इस कोरोना महामारी के दौर में घर का स्वच्छ और स्वस्थ पर्यावरण होना बहुत जरूरी है। अब फ्रेश हर्ब्स के लिए लोग घरों में प्लांटिंग करना अधिक पसंद करने लगे हैं। इस दौरान लोग गिलोय का पौधा भी अधिक लगाने लगे हैं क्योंकि यह एक औषधीय पौधा है और इसका सेवन करने से कई बीमारियों का इलाज किया जाता है। 

गिलोय में एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीऑक्सीडेंट गुण होने के साथ कैल्शियम, जिंक, आयरन, फास्फोरस, कॉपर, मैगनीज जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं। साथ ही, यह प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी एक अहम भूमिका अदा करता है। इसके अलावा, यह बुखार को भी ठीक करता है इसलिए गिलोय प्लांट को हर वर्गीय परिवार प्राथमिकता देने लगे हैं।

अगर आप भी गिलोय का पौधा लगाना चाहती हैं, तो आपको बता दें कि घर में गिलोय पौधे की प्लांटिंग करना बहुत आसान है। साथ ही, गिलोय पौधे को लगाने के लिए अधिक पैसे भी खर्च नहीं होते हैं। तो चलिए आज इस आर्टिकल में हम आपको गिलोय पौधा लगाने के कुछ टिप्स बारे में बताने जा रहे हैं। इन टिप्स को अपनाकर आप भी आसानी से गमले में घर पर गिलोय का पौधा उगा सकती हैं, तो आइए जानते हैं.. 

पौधा लगाने के लिए सामग्री 

how to grow giloy plants in hindi

पौधे को लगाने के लिए आपको कुछ चीजों की ज़रूरत पड़ेगी। अगर आपके पास यह चीजें नहीं हैं, तो आप बाज़ार से भी खरीद सकती हैं। तो आइए जान लेते हैं...

  • गिलोय पौधे की राइजोम या कटिंग 
  • गमला
  • मिट्टी
  • खाद
  • पानी

पौधा लगाने की विधि

giloy plants T HOME

  • गिलोय की कटिंग या राइजोम को गमले में लगाने के लिए सबसे पहले आप मध्यम या बड़ा आकार का अपनी इच्छानुसार गमला लें।
  • अब आप 50% कोको-पीट और 50% वर्मीकम्पोस्ट (केंचुआ खाद या गोबर) लें और दोनों को अच्छी तरह से मिला लें। फिर इसे गमले में भर दें।
  • पॉटिंग मिक्स हो जाने के बाद राइजोम या कटिंग लें। कटिंग लेते समय टहनी को तिरछा काटें और गमले में लगा दें।
  • कटिंग को लगाने के बाद अब बारी आती है गमले में पानी डालने की। तो अब आप उचित मात्रा में गमले में अच्छी तरह से पानी डाल दें।

अब आपका गमला पूरी तरह से तैयार है लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि कल ही इसमें पौधा बड़ा हो जाएगा। पौधे की ग्रोथ होने में काफी टाइम लगता है, तो आप थोड़ा सब्र करें। अगर आपको गिलोय पौधे की कटिंग नहीं मिल रही है, तो आप नर्सरी से भी पौधा खरीदकर ला सकती हैं या बीज का भी प्रयोग कर सकती हैें।

Recommended Video

अन्य टिप्स 

step to grow giloy plants

  • आप रोजाना गमले में नियमित रूप से पानी डालें लेकिन पौधे में केवल नमी बनाए रखने के लिए।
  • पौधों के बेहतर विकास के लिए दोमट मिट्टी उपयुक्त है क्योंकि इसमें उच्च पोषक तत्व एवं जल धारण करने की क्षमता अधिक होती है। 
  • अगर आपको गमलों में पौधों का रोपण करना है, तो दोमट मिट्टी के साथ कुछ चीज़े मिला सकती हैं। 
  • आप कोको पीट और केंचुआ खाद का भी उपयोग कर सकती हैं। 
  • गमले में लगे कटिंग को आप लगभग 20 दिनों के बाद चेक कर सकती हैं। साथ ही, अगर आपकी कटिंग पूरी तरह से अंकुरित (फैलाव आना) हो गई है, तो समझ लीजिए आपका पौधा सही उगा है।
  • ध्यान रहे कि गमले पर सीधी धूप न पड़े। 
  • इस गमले की थोड़ी ग्रोथ लगभग 20 से 25 दिनों के बाद होना शुरू होगी।
  • इस पौधे को बहुत ज्यादा देखभाल की जरूरत नहीं होती है। आप महीने में एक बार खाद डाल सकती हैं। 
  • साथ ही, इस पौधे को सर्दियों में ना लगाएं क्योंकि सर्दियों के मौसम में इसकी ग्रोथ नहीं होती है। 

इन टिप्स को अपनाकर आप आसानी से गिलोय का पौधा घर में ही उगा सकती हैं। आपको ये लेख पसंद आया हो इसे लाइक और शेयर जरूर करें साथ ही जुड़ी रहें हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (Freepik)