अमूमन देखा गया है कि महिलाएं जितनी अच्‍छी तरह से अपने महंगे आउटफिट्स की केयर करती हैं, उतनी अच्‍छी तरह से वह अपने इनर गार्मेंट्स की टेक केयर नहीं करती हैं। इस कारण कई बार महंगे से महंगे इनरवियर भी देखभाल के अभाव में खराब हो जाते हैं। 

कुछ अंडरगार्मेंट्स तो अपनी लाइफ से भी कम चलते हैं और इसलिए महिलाओं को बार-बार इन्‍हें खरीदने में पैसा वेस्‍ट करना पड़ता है। यदि उचित देखभाल और रख-रखाव किया जाए तो आपके इनरवियर साल भर नए जैसे बने रहेंगे। 

तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि आप अपने महंगे और डिजाइनर इनवियर की देखभाल किस तरह से कर सकती हैं और आपको किन बातों का ध्‍यान रखना चाहिए।

how to wash undergarments by hand

कैसे करें अंडरगार्मेंट्स को साफ 

अंडरगार्मेंट्स की देखभाल में सबसे पहला स्‍टेप होता है कि आप उसकी ढंग से साफ-सफाई करें। इससे इनरवियर को लॉन्‍ग लाइफ भी मिल जाएगी और यह आपकी हाइजीन के लिए भी बेहद जरूरी है। अपने अंडरगार्मेंट्स को साफ करने के लिए हमेशा सॉफ्ट डिटर्जेंट का ही इस्‍तेमाल करें। आपको बाजार में बहुत सारी अच्‍छी ब्रांड्स में सॉफ्ट डिटर्जेंट मिल जाएंगे। इस बात का ध्‍यान रखें कि अंडरगार्मेंट्स में कभी भी साबुन न रहने दें।(पैंटी की सफाई करने के टिप्‍स)  उसे अच्‍छे से ठंडे पानी से वॉश करें। इतना ही नहीं, कभी भी अन्‍य कपड़ों के साथ अपने अंडरगार्मेंट्स को साफ न करें। इससे वह खराब हो सकते हैं। इसके साथ ही अंडरगार्मेंट्स अच्‍छी तरह से सुखाएं और फिर स्‍टोर करें। 

how to store undergarments

कैसे करें अंडरगार्मेंट्स को स्‍टोर 

अमूमन महिलाएं इनरवियर को स्‍टोर करने में ज्‍यादा मेहनत नहीं करती हैं। इनरवियर को वॉश करके और सुखा कर वह उसे ऐसे ही बिना फोल्‍ड किए किसी भी स्‍थान पर रख देती हैं। जबकि इस तरह से इनरवियर को स्‍टोर करने पर वह खराब हो सकते हैं। खासतौर पर अगर आप पैडेड और वायर्ड ब्रा (ब्रा खरीदने और पहनने के 5 टिप्स) को बिना ढंग से फोल्‍ड किए हुए रख देंगी तो पैड्स और वायर में क्रैक आ जाएगा और इससे आपकी फिटिंग प्रभावित होगी। वहीं पैंटी को भी आपको अच्‍छे से फोल्‍ड करके ही रखना चाहिए। यदि आप ऐसा नहीं करती हैं तो पैंटी की लास्टिक और उसके फैब्रिक पर बुरा असर पड़ता है। कई बार ढेर सारे कपड़ों के बीच में इनरवियर रखने पर वह कपड़ों के साथ ही उलझ जाते हैं और इससे उन्‍हें निकालते वक्‍त फैब्रिक में खिंचाव आता है और वह खराब हो जाते हैं। इनरवियर को स्‍टोर करने के लिए ऑर्गेनाइजर का इस्‍तेमाल करें। 

इसे जरूर पढ़ें: लॉन्जरी के मामले में हर लड़की करती है ये 3 गलतियां, आप कभी न करें

कब बदलें अंडरगार्मेंट्स 

पहली बात तो यह है कि आपको अपने साइज को ध्‍यान में रखते हुए इनरवियर खरीदना चाहिए। छोटा या बड़ा साइज आने पर केवल फिटिंग ही प्रभावित नहीं होती है बल्कि उनकी देखभाल पर भी प्रभाव पड़ता है। इसके साथ ही आपको कम से कम 6-7 इनरवियर के सेट रखने चाहिए और हर दिन नए सेट का प्रयोग करना चाहिए। इससे एक सेट को हफ्ते में एक बार ही धोने की जरूरत पड़ेगी। अगर किसी कारण से आपका इनरवियर फट गया है या उसका धागा निकल रहा है तो उसे तुरंत ही रफु कर लें। इससे वह और खराब होने से बच जाएगा। 

 

इन बातों का भी रखें ध्‍यान 

  • इनरवियर को रोज चेंज करें। यह आपकी हाइजीन के लिहाज से भी जरूरी है और रख-रखाव की नजर से भी आवश्‍यक है। क्‍योंकि पसीने या वेजाइनल डिस्‍चार्ज के कारण इनरवियर के फैब्रिक पर खराब प्रभाव पड़ता है। 
  • अगर आपके इनरवियर में लास्टिक है और किसी वजह से उसकी सिलाई खुल गई है या फिर सिलाई का लॉक टूट गया है तो इसे नजरअंदाज न करें बल्कि उसकी तुरंत ही मरम्‍मत करें। 
  • कभी भी इनरवियर को वॉशिंग मशीन में न वॉश करें। इनरवियर डेलिकेट होते हैं और अन्‍य कपड़ों के साथ उलझ कर वह फट भी सकते हैं। इनरवियर के लिए हैंड वॉश सबसे बेस्‍ट तरीका है। 

 

यह लाइफ हैक्‍स अगर आपको अच्‍छे लगे हो तों इन्‍हें शेयर और लाइक जरूर करें और साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: Freepik