हर लड़की अपनी शादी के दिन को एक मैजिकल दिन बनाना चाहती है और इसके लिए वह हर संभव प्रयास करती है। भले ही आपकी कल्पना के अनुसार आपकी वेडिंग का वेन्यू एकदम शानदार हो और उसे बेहद खूबसूरती से सजाया गया हो। आपके साथ-साथ आपके हर परिचित के लिए यह एक शानदार शादी रही हो, लेकिन जरा पीछे मुड़कर आपने सोचा कि आपकी शादी ने पर्यावरण को कितना नुकसान पहुंचाया। प्लास्टिक कटलरी से लेकर भारी मात्रा में बचे हुए भोजन और आपके कस्टम-मेड सजावट कहीं न कहीं पर्यावरण के लिए ठीक नहीं है। लेकिन अगर आप चाहती हैं कि आपकी शादी एकदम यूनिक हो और साथ ही वह ईको-फ्रेंडली भी हो तो इसके लिए आपको बहुत कुछ करने की जरूरत नहीं हैर्। इको-फ्रेंडली शादी करने के कई तरीके हैं, जिन्हें अपनाकर भारतीय शादियों में कचरे को कम करने और प्लास्टिक के इस्तेमाल से बचा जा सकता है। इतना ही नहीं, ईको-फ्रेंडली वेडिंग पर्यावरण हितैषी होने के साथ-साथ पॉकेट फ्रेंडली होते हैं और इन्हें अरेंज करना भी आसान होता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

इसे भी पढ़ें: इन 5 ट्रेंडिंग चादरों से बनाएं अपनी ब्राइडल एंट्री को खास, हर कोई कहेगा वाह

कागज का इनविटेशन नहीं

some easy tips to plan an eco friendly wedding inside four

शादी की तैयारियों की शुरूआत होती है इनविटेशन से। आमतौर पर हम सभी शादी के कार्ड छपवाते हैं और उन्हें सभी रिश्तेदारों, परिचितों व मित्रों को दिया जाता है। लेकिन इन कार्ड को बनवाने और छपवाने में काफी सारा कागज यूं ही बर्बाद हो जाता है। लेकिन अब आप इसके आसान विकल्प भी ढूंढ सकती हैं। चूंकि अब डिजिटल युग है तो क्यों न आप भी इसका लाभ उडाएं। आप कार्ड पेपर पर छपवाने के स्थान पर ई-कार्ड भेज सकती हैं। इसमें पैसे और समय दोनों की बचत होगी। आप चाहें तो अपने परिजनों को ई-कार्ड देने के साथ-साथ फोन पर भी आमंत्रण दे सकती हैं।

प्लास्टिक कटलरी का उपयोग नहीं

some easy tips to plan an eco friendly wedding inside three

कोई भी शादी फूड, स्नैक्स और पेय पदार्थों के बिना अधूरी है। हालांकि, ज्यादातर मौकों पर भोजन को सर्व करने के लिए प्लास्टिक कटलरी का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन आप प्लास्टिक की जगह  स्टील, बांस, पत्तियों और रियूजेबल मैटिरियल से बनी कटलरी का इस्तेमाल कर सकती हैं। आजकल यह मार्केट में बेहद आसानी से अवेलेबल हैं। इसके अतिरिक्त अगर आप कुछ सस्ता और आकर्षक विकल्प ढूंढ रही हैं तो आप ग्लासेवयर, चाइना प्लेट आदि को रेंट पर ले सकती हैं। इसी तरह कागज के बने टिश्यू पेपर की जगह क्लॉथ टिश्यू का इस्तेमाल किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: शादी को बनाना है टेंशन फ्री, सोशल मीडिया पर भूल से भी शेयर न करें यह बातें

डेकोरेशन का ख्याल

some easy tips to plan an eco friendly wedding inside two

जब वेडिंग की बात होती है तो डेकोरेशन का ख्याल सबसे पहले आता है। लेकिन अगर आप अपनी वेडिंग को ईको-फ्रेंडली बनाना चाहती हैं तो डेकोरेशन पर भी फोकस करें। अगर संभव हो तो आप नेचुरल एनवायरनमेंट को बतौर वेडिंग वेन्यू चुनें। इससे आपका वेडिंग प्लेस नेचुरली खूबसूरत लगेगा। इसके अलावा अगर आप इनडोर में वेडिंग कर रही हैं तो डेकोरेशन में फ्लॉवर से लेकर रियूजेबल चीजें जैसे मिरर, लैंटर्न, वुडन फर्नीचर, वाइन बोतल आदि को डेकोरेशन में इस्तेमाल कर सकती हैं।

खास हो उपहार

some easy tips to plan an eco friendly wedding inside one

शादी किसी भी घर में उत्सव से कम नहीं होती। ऐसे में उपहारों का आदान-प्रदान किया जाता है। लेकिन अपनी शादी में आप कुछ ऐसा तोहफा अपने सभी करीबियों को दें, जो यादगार होने के साथ-साथ पर्यावरण हितैषी भी हो। कोशिश करें कि शादी में आने वाले सभी मेहमानों को मिठाई के साथ-साथ आप एक छोटा पौधा भी उपहारस्वरूप दें। इस तरह आपके एक छोटे से प्रयास से आप धरती को ज्यादा हरा-भरा बना सकती हैं।