नींबू का इस्तेमाल घरों में बहुतायत में होता है और ऐसे कई घर होते हैं जहां पर नींबू का पेड़ भी लगाया जाता है। नींबू का पेड़ लगाना तो आसान है, लेकिन उसे मेंटेन करना और फिर फलों का इंतज़ार करना बहुत ही ज्यादा मुश्किल। वैसे तो नींबू का पेड़ अगर सही तरह से लगाया जाए तो 2-3 साल में ही ये फल देने लगता है, लेकिन कई लोगों के साथ ये दिक्कत होती है कि उनका पेड़ फल या फूल नहीं देता है। 

सबसे पहले तो ये जानना बहुत जरूरी है कि कहीं आपका पौधा स्ट्रेस में तो नहीं है (ये कम उम्र वाले पेड़ों के साथ होता है)। 2-3 साल से ज्यादा का पौधा अगर हो गया है तो प्लांट स्ट्रेस कम होगा, लेकिन कम उम्र के पेड़ के साथ ऐसा अक्सर होता है। 

आखिर क्यों पौधे में नहीं आ रहे फल-

नींबू के पौधे में अगर फल नहीं आ रहे हैं तो उसके पीछे ये कारण हो सकते हैं-

  • नींबू के पेड़ को पर्याप्त न्यूट्रिशन नहीं मिल रहा है। 
  • बहुत ज्यादा खराब मौसम है यानि जरूरत से ज्यादा बारिश, गर्मी, ह्यूमिडिटी या ठंड का होना। 
  • बहुत ज्यादा पानी देना भी एक बड़ी समस्या होती है। 
  • पेड़ से फूलों का गिर जाना।
  • गार्डन में पोलिनेटर्स (मक्खियां, भुनगे आदि) का न होना। 
  • गार्डन की मिट्टी उपजाऊ ना होना।
  • जरूरत से ज्यादा खाद का इस्तेमाल करना। 
  • पौधे की मिट्टी का सख्त हो जाना। 
  • पौधे को पर्याप्त धूप ना मिलना। 
lemon tree flowers

ये सारे कारण आपके नींबू के पौधे की ग्रोथ को रोकते हैं और आपको ज्यादा परेशान कर सकते हैं। तो चलिए ये जानते हैं कि नींबू के पौधे में किस तरह से ज्यादा फल लाए जा सकते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें- आप भी कभी नींबू के छिलके नहीं फेंकेंगे अगर आपको पता होगी ये ट्रिक

1. सूरज की धूप -

नींबू के फूल गिरे नहीं और फल भी ठीक से पकें इसके लिए आपको ये ध्यान रखना चाहिए कि उस पेड़ को 6 घंटे लगभग पूरी धूप मिले। अगर ऐसा नहीं होगा तो वो पेड़ ठीक से पनप नहीं पाएगा और फिर फल तो भूल ही जाएं। नींबू का पेड़ पॉट में भी फल देने लगता है इसलिए आपको ये ध्यान रखना होगा कि वो अच्छी धूप वाली जगह में ही रखा हो। 

lemon tree fruits

2. पानी देते समय रखें इन बातों का ध्यान-

नींबू का पेड़ थोड़ी ज्यादा केयर मांगता है और पानी ज्यादा या कम दोनों हो जाए तो ये आपको मुश्किल में डाल सकता है। सबसे पहली गार्डनिंग टिप यही है कि आप पानी सही मात्रा में डालें-

  • मिट्टी नम हो तो पानी न दें।
  • मिट्टी को पूरा सूखने भी ना दें वर्ना पेड़ को नुकसान पहुंचेगा। 
  • अगर मिट्टी सतह से 1 इंच नीचे तक सूख गई है तो अच्छे से गमले को पानी से भर दें जब तक पानी निकलने न लगे और फिर 3-4 दिन तक उसमें पानी न डालें। 
  • नींबू के पौधे की मिट्टी पोरस होनी चाहिए तभी वो अच्छे से फलता-फूलता है।  
leom on tree

3. फर्टिलाइजर का ध्यान-

ओवर फर्टिलाइज या अंडर फर्टिलाइज करना आपके पौधे को परेशान कर सकता है और ये फूलों के गिरने और फल ना आने का सबसे अहम कारण हो सकता है।  

  • हमेशा सिट्रस पौधों के लिए नाइट्रोजन से भरपूर फर्टिलाइजर लेकर आएं। 
  • साल में चार बार (हर तीन महीने में) आपको फर्टिलाइजर देना चाहिए। 
  • इससे ज्यादा फर्टिलाइजर आपको पौधों को खराब कर सकता है। 
  • मिट्टी को हमेशा पहले खोदें और फिर फर्टिलाइजर दें।  

इसे जरूर पढ़ें- इस आसान रेसिपी से बनाएं खट्टा-मीठा नींबू का अचार वो भी बिना तेल के 

4. तापमान का रखें ध्यान- 

बहुत ज्यादा खराब मौसम है तो आप अपने पौधे को शेड में रखें। हर तरीके का एक्सट्रीम तापमान छोटे नींबू के पौधे के लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है। अगर पौधा बड़ा हो चुका है तब तो ज्यादा दिक्कत नहीं होगी, लेकिन छोटे पौधे को थोड़ा बचाकर रखना होगा।  

Recommended Video

5. पौधे को करें प्रून- 

पौधे की प्रूनिंग बहुत जरूरी होती है जिससे वो और बढ़े। हर बार मौसम बदलने के साथ ही ऊपर से पौधे की छंटाई बहुत जरूरी है। ऐसे में पौधा खराब होने से बच सकता है। साथ ही अगर उसमें कीड़े लग रहे हों या फिर उसकी पत्तियों में कोई बीमारी लग रही हो तो इससे बचा जा सकता है।  

प्रून किए हुए पौधे के बढ़ने की गुंजाइश ज्यादा होती है।  

अगर आप ये सारे ट्रिक्स फॉलो करेंगे तो नींबू के पेड़ में जल्दी फल आएंगे। अगर आप नींबू को अपने हाल पर छोड़ देते हैं और कोई टिप फॉलो नहीं करते तो आपका नींबू का पौधा 4-5 साल भी लगा सकता है फल देने में।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।