फ्रेश हर्ब्स और घर की सुंदरता को बढ़ाने के लिए लोग प्लांटिंग करना अधिक पसंद करने लगे हैं। कुछ लोग अपने घर में सजावटी पौधों के साथ-साथ उपयोगी पौधे लगाने का भी शौक रखते हैं। आजकल बहुत-से लोग स्टीविया का पौधा भी लगाने लगे हैं क्योंकि यह एक ऐसा औषधीय पौधा है, जिसे शुगर प्लांट भी कहा जाता है। स्टीविया शुगर के मरीजों के लिए बहुत उपयोगी है। इसके पौधे को गमलों, घर या खेतों में आसानी से उगाया जा सकता है।

आपको बता दें कि स्टीविया में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीऑक्सीडेंट गुण होने के साथ-साथ कैल्शियम, जिंक, आयरन, फास्फोरस, कॉपर, मैगनीज आदि जैसे पोषक तत्व भी मौजूद होते हैं। साथ ही, यह प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी एक अहम भूमिका अदा करता है। इसके अलावा, घर में स्टीविया पौधे की प्लांटिंग करने के लिए बहुत अधिक पैसे भी खर्च नहीं होते हैं, इसलिए स्टीविया प्लांट को हर वर्गीय परिवार आसानी से लगा सकते हैं।

अगर आप भी स्टीविया का पौधा लगाना चाहती हैं, तो आज इस आर्टिकल में हम आपको स्टीविया पौधा लगाने के बारे में बताने जा रहे हैं। इन टिप्स को अपनाकर आप भी आसानी से गमले में घर पर स्टीविया का पौधा उगा सकती हैं, तो आइए जानते हैं.. 

पौधा लगाने के लिए सामग्री 

how to stevia plants

पौधे को लगाने के लिए आपको कुछ चीजों की ज़रूरत पड़ेगी। अगर आपके पास यह कुछ चीजें नहीं हैं, तो आप यह बाज़ार से भी खरीद सकती हैं। तो आइए जान लेते हैं वह क्या है...

  • पौधे की कटिंग या बीज 
  • गमला
  • मिट्टी
  • खाद
  • पानी

पौधा लगाने की विधि

plants at home

  • स्टीविया की कटिंग या बीज को गमले में लगाने के लिए सबसे पहले आप मध्यम या बड़ा आकार का अपनी इच्छानुसार गमला लें।
  • अब आप 50% कोको-पीट और 50% वर्मीकम्पोस्ट (केंचुआ खाद या गोबर) लें और दोनों को अच्छी तरह से मिला लें। फिर इसे गमले में भर दें।
  • पॉटिंग मिक्स हो जाने के बाद बीज या कटिंग (स्टीविया की) लें। कटिंग लेते समय टहनी को तिरछा काटें या अगर आपके पास बीज हैं, तो उसे गमले में लगा दें।
  • कटिंग या बीज को लगाने के बाद अब बारी आती है गमले में पानी डालने की, तो अब आप उचित मात्रा में गमले में अच्छी तरह से पानी डाल दें

अब आपका गमला पूरी तरह से तैयार है लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि कल ही यह पौधा बड़ा हो जाएगा। पौधे की ग्रोथ होने में काफी टाइम लगता है, तो आप थोड़ा सब्र करें। अगर आपको स्टीविया पौधे की कटिंग नहीं मिल रही है, तो आप नर्सरी से भी पौधा खरीदकर ला सकती हैं।

 

अन्य टिप्स 

  • आप रोजाना गमले में नियमित रूप से पानी डालें।
  • गमले में लगे कटिंग या बीज को आप लगभग 20 दिनों के बाद चेक कर सकती हैं। साथ ही, अगर आपकी कटिंग पूरी तरह से अंकुरित (फैलाव आना) हो गई है, तो समझ लीजिए आपका पौधा सही उगा है।
  • ध्यान रहे कि गमले पर सीधी धूप पड़े क्योंकि इस पौधे को धूप की जरूरत होती है। 
  • इस गमले की थोड़ी ग्रोथ लगभग 20 से 25 दिनों के बाद होना शुरू होगी और लगभग 90 दिन के बाद इसमें फूल आ जाते हैं। 

Recommended Video

  • इसके पौधे को अगर आपको जमीन में रोपना हो, तो इसके लिए 15 सेंटीमीटर ऊंचे और दो फीट चौड़ी मेड़ बनाकर पौधा लगाएं।
  • पौधे को रोपने के समय फास्फोरस, नाइट्रोजन और पोटाश को मिट्टी में गोबर की खाद के साथ इस्तेमाल करें।
  • 4 महीने के बाद आप पौधे की नियमित रूप से कटाई कर सकती हैं। 
  • पौधे में किसी भी तरह की कीटनाशक या रासायनिक युक्त खाद का सीधा इस्तेमाल ना करें।
  • अगर आप पौधे में कीड़ों को लगने से रोकना चाहती हैं, तो नीम के तेल को पानी में घोलकर इसका स्प्रे बनाकर इस्तेमाल करें।  

इन टिप्स को अपनाकर आप भी आसानी से स्टीविया का पौधा घर में ही उगा सकती हैं। आपको ये लेख पसंद आया हो इसे लाइक और शेयर जरूर करें। साथ ही जुड़ी रहें हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit-(@Freepik)