• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

कौन थे हनुमान जी के पांच भाई, जानिए उनके परिवार से जुड़े ये फैक्ट

हनुमान जी को हमेशा से राम भक्त के रूप में जाना जाता है। आज हम आपको बताएंगे हनुमान जी के परिवार से जुड़े हुए कुछ फैक्ट के बारें में। 
author-profile
Published -19 Sep 2022, 16:54 ISTUpdated -19 Sep 2022, 16:54 IST
Next
Article
how many members are in hanuman ji family

हनुमान जी राम जी के भक्त थे यह तो सभी जानते हैं और हनुमान जी ने अपना पूरा जीवन राम जी की सेवा में पूरी तरह से समर्पित किया था। इसके बारें में श्रीरामचरितमानस में भी बताया गया है।

लेकिन हनुमान जी के भाईयों के बारे में और उनके परिवार के बारे में बहुत कम लोगों को जानकारी है। तो आज हम आपको बताएंगे कि हनुमान जी के भाई कौन कौन थे और उनके परिवार में कितने सदस्य थे।

हनुमान जी के पांच भाइयों के नाम  

hanuman ji family

आपको बता दें कि ब्रह्मांडपुराण नाम के एक ग्रंथ में हनुमान जी बारे में कुछ बातें बताई गई हैं जिसका उल्‍लेख दूसरी जगहों पर नहीं मिलता है। 

ब्रह्मांडपुराण के अनुसार अपने भाइयों में हनुमान जी को सबसे बड़े थे। इसके बाद उनके बाकि 5 भाई थे जिनका नाम मतिमान, श्रुतिमान, केतुमान, गतिमान और धृतिमान था। इन सभी के नामों के बारे में इस ग्रंथ में बताया गया है। पर क्या आप जानते हैं कि महाभारत काल में पांडु पुत्र व अति बलशाली भीम को भी हनुमान जी का ही भाई कहा गया है।

इसे जरूर पढ़ें:इस मंदिर में भगवान हनुमान बने डॉक्टर और मूर्ति करती है नृत्य

हनुमान जी का परिवार 

आपको बता दें कि इस ग्रंथ में उनके परिवार के बारे में भी बताया गया है। हनुमान जी के पिता का नाम केसरी था और आपको यह भी बता दें कि उनके पिता वायु देव भी माने जाते हैं। यह तो आप जानते ही होंगे की हनुमान का जन्म एक वानर के रूप में हुआ था। हनुमान जी की माता का नाम अंजनी था जो एक अप्सरा थीं।

उनकी माता को एक श्राप मिला था जिसकी वजह से उन्होंने वानर के रूप में एक पुत्र को जन्म दिया था। लेकिन एक पुत्र को जन्म देने के बाद वह इस श्राप से मुक्त हो गई थी। आपको बता दें कि पौराणिक कथाओं के अनुसार केसरी और अंजनी के 6 पुत्र बताएं गए हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:Hanuman Jayanti 2022: जानें कब पड़ेगी हनुमान जयंती, पूजा का शुभ मुहूर्त और सुख समृद्धि के अचूक उपाय

ऐसे मिलती है हनुमान जी की कृपा 

धार्मिक मान्यता के अनुसार हनुमान जी की पूजा मंगलवार और शनिवार को करना उत्तन माना जाता है। आपको बता दें कि फलों के राजा आम को हनुमान जी का प्रिय फल माना जाता है। ऐसा भी माना जाता है कि जहां भी आम और आम का पेड़ होता है वहां हनुमान जी की विशेष कृपा बनी रहती है। आम की लकड़ियों को हवन में उपयोग करने से भी वतावरण में सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। इसके अलावा ऐसा भी माना जाता है कि प्रवेश द्वार पर आम की पत्तियां लटकाने से हनुमान जी घर की रक्षा करते हैं। 

 

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।

Image Credit-unsplash

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।