पान का पत्ता जिसे बेटल लीफ के नाम से जाना जाता है। लगभग हर शुभ कार्य की शुरुआत में और पूजा-पाठ में इसका इस्तेमाल किया जाता है। पान का पत्ता भारतीय फ़ूड कल्चर का न सिर्फ एक नायब खाद्य है बल्कि कई बेहतरीन औषधीय गुणों का भंडार भी है। पान के पत्तों में एक नहीं बल्कि कई विटामिन भी होते हैं। कई बार हेल्थ को दुरुस्त रखने के लिए पान के पत्ते चमत्कार साबित भी होते हैं।

लेकिन, हर बाज़ार से जाकर पान का पत्ता खरीदना किस-किसी के लिए संभव नहीं होता है। ऐसे में ज़रूरी हो जाता है कि घर के बगीचे में ही इसे उगाया जाए। जी हां, अगर आपको गार्डन का शौक है, तो आप कुछ ही दिनों में आसानी से गमले में पान के पौधे को उगा सकती हैं। इसके लिए आपको कुछ सामग्री की ज़रूरत पड़ेगी, तो आइए जानते हैं। 

 इन चीजों की ज़रूरत पड़ेगी 

tips to grow paan betel plant

  • बीज
  • खाद
  • गमला
  • पानी
  • मिट्टी 

सही बीज का चुनाव कैसे करें?

how to grow paan betel plant tips

किसी भी सब्जी या पौधे को उगाने के लिए सबसे ज़रूरी है बीज का सही होना। अगर बीज सही नहीं है, तो आप कितना भी मेहनत कर लीजिए पौधे कभी भी बड़े नहीं होते हैं। इसलिए घर पर पान का पौधा लगाते समय सबसे पहले अच्छे बीज का चुनाव करें। सही बीज खरीदने के लिए इधर-उधर न जाकर किसी बीज भंडार से आप बीज को खरीद सकती हैं। अमूमन बीज भंडार में बीज अच्छे मिल जाते हैं

इसे भी पढ़ें: घर पर बहुत आसानी से उगाया जा सकता है रजनीगंधा, बस फॉलो करने होंगे ये आसान स्टेप्स

मिट्टी को तैयार करें 

how to grow paan betel plant in pot

बीज खरीदने के बाद आप मिट्टी को तैयार करें। इसके लिए जिस मिट्टी को गमले में डालना है उसे एक से दो बार अच्छे से खुरेंच दीजिए और कुछ देर धूप में रख दें। धूप में रखने के बाद मिट्टी में खाद को डालकर अच्छे से मिक्स कर लें और मिट्टी को गमले में डाल दें। इससे मिट्टी सॉफ्ट हो जाती है और खाद भी अच्छे से मिल जाती है। इसके बाद बीज को गमले में लगभग 2-3 इंच मिट्टी के अंदर डालें। बीज लगाने के बाद गमले को ऐसी जगह रखें जहां धूप का असर अधिक न हो। (ऐसे उगाएं करी पत्ते का पौधा)

Recommended Video

खाद का चुनाव 

grow paan betel plant

मिट्टी तैयार करने और बीज लगाने के अलावा खाद पर भी ध्यान देने की भी जरूरत है। खाद के रूप में आप जैविक या फिर कम्पोस्ट खाद का इस्तेमाल कर सकती हैं। रासायनिक खाद अक्सर पौधे को नुकसान पहुंचा देते हैं। ऐसे में आप बचे हुए चावल, केला, पपीता, आम इत्यादि के छिलके को खाद के रूम में भी इस्तेमाल कर सकती हैं। बीज लगाने के बाद ऊपर से हल्का खाद भी डाल सकती हैं। 

इसे भी पढ़ें: घर आप आसानी से उगा सकती हैं गमले में हरी मिर्च का पौधा, जानिए कैसे

बीज लगाने के बाद कैसे करें उसकी देखभाल?

  • पान का बीज लगाने के बाद उसकी देखभाल के लिए समय-समय पर पानी देना न भूलें। पानी न अधिक होना चाहिए और न ही कम। जब लगे की मिट्टी सुख रही है, तो आप पानी डाल सकती हैं।
  • लगभग 2 हफ्ते के बाद बीज अंकुरित होने लगते हैं। बीज अंकुरित होने बाद एक से दो बार खाद को भी ज़रूर डालें। खाद के साथ हल्का पानी भी डाल सकती हैं।
  • 3-4 हफ्ते बाद गमले के बीज में एक लकड़ी लगा दें ताकि इसके सहारे पान की जड़ ऊपर की ओर निकले। लगभग 5-6 हफ्ते के बाद पान के पत्ते तैयार हो जाते हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@cdn.net,cdn.shopify.com)