भारतीय महिला एथिलीट्स इन दिनों चर्चा में हैं। मैरी कॉम से लेकर पी वी सिंधु तक सभी हमारे देश का नाम ऊंचा करनी जा रही हैं। हिमा दास की दौड़ हो या फिर सुमा शिरूर शूटर सभी आगे हैं। ये वो जमाना नहीं है जब सिर्फ क्रिकेट और पुरुषों के बारे में ही सोचा जाए। महिला खिलाड़ी भी एक बेहतरीन पारी खेल रही हैं और हमें उनपर बहुत गर्व है। जितना गर्व हमें उनपर है वो शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता है। देश की बेटियां इतना आगे बढ़ रही हैं तो देश को भी उनका सम्मान करना चाहिए।  

अब भारतीय स्पोर्ट्स मिनिस्ट्री ने इस साल पद्म अवॉर्ड के लिए 9 महिला खिलाड़ियों को नामांकित किया है। ये देश का दूसरा सबसे बड़ा सिविलियन अवॉर्ड है और इस बार सिर्फ महिला खिलाड़ी ही हैं इस लिस्ट में। पहले सिर्फ पी वी सिंधु का नाम ही दिया गया था, लेकिन इसके बाद खेल मंत्रालय ने 8 और खिलाड़ियों का नाम सामने कर दिया।  

Padma Bhushan

इसे जरूर पढ़ें- Inpiring Woman: अनुप्रिया लाकड़ा बनीं देश की पहली आदिवासी महिला पायलट, महिलाओं के लिए इंस्पिरेशन 

किन खिलाड़ियों का नाम दिया गया है?

इस लिस्ट में पी वी सिंधु तो हैं ही जो बैडमिंटन के लिए चुनी गई हैं पी वी सिंधु पद्म भूषण के लिए चुनी गई हैं। इसके साथ ही वर्ल्ड फेमस मैरी कॉम भी हैं जो भारत की बॉक्सिंग चैम्पियन हैं। मैरी कॉम पद्म विभूषण के लिए चुनी गई हैं। इसी के साथ, भारतीय क्रिकेट टीम की T20 कैप्टन हरमनप्रीत कौर, महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल, शूटर सुमा शिरूर, टेबल टैनिस प्लेयर मनिका बत्रा, पर्वतारोही जुड़वा बहनें ताशी और नुंगशी मलिक का नाम पद्म श्री अवॉर्ड के लिए गया है। यानी इस बार स्पोर्ट्स के लिए पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री अवॉर्ड सभी महिला खिलाड़ियों को मिलेंगे ऐसी ही उम्मीद है।  

Women Athletes

अभी ये लोग सिर्फ नामांकित किए गए हैं। अभी इनपर फैसला नहीं आया है। एक बार इन नामों पर मुहर लग जाएगी तो ये गृह मंत्रालय की Padma Awards Committee को भेज दिए जाएंगे।  

Padma Shree

कब मिलेंगे अवॉर्ड- 

ये अवॉर्ड अगले साल गणतंत्र दिवस के मौके पर दिए जाएंगे। हालांकि, जिन्हें ये अवॉर्ड मिलने वाले हैं उन्हें इसके बारे में पहले से ही पता होगा।  

Padma Awards

मैरी कॉम को पहले भी मिल चुके हैं पद्म अवॉर्ड-

मैरी कॉम जिन्हें 5 बार वर्ल्ड चैम्पियन बनने का खिताब हासिल है वो पद्म भूषण और पद्म श्री अवॉर्ड पहले ही जीत चुकी हैं। उन्हें 2013 में पद्म भूषण अवॉर्ड मिला है और 2006 में उन्हें पद्म श्री अवॉर्ड मिल चुका है। इतना ही नहीं उन्हें खेल के लिए दिया जाने वाला अर्जुन अवॉर्ड भी मिल चुका है। 

इसे जरूर पढ़ें- देश की पहली ट्रांसजैंडर न्‍यूज एंकर पद्मिनी प्रकाश की इंस्‍पायरिंग कहानी 

पी वी सिंधु को भी मिल चुका है पद्म अवॉर्ड-

पी वी सिंधु जो हाल ही में जापान की नोजोमी ओखुहारा को हराकर वर्ल्ड चैम्पियन बनी हैं उन्हें 2017 में पद्म भूषण मिलना था, लेकिन वो सिर्फ नामांकन तक ही पहुंच पाई थीं। हालांकि, उन्हें 2015 में पद्म श्री अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था। 

अन्य सभी महिला खिलाड़ियों को ये अवॉर्ड पहली बार मिलेगा। हम तो ये उम्मीद जरूर करेंगे कि इस सभी खिलाड़ियों को उनके काम और देश का नाम रौशन करने के लिए सम्मानित किया जाए। ये बहुत बड़ी बात है कि भारत में अब महिला खिलाड़ियों को भी लोग उसी तरह से पहचानने लगे हैं जैसे पुरुष खिलाड़ियों के साथ होता था। ये खिलाड़ी देश-विदेश में भारत का नाम ऊंचा कर रही हैं और इन्हें भी उतना ही प्यार और सम्मान मिलना चाहिए जितना बाकी खिलाड़ियों को मिलता है।