बच्चे के जन्म के बाद मां का काम न सिर्फ़ बढ़ जाता है बल्कि उन्हें हर वक़्त एक्टिव भी रहना पड़ता है। उन्हें यह देखते रहना होता है कि बच्चों के कपड़े कहीं गीले या फिर गंदे तो नहीं हैं, यही वजह है कि शुरुआती दिनों में बार-बार कपड़ा चेंज करने की आवश्यकता होती है। यही नहीं बच्चे काफ़ी नाजुक होते हैं, वह किस चीज़ की एलर्जी से बीमार पड़ सकते हैं, इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता। इसलिए उनके आसपास की सफ़ाई के अलावा कपड़ों का भी साफ़ होना बेहद ज़रूरी है।

वहीं बच्चों के कई सारे कपड़े होते हैं, उन्हें सही तरीक़े से रखना बहुत ज़रूरी होता है। डायपर, शूज, गर्मी और ठंड के कपड़े, और मोज़े आदि जैसी कई चीज़ें होती हैं, जो एक बार खो जाने के बाद ढूढ़ने में समस्या हो सकती है। वहीं बच्चों के कपड़ों को कहीं भी रखने के बजाय एक ख़ास और स्वच्छ जगह पर रखें। वहीं बच्चों के कपड़ों को स्टोर करने के लिए इन आसान टिप्स को आप फ़ॉलो कर सकती हैं।

कपड़ों को रखने के लिए बनाएं कम्पार्टमेंट

clothes in compartment

कम्पार्टमेंट बना देने से आप यह तय कर पाएंगी कि कौन से कपड़े को कहां और कैसे रखना है। इससे आपका कमरा भी फैला हुआ नज़र नहीं आएगा। कम्पार्टमेंट से स्पेस का सही तरीक़े से इस्तेमाल किया जा सकता है। बच्चों के छोटे-छोटे कपड़े जब खो जाते हैं तो उन्हें ढूढ़ने में काफ़ी परेशानी होती है। कम्पार्टमेंट सेट करने से आप कपड़ों को तह कर के एक जगह रख सकती हैं। वहीं इससे कपड़ों की मैचिंग जैसी चीज़ों को भी सेट कर के रखा जा सकता है।

प्लास्टिक कंटेनर का उपयोग

plastic container

बच्चों के कपड़े काफ़ी छोटे होते हैं उन्हें फोल्ड कर के नहीं रखा जा सकता है। ऐसे में आप चाहें तो प्लास्टिक के कंटेनर में कपड़ों को रख सकती हैं वॉर्डरोब या फिर अन्य कम्पार्टमेंट में कपड़े रखने से अक्सर वे खो जाते हैं, ऐसे में आप प्लास्टिक के कंटेनर का उपयोग भी कर सकती हैं। आप चाहें तो छोटे-छोटे कंटेनर का इस्तेमाल कर सकती हैं, जिसे वॉर्डरोब में भी रखा जा सकता है। इससे कपड़े लंबे वक़्त तक सुरक्षित रहेंगे।

इसे भी पढ़ें: Easy Hacks: इस तरह सिलाई मशीन का आप भी रखें ध्यान, कभी नहीं होगी ख़राब

मेश बैग्स का इस्तेमाल करें

mash bags

कई बार बच्चों के गंदे कपड़े रूम के फ़र्श पर पड़े नज़र आते हैं। गंदे हो जाने के बाद बच्चों के कपड़ों को एक मेश बैग में डाल दें। जब आप कपड़े धोने जाएं तो इससे सारे कपड़ों को निकाल कर आसानी से धो सकती हैं। बता दें कि फ़र्श पर बच्चों के कपड़े पड़े रहने से न सिर्फ़ कीटाणू फैलने का डर रहता है बल्कि कपड़े जल्दी साफ़ भी नहीं होते हैं। वहीं बच्चों के कपड़ों को डिटर्जेंट से साफ़ करने के बाद डेटोल के पानी से रिंस करना न भूलें।

Recommended Video

कपड़ों को सुखाने के लिए हैंगर का इस्तेमाल

using hanger

बड़ों के अलावा बच्चों के कपड़ों को भी सुखाने के लिए हैंगर का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। छोटे-छोटे कपड़ों को क्लिप की मदद से हैंगर पर लटकाएं और उन्हें धूप में सूखने के लिए छोड़ दें। कुछ देर बाद इसे अंदर ले आएं और प्लास्टिक कंटेनर में पैक कर के रख दें।

इसे भी पढ़ें: Easy Hacks: बड़े काम का है नेल पेंट रिमूवर, इन मज़ेदार कामों में करें इस्तेमाल

जरूरी सामान के लिए उपयोग करें बास्केट

cloths in basket

कपड़ों के अलावा कई ऐसी चीज़ें होती हैं, जिसकी ज़रूरत बच्चों को हर वक़्त पड़ती रहती है, जैसे डायपर। इन चीज़ों को रखने के लिए आप वुडेन बास्केट का इस्तेमाल कर सकती हैं। ज़रूरत पड़ने पर आप इन बास्केट से सामान निकालें और इस्तेमाल कर लें।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।