अक्सर कई महिलाओं को घर पर ही कपड़े सिलाई करने का बहुत मन करता है। इस शौक को पूरा करने के लिए कई महिलाएं घर पर ही सिलाई मशीन रखती हैं। जब भी समय मिलता है महिलाएं कपड़ा सिलाई करने बैठ जाती है। नई मशीन होने के चलते कुछ दिनों तक तो मशीन ठीक से काम करती हैं, लेकिन कुछ समय बाद सिलाई मशीन में छोटी-छोटी समस्या आने पर मशीन को वैसे ही छोड़ देती हैं।

अगर समय पर मशीन की देखभाल नहीं की जाती है, तो बहुत जल्दी ख़राब भी हो जाती है। मशीन में मौजूद छोटे-छोटे उपकरणों की सफाई नहीं करने पर ठीक से काम भी नहीं करती है सिलाई मशीन। ऐसे में अगर कुछ बुनियादी चीजों पर ध्यान दिया जाए तो मशीन को ख़राब होने से आप रोक सकती हैं। आज इस लेख में हम आपके साथ कुछ टिप्स शेयर करने जा रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप सिलाई मशीन को ख़राब या न चलने से बचा सकती हैं। तो आइए जानते हैं इन टिप्स के बारे में।

नियमित ग्रीसिंग करें 

sewing machine care and maintenance inside

सिलाई मशीन एक ऐसी चीज है, जिसे नियमित समय पर ग्रीसिंग नहीं की जाती है, तो तुरंत ख़राब होने का डर रहता है। इसके लिए जिन स्थानों पर तेल या ग्रीसिंग करने की जगह है, वहां आप नियमित समय पर और इस्तेमाल करने से पहले तेल या ग्रीसिंग ज़रूर करें। इससे मशीन बिना रुकावट के और अच्छे से काम करती है। कभी-कभी तेल नहीं डालने से मशीन में धागे फंस भी जाते हैं और सिलाई भी ठीक से नहीं होती है। इसलिए इसका ज़रूर ध्यान रखें।

इसे भी पढ़ें: Easy Hacks: कैंची की धार बढ़ाने के लिए अपनाएं ये घरेलू हैक्स

इन सामानों पर तेल न डालें 

sewing machine care and maintenance inside

मशीन में ऐसी कई जगह भी है, जहां तेल डालने की ज़रूरत नहीं होती है। कभी-कभी जानकारी के अभाव में महिलाएं इन जगहों पर भी तेल डालने लगती हैं। सुई, शटल प्वाइंट, बॉबिन, धागे कसने के डिस्क तथा रबर रिंग ऐसी जगह और चीज है जहां आपको तेल या ग्रीसिंग करने से बचाना चाहिए। तेल डालने के बाद आप एक बार पुराने कपड़े पर मशीन को चलाकर ज़रूर देखें कि मशीन ठीक से काम कर रही है की नहीं।

जब मशीन भारी चलें 

sewing machine care and maintenance inside

कभी-कभी मशीन की अच्छे से देखभाल नहीं करने पर सिलाई मशीन भारी-भारी चलती है। ऐसा लगता है कि मशीन चलाने के लिए जोर लगाना पड़ रहा है। ऐसे में आप शटल केस के दोनों पेंच ढीले करके उसे बाहर निकालें और फिर किसी पुराने कपड़े पर एक बार चलाकर देख लीजिये। आप शटल केस को निकालकर एक बार अच्छे से सफाई भी कर लीजिये। इस बीच सुई लगाने वाली पेंच पूरी तरह देख लें कि सुई टेड़ा-मेढ़ा तो नहीं है, और क्या धागा ठीक से सुई के अंदर फंसा है की नहीं। (वॉशिंग मशीन को सालों साल चलाने के लिए अपनाएं यह टिप्‍स)

Recommended Video

अगर मशीन इलेक्ट्रॉनिक हो 

sewing machine care and maintenance inside

कई सिलाई मशीन ऐसी होती है, जिन्हें पैरों की मदद से चलाई जाती है, और कई मशीन ऐसी भी होती है, जो बिजली के द्वारा चलती है। हालांकि, दोनों की देखरेख बराबर ही होती हैं। लेकिन, बिजली से चलने वाली मशीन थोड़ी अलग होती हैं। इलेक्ट्रॉनिक सिलाई मशीन की देखरेख के लिए आप नियमीय समय पर  सुई, शटल प्वाइंट, बॉबिन, धागे कसने के डिस्क तथा रबर रिंग आदि जगहों की सफाई करती रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: Easy Hacks: बच्चों के कपड़े में लगे चॉकलेट-आइसक्रीम के दाग को हटाने के आसान हैक्स

अन्य जानकारी 

sewing machine care and maintenance inside

मशीन के इस्तेमाल के बाद हमेशा किसी कपड़े या कवर से ढककर ही रखें। मशीन में कभी भी इतना तेल न डालें कि कपड़े ख़राब हो। इस्तेमाल के बाद मशीन से धागे को बाहर निकालकर रखें। धागा हमेशा किसी अच्छी क्वालिटी का ही प्रयोग करें। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@royalalbertamuseum.ca,designmycostume.com)