दिवाली साल का सबसे बड़ा त्योहार होता है। इस त्योहार के लिए महिलाएं सालभर से तैयारी करती हैं। इस मौके पर घर की साफ-सफाई से लेकर घर को सजाने और घर के सभी-सदस्यों के लिए कपड़े और गिफ्ट्स लेने के काम महिलाएं पूरे एक्साइटमेंट के साथ करती हैं। इस मौके पर हर महिला की यही कामना होती है कि लक्ष्मी और गणेश जी की कृपा उन पर बनी रहे। इस मौके पर महिलाएं विधि-विधान से पूजा करती हैं ताकि लक्ष्मी जी की कृपा उन पर बनी रहे। अगर आप चाहती हैं कि दिवाली पर घर की खुशियां बनी रहें तो घर को वास्तु सम्मत बनाने की ओर ध्यान देना चाहिए। अगर त्योहार पर घर वास्तु के अनुसार सजा हो तो लक्ष्मी और गणेश जी की कृपा बरसने के साथ घर में खुशियों का वास बना रहता है। तो इस बार दिवाली को शुभ बनाने के लिए वास्तु एक्सपर्ट नरेश सिंगल से आइए जानते हैं कि दिवाली पूजा के दौरान कौन सी 7 चीजें नहीं होनी चाहिए, जो वास्तु दोष उत्पन्न करती हैं। 

vastu tips for prosperity

चमड़े का पर्स पूजा में ना रखें

इस बात का भी ध्यान रखें कि पूजा के समय पारंपरिक वस्त्र पहनें। साथ ही पूजा करते हुए चमड़े की बेल्ट और पर्स साथ में ना रखें, क्योंकि यह पूजा में शुभ नहीं माना जाता। वास्तु के अनुसार सात्विक चीजों का पूजा में होना महत्वपूर्ण माना जाता है।

इसे जरूर पढ़ें: बाथरूम में वास्तुदोष से हो सकती हैं आर्थिक समस्याएं, इन तरीकों से दूर करें वास्तुदोष

छत को रखें साफ-सुथरा

दिवाली की सफाई के दौरान बहुत सी महिलाएं घर का कबाड़ निकालकर छत पर जमा कर देती हैं। ऐसा हरगिज ना करें। घर की तरह छत पर पड़ी बेकार चीजों को भी हटा दें। इससे घर में वायु का प्रवाह बना रहता है और घर-परिवार के लोगों की सेहत भी सलामत रहती है। 

बंद घड़ियां हैं अशुभ

वास्तु के अनुसार घर में लगी घड़ियां परिवार के सदस्यों की प्रगति का प्रतीक होती हैं। अगर घड़ी खराब हो जाएं या किसी वजह से बंद हो जाएं तो उन्हें रिपेयर करा लें, लेकिन अगर वे ठीक ना हो सकें, तो उन्हें घर से हटा देना ही बेहतर है।

इसे जरूर पढ़ें: आमदनी बढ़ाने के लिए लाफिंग बुद्धा को घर में इन जगहों पर रखें

नकली बंदनवार हटा दें

बहुत सी महिलाएं घर की सजावट के लिए नकली बंदनवार मुख्य द्वार पर लगा देती हैं या सजावटी बंधनवार उन्हें बेहतर लगता है। वास्तु के अनुसार यह शुभ नहीं माना जाता, इसलिए ऐसा ना करें। घर पर यह भी देखा जाता है कि स्वास्तिक घर के पुरुष बनाने लगते हैं। चूंकि महिलाओं को लक्ष्मी के रूप में देखा जाता है, इसीलिए घर की बेटियां और महिलाएं अगर स्वास्तिक बनाती हैं तो यह ज्यादा अच्छा माना जाता है। इसी तरह अगर पुरुष अपने ऑफिस में अपने हाथों से स्वास्तिक बनाते हैं, तो वह उन्हें वहां शुभ फल देता है। 

diwali pooja vastu tips

कांच की टूटी हुई चीजें

अगर आपके घर के खिड़की का टूटा हुआ कांच या फिर कोई और टूटा हुआ शीशे का सामान है तो उसे घर से बाहर कर दें। टूटी हुई खिड़की में दिवाली की पूजा से पहले नया शीशा लगवा लेना बेहतर रहता है। वास्तु के अनुसार घर में टूटा हुआ कांच अशुभ फल देता है और इसीलिए इसे घर से बाहर कर देना चाहिए।

टूटा-फूटा सामान हटा दें

अगर घर में बिजली का बेकार और टूटा-फूटा सामान पड़ा है तो वह भी घर में नेगेटिव एनर्जी क्रिएट करता है। दिवाली से पहले घर की सफाई करते हुए पुराने जूते-चप्पल और घर की अन्य बेकार चीजें भी हटा दें। इस बात का भी ध्यान रखें कि घर में जूते-चप्पल व्यवस्थित तरीके से जूते के रैक में हों और इधर-उधर बिखरे नहीं पड़े रहें। घर में ऐसा खराब सामान परिवार के सदस्यों की सेहत और गुडलक, दोनों की राह में रुकावट पैदा करता है। इससे बचाव के लिए इन सामानों को जल्द से जल्द घर से बाहर कर देना चाहिए।

खंडित मूर्तियों देती हैं अशुभ फल

घर में कोई भी खंडित मूर्ति नहीं रखनी चाहिए। अगर कोई मूर्ति गिरकर टूट गई है या पूजा स्थल पर रखी कोई तस्वीर पुरानी हो चुकी है तो दिवाली से पहले उनकी जगह नई मूर्ति और फोटो लगा देनी चाहिए और टूटी हुई मूर्ति और पूजा के सामान को किसी पवित्र जगह पर छोड़ देना चाहिए या मिट्टी में दबा देना चाहिए।