कई बार ऐसा होता है कि जब आप किसी से मिलती हैं तो सामने वाला व्यक्ति आपसे काफी कुछ कहना चाहता है, लेकिन कई बार घबराहट या हिचकिचाहट में वह अपनी बात नहीं कह पाता। जिसके कारण कम्युनिकेशन प्रभावी नहीं हो पाता। यह समस्या प्रोफेशनल लाइफ से लेकर पर्सनल लाइफ तक में देखने को मिलती है। कई बार सामने वाला व्यक्ति चाहता है कि आप उसके मन की बात खुद ही समझ लें तो कभी वह अपने स्वभाव के कारण पूरी तरह ओपन अप नहीं हो पाता। ऐसे में उसकी बॉडी लैंग्वेज आपको उसके मन की बात समझने में काफी हद तक मदद मिलती है। हम सभी की बॉडी लैंग्वेज बिना कुछ कहे भी काफी कुछ कह जाती है और अगर आपको दूसरों की बॉडी लैंग्वेज को पढ़ना आता है तो आपके लिए काफी चीजें आसान हो जाती हैं। इतना ही नहीं, आप पर्सनल से लेकर प्रोफेशनल लाइफ में सफलता प्राप्त कर सकती हैं, क्योंकि आप सामने वाले व्यक्ति को अधिक बेहतर तरीके से समझ सकती हैं। किसी की बॉडी लैंग्वेज को पढ़ना एक आर्ट है, जिसके बारे में आज हम आपको बता रहे हैं-

सीधे व झुककर खड़े होना

business people working inside

जब कोई व्यक्ति लंबा और सीधा खड़ा होता है तो इसका अर्थ है कि वह आत्मविश्वास से भरपूर हैं। इस तरह का बॉडी पॉश्चर उनके कॉन्फिडेंस को दर्शाता है। जबकि यदि कोई व्यक्ति हल्का झुक कर खड़ा है तो यह दर्शाता है कि वे घबराए हुए हैं और अंडरकॉन्फिडेंट हैं।

इसे जरूर पढ़ें: ऑफिस में अच्छी हो बॉडी लैंग्वेज तो सहकर्मियों के साथ अच्छे रहेंगे रिश्ते

क्रॉस आर्म्ड

using microphones inside

अगर कोई व्यक्ति अपने हाथों को क्रॉस किए हुए है तो इसका अर्थ यह है कि उस व्यक्ति का माइंड ओपन अप नहीं है और वह नए अप्रोच और नए लोगों के साथ बातचीत के लिए खुला नहीं है। ऐसे लोग जल्द किसी से नहीं घुलते-मिलते।

सिर को हिलाना

colleagues having discussion inside

बातचीत के दौरान सामने वाले व्यक्ति का सिर हिलाना भी काफी कुछ कहता है। मसलन, अगर वह आपके बोलने की रिदम के आधार पर धीरे-धीरे सिर हिलाता है तो इसका अर्थ है कि वह आपकी बातों को गहराई से समझने की कोशिश कर रहा है और वह आपकी बातों से सहमत है। वहीं अगर कोई व्यक्ति बातचीत के दौरान जल्दी-जल्दी सिर हिलाता है तो इसका अर्थ है कि सामने वाला व्यक्ति बातों से थक गया है, हालांकि वह आपको इसे शो नहीं कर रहा। वह बातचीत को जल्द से जल्द खत्म करना चाहता है।

Recommended Video

आई कॉन्टैक्ट बनाना

couple using cellphones inside

अगर बातचीत के दौरान सामने वाला व्यक्ति आपसे आई कॉन्टैक्ट बनाए हुए है तो यह दर्शाता है कि सामने वाला व्यक्ति काफी कॉन्फिडेंट है और वह आपसे बातचीत करने में रूचि रखता है। आई कॉन्टैक्ट एक व्यक्ति तभी बनाता है, जब वह उस बातचीत में आनंद ले रहा होता है।

इसे जरूर पढ़ें: सामान इधर-उधर रख देता है पार्टनर तो गुस्सा करने की जगह अपनाएं यह टिप्स

मधुर मुस्कान

woman office happy professionalsinside

वैसे तो बातचीत के दौरान हमेशा ही एक मुस्कान बनाए रखने की सलाह दी जाती है। लेकिन अधिकतर मुस्कान एक फार्मेलिटी ही होती है। ऐसे में किसी के लिए यह समझ पाना थोड़ा मुश्किल होता है कि वह स्माइल रियल है या फिर महज एक फार्मेलिटी। हालांकि असली मुस्कान को पहचानने के लिए आप एक ट्रिक की मदद ले सकती हैं। मसलन, जब लोग फार्मेलिटी करते हैं तो उनके चेहरे पर सिर्फ एक हल्की सी स्माइल होती है। वहीं, अगर उनकी मुस्कुराहट उनकी आँखों तक पहुँचती है, अर्थात् अगर उनकी आँखों के कोने में उनकी त्वचा सिकुड़ती है तो इसका अर्थ है कि वह उनकी सच्ची मुस्कान है और आप उनके साथ वास्तव में एक अच्छा समय बिता रही हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर करना ना भूलें व इसी तरह के अन्य लेख  पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: Freepik.com