने देता। आपको भी रात के समय नींद ना आने की परेशानी है तो सोने से पहले एक गिलास गर्म दूध जरूर पी लें। इसके अलावा दूध में ट्रिप्टोफैन होता है, जो बेहतर नींद से जुड़े एमिनो एसिड होता है। वैज्ञानिक तौर प्रोटीन ट्रिप्टोफैन के ब्लॉक्स बनाते हैं और दूध इनसे भरपूर होता है। आयुर्वेद के अनुसार भी दिन का अंत एक ग्लास गर्म दूध से किया जाए तो यह बेहतर होता है। यह ना केवल ब्रेन को शांत करता है बल्कि यह नींद को बाधि‍त होने से बचाता है।

sound sleep health in

प्रोटीन का सबसे अच्‍छा स्रोत है काबुली चना

दलिया में बॉडी को नींद के संकेत देने वाला मेलाटोनिन नामक हॉर्मोन पाया जाता है। रात के खाने के साथ सलाद लेने से ‘लैक्टूअकेरियम’ का स्राव होता है जो बॉडी को आराम देता है। काबुली चना नींद लाने में आश्चर्यजनक रूप से सहायक होता है। प्रोटीन का अच्छा स्रोत होने के अलावा काबुली चने में विटमिन बी 6 प्रचूर मात्रा में पाया जाता है जो शरीर में मेलाटोनिन बनाता है।
तो अच्‍छी नींद लाने के लिए आप अपनी डाइट में इन तीन फूड्स को जरूर शामिल करें।