शल्लकी! शायद यह नाम आप पहली बार सुन रहे होंगे, क्योंकि भारत में इसे लोबान के नाम से जाना जाता है। दरअसल, यह एक तरह का गोंद होता है जिसे एक पेड़ की छाल से बनाया जाता है। इस पेड़ को बोसवेलिया नाम से जाना जाता है। आपको बता दें कि इसका प्रयोग अगरबत्ती बनाने में भी किया जाता है क्योंकि इसकी सुगंध बहुत तेज़ होती है। वहीं, दूसरी ओर शल्‍लकी का इस्तेमाल कई औषधीय गुणों की वजह से भी किया जाता है। साथ ही, इसके कई हेल्थ बेनिफिट्स भी हैं आज हम आपको इसी के फायदों के बारे में जानकारी देंगे जो मेरी मम्मी ने मुझे बताए हैं। 

आपको बता दें कि इसके पेड़ की छाल, राख के रंग की होती है और इसके पत्ते नीम के पत्ते की तरह ही दिखते हैं। यह स्वाद में तीखा, कड़वा और कसैला होता है। तो चलिए जानते हैं शल्‍लकी के कई हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में। 

जोड़ों के दर्द की समस्या को करें दूर

inside  shallaki benefits in hindi

अगर आपके जोड़ों में दर्द है तो आप शल्लकी का उपयोग कर सकते हैं क्योंकि एक शोध में पाया गया है कि इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जो अर्थराइटिस में आराम दिलाते हैं। आपको बता दें कि रूमेटाइड अर्थराइटिस और अर्थराइटिस एक तरह से जोड़ों का दर्द ही होता है। जिसमें हाथों और पैरों की उंगलियों में सूजन व दर्द की शिकायत होती है। अगर आपको भी यहीं समस्या है तो आप इसके गोंद को गुनगुने पानी में घिसकर जोड़ों पर लगा सकते हैं। 

सिर दर्द में फायदेमंद

inside  benefits for forehead pain

शल्लकी का उपयोग सिरदर्द में आराम दिलाने के लिए भी किया जाता है। अगर आपके सिर में दर्द है तो आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आप शल्लकी की छाल को पीस लें और फिर उसे माथे पर लगाएं। ऐसा करने से सिरदर्द ठीक हो जाएगा। इसका आप नियमित रूप से इस्तेमाल कर सकते हैं।

घाव भरने में मददगार 

inside  pain

इसका उपयोग घाव को भरने के लिए भी किया जाता है अगर आपका ज़ख्म किसी भी चीज़ से भर नहीं रहा है तो आप शल्लकी का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप घाव पर एक रेशम का पतला सा कपड़ा रख दें। फिर इसके बाद शल्लकी का चूर्ण घाव के ऊपर छिड़क दें और पट्टी बांध दें। ऐसा करने से घाव जल्दी ठीक हो जाएगा। 

इसे ज़रूर पढ़ें- 5 मिनट में दांतों से प्लाक हटाने के लिए आज़माएं ये टिप्स

दाद को करें ठीक 

inside  fungus

दाद जब एक बार शरीर पर हो जाते हैं तो ठीक होने का नाम ही नहीं लेते हैं। लोग दाद को ठीक करने के लिए तरह-तरह के प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करते हैं। तो अब आपको परेशान होने की ज़रूरत नहीं हैं। इसके लिए आप शल्लकी की छाल को पीसकर दाद पर लगा लें और इसको नियमित रूप से लगाएं। यह बहुत फायदेमंद होता है। 

Recommended Video

दांत दर्द में मिलता है आराम 

inside  teeth pain

यह कमज़ोर दांत और दांतों में दर्द को भी दूर करता है इसके लिए आप शल्लकी के गोंद को बबूल की गोंद के साथ मिलाकर चूस लें। ऐसा करने से आपको दर्द में आराम मिलेगा साथ ही, मुंह से बदबू आने की समस्या भी दूर हो जाएगी क्योंकि इसकी खुशबू बहुत तेज़ होती है। 

शल्लकी के सेवन का तरीका

आप ऊपर बताए गए तरीकों से शल्लकी का उपयोग कर सकते हैं। वर्ना बाजार में इसके कैप्सूल भी मिलते हैं आप डॉक्टर की सलाह से यह खरीद सकते हैं। ध्यान रहे इसका सेवन करने से गैस की समस्या हो सकती है। 

इसे ज़रूर पढ़ें-Expert Tips: कई बीमारियों का रामबाण इलाज हैं ये 7 तरह के फूल

देसी नुस्खे हर किसी पर अलग तरह से असर करते हैं और ये प्रचलित देसी तरीके हैं। पर अगर आपको इनमें से किसी इंग्रीडियंट से एलर्जी है या फिर आप पहले से ही किसी समस्या से ग्रसित हैं और डेंटिस्ट से दवा ले रहे हैं तो अपने डॉक्टर की सलाह के बाद ही इनका प्रयोग करें। लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक ज़रूर करें, साथ ही ऐसी अन्य जानकारी पाने के लिए जुड़े रहें हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- Freepik