स्पाइडर प्लांट सबसे खूबसूरत इंडोर हाउसप्लांट में से एक है। यहां तक कि इसे बिना अतिरिक्त देखभाल के ही आसानी से कहीं भी रखा जा सकता है और घर की खूबसूरती बढ़ाई जा सकती है। स्पाइडर प्लांट देखने में खूबसूरत तो लगता ही है साथ ही यह एक अच्छे एयर प्यूरीफायर की तरह भी काम करता है। यह एक ऐसा पौधा है जिसे घर के किसी भी कोने में सजाकर रखा जा सकता है और ये घर की शोभा बढ़ा देता है।

इस पौधे में लंबी, संकरी पत्तियां होती हैं जो गमले के किनारे पर लिपटी होती हैं जो वास्तव में बेहद खूबसूरत नज़र आती हैं। लेकिन कई बार इस पौधे की देखभाल में अनदेखा कर देना इसे खराब कर सकता है और ये पौधा समय से पहले ही मर सकता है। खासतौर पर गर्मी के मौसम में इसको थोड़ी सी देखभाल की जरूरत होती है जिससे ये अपनी खूबसूरती बनाए रखे। आइए जानें किस तरह से गर्मी के मौसम में इस पौधे की केयर की जा सकती है जिससे इसकी खूबसूरती बनी रहे। 

स्पाइडर प्लांट की मुख्य समस्याएं 

spider plant problems

स्पाइडर प्लांट की मुख्य समस्याओं में एक है इसमें ज्यादा पानी की मात्रा की वजह से इसकी पत्तियों का भूरा या पीला होना। आपके स्पाइडर प्लांट पर भूरे रंग के पत्ते एक संकेत हो सकते हैं कि आप अधिक पानी दे रहे हैं। लेकिन यह भी ध्यान रखें कि गर्मी के मौसम में मिट्टी को बहुत अधिक समय तक सूखने न दें, लेकिन जड़ों में जलभराव न होने दें। 

इसे जरूर पढ़ें:घर में जरूर लगाएं स्पाइडर प्लांट, जानें इसके फायदे

स्पाइडर प्लांट को कैसी जगह पर रखें 

गर्मियों में स्पाइडर प्लांट की देखभाल के लिए अच्छी जल निकासी वाली मिट्टी या पोटिंग माध्यम चुनें। यदि आपका स्पाइडर प्लांट कमरे के बाहर रखा है, तो इसे अच्छी तरह से सूखी मिट्टी वाले क्षेत्र में लगाएं। इसे ऐसी मिट्टी में लगाएं जिसमें रेत हो। यदि आपका स्पाइडर प्लांट गमले में घर के अंदर है, तो वर्मीक्यूलाइट या कोको कॉयर जैसे पॉटिंग माध्यम का चयन करें। मिट्टी के बारे में ज्यादा चिंता न करें, क्योंकि स्पाइडर प्लांट किसी भी मिट्टी में आसानी से विकसित हो जाते हैं। 

स्पाइडर प्लांट के लिए धूप और प्रकाश की व्यवस्था

light for spider plant 

स्पाइडर प्लांट को बहुत अधिक धूप की आवश्यकता नहीं होती है। इसलिए ये घर के भीतर भी अच्छी तरह से पनप सकते हैं। गर्मी के मौसम में सबसे ज्यादा ध्यान देने वाली बात ये है कि स्पाइडर प्लांट धूप में न रखा जाए। स्पाइडर प्लांट खिड़कियों में भी पनपते हैं। हालांकि उन्हें वसंत और गर्मियों के महीनों के दौरान दक्षिण की ओर वाली खिड़कियों से लगभग 12 इंच दूर स्थापित किया जाना चाहिए। बाहरी पौधों में दिन के दौरान मध्यम से गहरी छाया होनी चाहिए, क्योंकि बहुत अधिक सीधी धूप स्पाइडर प्लांट को झुलसा सकती है। 

स्पाइडर प्लांट को कितना पानी देना चाहिए  

watring for spider plant

अपने स्पाइडर प्लांट को हमेशा ओवरवॉटरिंग से बचाएं। ऐसा करने से इसकी जड़ें सड़ सकती हैं और ये मर सकता है। इसमें कभी भी सीधे नल का पानी न दें। इसमें RO या बिसलेरी का पानी दें या बारिश के पानी से इसकी सिंचाई करें। बहुत ज्यादा ठंडा या गरम पानी न दें। इसे सामान्य तापमान का पानी देना ही ठीक है। पानी को कमरे के तापमान पर रखा जाना चाहिए, क्योंकि ठंडा या गर्म पानी आपके पौधों को खराब कर सकता है और उन्हें कमजोर कर सकता है।

इसे जरूर पढ़ें:गर्मियों में खराब हो रहा है क्रोटन का पौधा, तो ऐसे करें देखभाल

Recommended Video

स्पाइडर प्लांट के लिए कैसी हो उर्वरक

वसंत और गर्मियों के दौरान स्पाइडर प्लांट को महीने में 1 से 2 बार खाद दें। बढ़ते मौसम के दौरान स्पाइडर प्लांट के लिए एक सामान्य तरल उर्वरक का उपयोग करें। तरल उर्वरक दानेदार उर्वरकों की तुलना में बेहतर परिणाम प्रदान करती है। पौधे के आधार पर मिट्टी में कितना घोल लगाना है, यह जानने के लिए उर्वरक के निर्देशों का पालन करें। 

स्पाइडर प्लांट के लिए आवश्यक बातें 

how to care spider plant

  • पौधे को एक ऐसे कमरे में उज्ज्वल से मध्यम प्रकाश में रखें जो सभी के लिए आरामदायक हो।
  • इस पौधे को ज्यादा पानी की जरूरत नहीं होती है इसलिए गमले की मिट्टी को थोड़ा सा नम रखें। 
  • खासतौर पर वसंत और गर्मियों में सप्ताह में एक बार पानी देना पर्याप्त है।  
  • कुछ हाउसप्लांट जिनमें स्पाइडर प्लांट भी शामिल हैं- नल के पानी में फ्लोराइड के प्रति संवेदनशील होते हैं। 
  • इसलिए स्पाइडर प्लांट के लिए वॉटर प्यूरीफाई पानी का इस्तेमाल करें या वर्षा के जल का उपयोग करें।
  • निर्देशों का पालन करते हुए, संतुलित हाउसप्लांट उर्वरक के साथ हर दो से तीन सप्ताह में इसमें खाद डालें।

उपर्युक्त सभी युक्तियों का पालन करके स्पाइडर प्लांट को गर्मी के मौसम में खराब होने से बचाया जा सकता है। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik