आमतौर पर जब भी कोई कीड़ा-मकोड़ा काटता है, तब काफ़ी दिक़्क़तें होती हैं, लेकिन जब मधुमक्खी काट ले तो दर्द बर्दाश्त नहीं होता। कुछ देर के लिए बैचेनी होने लगती है, और ऐसा लगता है कि अब बस दर्द बंद हो जाए। हालांकि कई लोग इसे आसानी से सह लेते हैं। दर्द के अलावा सूजन और खुजली की भी समस्या होती है, इसलिए आज हम बताएंगे कुछ ऐसे घरेलू उपाय, जिसे आप दर्द, सूजन, और स्किन एलर्जी जैसी समस्याओं से निपटने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। ख़ास बात ये है कि यह घरेलू उपाय बेहद असरदार भी है। 

प्रभावित स्थान पर लोहे को लगाएं

iron

अगर आपको मधुमक्खी काट ले तो सबसे अच्छा है कि आप किसी भी लोहे के टुकड़े को काटे गए स्थान पर लगा लें। थोड़ी देर लगाए रहने से दर्द कम हो जाता है, ध्यान रखें कि पूरी तरह से दर्द धीरे-धीरे ख़त्म होगा। लोहे के तौर पर चाबी, ताला या फिर कोई भी लोहे का टुकड़ा लगा सकते हैं। इसके बाद टूथपेस्ट को अप्लाई करें इसकी ठंडक से आपको बेहद आराम मिलेगा।

मधुमक्खी काटने चूना लगाएं

lime

चूना मधुमक्खी कीट के डंक के दुष्प्रभाव को मिटाने में सहायक होता है। कई बार डंक लगे रहने से दर्द बढ़ता ही चला जाता है, इसलिए पहले उसे निकाल लें। चूना लगाने के लिए सबसे पहले उसमें पानी की कुछ बूंदें डालकर पेस्ट बना लें, अब इसे डंक वाली जगह पर 10 मिनट तक लगाएं रखें, फिर हटा लें। दर्द जाने के बाद सूजन है तो बर्फ़ से हल्की सिकाई करें।

इसे भी पढ़ें: बलगम से छुटकारा पाने और मजबूत इम्‍यूनिटी के लिए रोजाना गरारे करें

शहद है रामबाण इलाज

honey use

मधुमक्खी के काटने का इलाज शहद में छिपा हुआ है। दरअसल शहद में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, इसलिए मधुमक्खी के काटने पर यह डंक के प्रभाव को कम करता है। इसके अलावा ये सूजन और खुजली जैसी समस्या को भी दूर करने में सहायक है। ध्यान रखें कि अगर सूजन ज़्यादा है तो दो से तीन दिन लगातार शहद लगाएं।

बेकिंग सोडा अप्लाई करें

baking soda use

मधुमक्खी काट ले तो बेकिंग सोडा का उपयोग करना चाहिए। यह बहुत आराम दिलाता है। इसके लिए आप एक कप में बेकिंग सोडा लें और थोड़ा पानी मिलाकर पेस्ट बना लें और फिर प्रभावित स्थान पर लगाएं। इससे दर्द के अलावा सूजन और जलन से भी आराम मिलेगा। 

Recommended Video

तुलसी के पत्तों का पेस्ट

basil leaves use

मधुमक्खी के काटने पर आप तुलसी के पेस्ट का भी उपयोग कर सकती हैं। मधुमक्खी कहीं भी और कभी भी काट सकती है, ऐसे में अगर तुलसी के पत्ते हैं तो तुरंत उसे हांथों से मसलकर उसका रस प्रभावित स्थान पर लगाएं। फिर जो बचे हुए पत्ते हैं उन्हें भी प्रभावित स्थान पर लगा दें। यह बेहद प्रभावी तरीक़ा होता है, जो मधुमक्खी के काटने पर अप्लाई किया जा सकता है। यह दर्द, जलन, और सूजन तीनों समस्याओं से राहत दिलाता है।

इसे भी पढ़ें: ऐसे करें डिहाइड्रेशन टेस्ट और जानें शरीर को कितने पानी की है जरूरत

सबसे जरूरी बात

मधुमक्खी के काटने पर जरूरी है कि शरीर को हाइड्रेट रखें, इसलिए भरपूर पानी पिएं। इससे आपको दर्द से राहत पाने में ना सिर्फ मदद मिलेगी, बल्कि अन्य शारीरिक समस्याएं भी नहीं होंगी।

अगर लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक ज़रूर करें, साथ ही ऐसी अन्य जानकारी पाने के लिए जुड़े रहें हरजिन्दगी के साथ।