कोविड -19 महामारी से सारा भारत परेशान है और विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, कोरोना वायरस से ख़ुद को सुरक्षित रखने का सबसे बेसिक और महत्वपूर्ण उपाय है कि हम साफ-सफाई का पूरा ध्‍यान रखें और बार-बार हाथों को पानी और साबुन से धोते रहें ताकि वायरस शरीर तक ना पहुंच पाए। आप चाहें तो एक अल्कोहॉल बेस्ड सैनिटाइजर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा मास्क पहनना वायरस के प्रसार को रोकने का सबसे अच्छा तरीका है इसलिए महामारी के इस दौरान में मास्क अब हर किसी के जीवन का एक अभिन्न हिस्‍सा बन चुका है। हेल्थ केयर प्रोफेशनल्स अब किसी भी मरीज़ की जांच के लिए मास्क पहनने लगे हैं। ये पूरा विश्व कर रहा है। आम जनता को भी कही भी जाने पर आज मास्क पहनने के अलावा कोई उपाय नहीं है। क्योंकि भारत जैसे बड़ी आबादी वाले देश में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना बहुत कठिन है।

एक्‍सपर्ट की राय

इस बारे में स्ट्रेटेजिक मेडिकल एफेयर एड्रोइट बायोमेड लिमिटेड के डायरेक्टर डॉक्‍टर अनिश देसाई का कहना है कि ''इस समय मास्क पहनना जरुरी है। लेकिन सही मास्क का पहनना बहुत आवश्यक है क्योंकि जब आप बाहर जाते हैं तो घंटों मास्क पहनकर रहना पड़ता है, जिससे सामान्य समस्याएं जैसे टाइट मास्क से चेहरे की त्वचा का डैमेज होना और मास्क एरिया पर एक्ने का बढ़ना हो सकती हैं।'' 

women wearing mask inside

त्‍वचा से जुड़ी समस्‍याओं का खतरा

डॉक्टर अनिश आगे कहते हैंं कि ''असल में मास्क पहनने से त्वचा पर डायरेक्ट फ्रिक्शन होता है जिससे इरीटेशन और इन्फ्लेमेशन का होना आम है। इसके अलावा मास्क अपने अंदर नमी, सलाइवा, म्यूकस, ऑयल, गंदगी और पसीने को बाहर आने से रोकती है। इससे माइल्ड से मॉडरेट एक्ने, एक्जिमा आदि कई त्वचा से जुड़ी समस्‍याएं हो सकती हैं। सेंसिटिव त्वचा वाले व्यक्ति को फेशियल रेडनेस और रोजेसिया का सामना करना पड़ सकता है। ये अधिकतर उन व्यक्तियों को होता है जिनकी स्किन अधिक सेंसिटिव हो या उनके आसपास नमी युक्त या अधिक ड्राई वातावरण हो।'' इन सभी समस्‍याओं से बचने के लिए आपको मास्‍क लगाने से पहले कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए। आइए ऐसे ही कुछ टिप्‍स के बारे में डॉक्‍टर अनिश से जानें।

इसे जरूर पढ़ें: फेस मास्क पहनने को लेकर WHO की नई गाइडलाइन्स

women wearing maskinside

मास्क पहनने से पहले बरते सावधानी

बहुत लंबे समय तक पहनने से बचें 

मास्क त्वचा को चोट पहुंचाए बिना, नाक और मुंह को अच्छी तरह से ढका हुआ होना चाहिए। लेकिन इस बात का ध्‍यान रखें कि वह बहुत ज्‍यादा टाइट न हो। साथ ही मास्क लंबे समय तक पहनने से बचना चाहिए। जब आपको इसे पहनने की जरूरत न हो तो मास्क उतार दें, जैसे कि घर पर या अपनी कार चलाते समय। अगर आपको अधिक समय तक मास्क पहनना है तो एक्स्ट्रा मास्क साथ में लें और कुछ देर के बाद दूसरे मास्‍क का इस्‍तेमाल करें। आप चाहें तो पहने हुए मास्क को एक अलग प्लास्टिक बैग में डालकर घर आने पर अच्छी तरह से धोकर सुखा सकती हैं।

कॉटन के मास्‍क का इस्‍तेमाल करें

कॉटन के मास्क त्वचा के लिए अच्छे होते हैं। इसे निकालने के बाद आप गर्म पानी और साबुन से धो भी सकती हैं। मास्क के गीले हो जाने पर इसे उतार कर दूसरा पहने। इसके अलावा चेहरे को सॉफ्ट साबुन से दिन में दो बार जरूर धोएं। 

women wearing mask inside
 

त्‍वचा को हाइड्रेट करें 

त्वचा को हाइड्रेट रखने के लिए क्लींजिंग के बाद मॉइश्चराइजिंग जरूर करें। त्वचा की सूजन को कम करने के लिए ऑयल फ्री मॉइश्चराइजर दिन में कई बार इस्‍तेमाल करें। मास्क उतारने के बाद हाइपोएलर्जेनिक मॉइश्चराइजर चेहरे पर लगाएं क्‍योंकि ये पसीने और ऑयल को खुद में समेटता है। लेकिन एक बात का ध्‍यान रखें कि आपको स्क्रब और एक्सफोलिएटर्स का प्रयोग इस समय चेहरे पर बिल्‍कुल भी नहीं करना है। 
 
 

हैवी मेकअप से बचें

मास्क पहनने से पहले हैवी मेकअप और फाउंडेशन को लगाने से बचें, क्योंकि इससे दाग धब्बे के अलावा एक्ने होने की संभावना भी काफी बढ़ जाती है। पेट्रोलियम जेली या क्रीम की मदद से त्वचा की ड्राईनेस को कम किया जा सकता है। लेकिन अगर सब कुछ करने के बावजूद कोई भी समस्‍या आती है तो स्किन स्‍पेशलिस्‍ट से तुरंत संपर्क करें।
 
मास्क पहनने से पहले एक्‍सपर्ट के इन उपायों का अपनाकर आप भी स्किन से जुड़ी कई तरह की समस्‍याओं से बच सकती हैं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।          

Image Credit: Freepik.com