देश की पहली बुलेट ट्रेन के लिए काम तेज़ी से आगे बढ़ रहा है। बुलेट ट्रेन नरेंद्र मोदी सरकार का एक बहुत महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट है और इसमें हज़ारों करोड़ का निवेश होना है। जहां एक ओर बुलेट ट्रेन को लेकर इतनी बातें पहले ही हो चुकी हैं वहीं दूसरी ओर इसका प्लान 2023 में लॉन्च होने के हिसाब से चल रहा है। अब इसे लेकर एक नई जानकारी सामने आई है। नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (NHSRCL) के एक अधिकारी ने बुलेट ट्रेन के किराए को लेकर जानकारी दी है।  

कितना हो सकता है किराया? 

NHSRCL के मैनेजिंग डायरेक्टर अचल खरे ने बताया कि मुंबई से अहमदाबाद ट्रिप तक बुलेट ट्रेन के किराए की बात करें तो एक टिकट का 3000 रुपए किराया लग सकता है। एक दिन में ये बुलेट ट्रेन 70 चक्कर लगाएगी। ये किराया अभी फाइनल नहीं है, लेकिन ये ऊपर नीचे तो हो ही सकता है। पर हो सकता है कि इसे ही फाइनल कर दिया जाए।  

bullet train in india latest news

इसे जरूर पढ़ें- ड्रीम गर्ल की टिकट बुक करवाने से पहले देख लीजिए ये सोशल मीडिया रिएक्शन 

अभी जमीन को लेकर चल रहा है काम- 

इस प्रोजेक्ट के लिए 1380 हेक्टेयर जमीन की जरूरत है और अभी तक अधिकारियों ने सिर्फ 622 हेक्टेयर जमीन ही ली है। भारतीय रेलवे के साथ NHSRCL के अधिकारी भी इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं। जो जमीन अधिगृहण करना है उसमें सरकारी, गैर-सरकारी, वन और रेलवे की जमीन शामिल है। अभी तक सिर्फ 45% जमीन ही हासिल हो पाई है।  

ये बुलेट ट्रेन सुबह 7 बजे से लेकर रात 12 बजे के बीच में 70 ट्रिप लगाएगी और ये 35 हर साइड से होगी। उम्मीद की जा रही है कि इसे बनाने का काम 2020 तक शुरू हो जाएगा। ये काम 27 अलग-अलग फेज़ में विभाजित किया गया है।  

bullet train technology

समुद्र के अंदर से भी जाएगी बुलेट ट्रेन-

महाराष्ट्र में कुछ खास प्लानिंग भी है। भारत की पहली अंडर वाटर रेल सुरंग भी यहां बनेगी। बुलेट ट्रेन के रूट पर महाराष्ट्र के हिस्से में कुछ किलोमीटर के लिए बुलेट ट्रेन समुद्र के अंदर से भी चलेगी। ये अपने आप में कुछ नया होगा। हो सकता है इसके शुरू होने के बाद महाराष्ट्र ट्रिप पर एक ये भी पिकनिक स्पॉट हो जाए।  

बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का हो रहा था विरोध- 

सरकार ने जब इस प्रोजेक्ट की शुरुआत की थी तब से ही इसे लेकर कोई न कोई विवाद चला आ रहा है। पहले बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का ही विरोध कर रहे थे वो सारे किसान जिनकी जमीनें इस प्रोजेक्ट को लेकर इस्तेमाल की जा रही थीं। अब धीरे-धीरे वो विरोध भी खत्म हो रहा है। अधिकारियों का कहना है कि ये प्रोजेक्ट अपनी स्पीड से आगे बढ़ रहा है। इसके अलावा, ऐसी उम्मीद भी की जा रही है कि पहले ये प्रोजेक्ट 2022 तक खत्म होगा, लेकिन अब इसकी डेट एक साल और बढ़ गई है। 

इसे जरूर पढ़ें- पहली बार 9 महिला खिलाड़ियों को एक साथ मिल सकते हैं पद्म अवॉर्ड, ये रहे वो चेहरे

इतना पैसा लगेगा इस प्रोजेक्ट में- 

बुलेट ट्रेन के इस प्रोजेक्ट में कुल 1.08 लाख करोड़ रुपए लगने की गुंजाइश है। 

कुल मिलाकर अभी इस प्रोजेक्ट को लेकर ताज़ा जानकारी आई है। अभी तक कुछ भी तय नहीं है कि क्या इसमें ऐसे ही कोटा लगेगा या नहीं लगेगा जो भारतीय रेलवे में लगता है और महिलाओं के लिए कुछ खास फायदे होंगे या नहीं। पर सही मायने में ये भारत के लिए बड़ी उपलब्धि होगी कि बुलेट ट्रेन यहां शुरू हो जाए।