त्‍वचा में रूखापन बढ़ने से त्‍वचा बेजान दिखने लगती है। अगर आपकी त्‍वचा भी ज्‍यादा ड्राई हो रही है तो आपको विशेष ध्यान देने की जरूरत है। चेहरे पर ड्राईनेस कई कारणों से हो सकती है, इसलिए सबसे पहले आपको यह जानने की जरूरत है कि आपकी स्किन में ड्राईनेस किन कारणों से रही है। ड्राईनेस के कारणों को जानने के लिए आपको अपनी त्‍वचा में होने वाले बदलावों पर ध्यान देना होगा। वैसे तो बाजार में स्किन में ड्राईनेस से निपटने के लिए कई ब्यूटी प्रोडेक्‍ट मौजूद है लेकिन ये इस समस्‍या से निजात पाने के लिए पूरी तरह से कारगर सिद्ध नहीं होते। इसलिए अगर समय पर स्किन की समस्या पर ध्यान न दिया जाय तो त्वचा रूखी व बेजान हो जाती है। तो आइए जानते हैं त्वचा में रूखापन बढ़ने के पांच कारणों के बारे में।

skincare tips to get rid dry flaky skin inside

इसे जरूर पढ़ें: Retinol से मिलती है ग्लोइंग स्किन और यंग लुक, जानिए इसके फायदे

साबुन का ना करें इस्‍तेमाल 

स्किन की ड्राईनेस की सबसे बड़ी वजह होती है साबुन का इस्‍तेमाल करना। साबुन का इस्‍तेमाल करने पर ये आपकी त्वचा की नमी को सोख लेता है। अगर आपका साबुन हार्ड हो और अगर आपकी त्वचा पहले से ही ड्राई है तो आपको साबुन का इस्‍तेमाल करना तुरंत बंद करना होगा। साबुन की जगह आप माइल्‍ड लिक्विड फेसवॉश का इस्‍तेमाल कर सकती हैं। साथ ही इस बात का भी पूरा ध्‍यान रखें कि चेहरा साफ करने के लिए हर बार फेसवॉश यूज ना करें, बल्कि इसकी जगह फेस क्लींजर का इस्‍तेमाल करें।

 tips to get rid dry and flaky skin inside

गर्म पानी से नहाने से बचें

अगर आप नहाने के लिए गुनगुने या गर्म पानी का इस्‍तेमाल करती है तो ऐसा बिल्‍कुल ना करें। क्‍योंकि गर्म पानी से नहाने पर आपकी त्वचा रूखी और बेजान हो सकती है। आपको बता दें कि त्‍वचा की ऊपरी सतह पर केराटिन की परत होती है, जिसके कारण हमारी त्‍वचा की नमी बरकरार रहती हैं, लेकिन गर्म पानी से त्‍वचा की इस ऊपरी सतह को नुकसान पहुंचता है। गर्म पानी से लंबे समय तक इस्‍तेमाल से ये परत को हट जाती है, जिस वजह से हमारी त्वचा रूखी दिखने लगती है। इसलिए अगर आपकी स्किन ड्राई है तो गर्म पानी का इस्‍तेमाल बिल्‍कुल बंद कर दें।

Recommended Video

एंटी-एजिंग उत्पादों का ना करें इस्‍तेमाल

रेटिनोइड्स और एएचए ड्राई स्किन के लिए हानिकारक होते हैं और एंटी-एजिंग उत्पादों को बनाने में इनका इस्‍तेमाल किया जाता है। एंटी-एजिंग प्रोडक्‍ट्स से आपकी त्‍वचा की नमी में कमी आती है और आपको ड्राईनेस की समस्‍या से रुबरू होना पड़ता है। एंटी-एजिंग प्रोडक्ट में मॉश्चराइजिंग ऑयल नहीं होता है। इसलिए आप चेहरे के रिंकल्स को कम करने के लिए जोजोबा ऑयल, ग्रीन टी, टी-ट्री ऑयल, कोकोनट ऑयल, अलमंड ऑयल लगा सकती हैं।

मॉइस्चराइजर का ऐसे करें इस्‍तेमाल

अगर आपकी स्किन ड्राई है तो ऐसे में आपको लगता है की आप मॉइस्चराइजर लगाएंगी और आपकी स्किन सॉफ्ट हो जाएगी। लेकिन ऐसा नहीं है मॉइस्चराइजर त्‍वचा की नमी को बनाए रखने में कारगर होता है पर ये तभी कारगर होता है जब मॉइस्चराइजर को सही ठंग से लगाया जाएं। इसलिए मॉइस्चराइजर लगाते समय इसे सीधे ड्राई स्किन पर ना लगाएं, बल्कि इसे तब लगाएं जब आपकी त्वचा थोड़ी नम हो। अब हम आपको बताते हैं कि आपकी त्‍वचा कब नम होती है। आपकी त्‍वचा नहाने के तुरंत बाद नम होती है इसलिए मॉइस्चराइजर लगाने का सबसे सही समय वही होगा। पर ध्‍यान रखें कि इसे सीधे गीली त्वचा पर ही ना लगा लें, बल्कि अपनी त्‍वचा को तौलिए से अच्‍छे से पोंछकर ही मॉइस्चराइजर लगाएं।

 tips to get rid dry and flaky skin inside

इसे जरूर पढ़ें: करीना से लेकर करिश्‍मा और एली तक, ये एक्‍ट्रेसेस ग्‍लोइंग स्किन के लिए लगाती हैं होममेड फेस मास्‍क

चेहरे पर लगाएं सनस्क्रीन

अगर आपकी स्किन ड्राई है तो उम्र होने पर आपको झुर्रियों की समस्‍या हो सकती है। ड्राई स्किन हानिकारक यूवी किरणों के संर्पक में आने से और ड्राई हो सकती है, इसलिए सनब्लॉक का इस्‍तेमाल जरूर करें। सनस्क्रीन आपको हानिकारक यूवी किरणों से बचाएगा।

जब त्वचा की नमी बरकरार नहीं रहती है, तो वह सूखी और परतदार हो जाती है। अगर आप इन बातों को नहीं दोहराएंगे तो आपकी त्‍वचा ड्राई होने से बची रहेगी और आप पहले जैसी मुलायम और कोमल त्‍वचा फिर से पा सकेंगी।

Photo courtesy- (freepik.com)