• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

बारिश का भरपूर मजा लें लेकिन फ्लू से बचें, जानिए एक्‍सपर्ट की राय

मानसून का आनंद लेने के साथ-साथ खुद को हेल्‍दी रखना भी जरूरी है। इस बारे में हमें नई दिल्ली के इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल्स में इंटरनल मेडिसीन सीनियर क...
Published -20 Jul 2018, 13:43 ISTUpdated -20 Jul 2018, 15:24 IST
Next
Article
monsoon flu health main

तपती गर्मी के बाद जब बारिश की बूंदें पड़ती हैं, तो गजब का सुकून मिलता है। शायद ही कोई ऐसा होगा, जिसका मन इस बारिश में भीगने का न करे। गर्मी से राहत पाने के लिए सभी बारिश का मजा लेना चाहते हैं। लेकिन मानसून ठंडक के साथ अपने साथ कुछ बीमारियां भी लेकर आता है। जी हां भारत में मानसून अपने साथ फ्लू जैसी बीमारियां भी लेकर आता है। इस मौसम में छोटे बच्चों से लेकर बड़े तक सभी फ्लू का शिकार हो जाते हैं। इसके अलावा बार-बार बदलते तापमान का भी शरीर पर बुरा असर पड़ता है, इसलिए मानसून का आनंद लेने के साथ-साथ खुद को हेल्‍दी रखना भी जरूरी है। इस बारे में हमें नई दिल्ली के इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल्स में इंटरनल मेडिसीन सीनियर कंसल्टेंट डॉक्‍टर तरुण साहनी बता रहे हैं।

डॉक्‍टर तरुण साहनी ने कहा, ''फ्लू का इंफेक्‍शन हालांकि जानलेवा नहीं होता, लेकिन छोटे बच्चों और बुजुर्गो में इसके कारण कई समस्याएं हो सकती हैं। खासतौर पर उन लोगों पर इसका बुरा असर पड़ता है, जिनकी इम्यून सिस्टम कमजोर हो।''

Read more: High fever होने पर आपकी बॉडी में होता है कुछ ऐसा

monsoon flu health inside

फ्लू के लक्षण

फ्लू के लक्षणों के बारे में उन्होंने कहा, मानसून में होने वाला फ्लू दो हफ्ते में ठीक हो जाता है, लेकिन कुछ समय के लिए इसके लक्षण बहुत ज्यादा परेशान कर सकते हैं। इसके कुछ आम लक्षण हैं-

  • तेज बुखार पसीना आना
  • कंपकंपी छूटना
  • लगातार खांसी
  • नाक बहना
  • शरीर में दर्द
  • त्वचा पर रैशेज

खुद को इंफेक्‍शन से बचाएं

डॉक्‍टर साहनी ने कहा, इस सीजन में खुद को इंफेक्‍शन से बचाएं। जिन चीजों को लोग ज्यादा छूते हैं, वहां पर रोग फैलाने वाले बैक्‍टीरिया बहुत जल्दी पनपते हैं। हवा के जरिए भी सांस से ये बैक्‍टीरिया एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल जाते हैं। लेकिन सावधानी बरतने से फ्लू की संभावना को कम किया जा सकता है।

monsoon flu health inside

हाथों की सफाई है बेहद जरूरी

उन्होंने सुझाव देते हुए कहा, खाना खाने से पहले हाथ धोना बहुत जरूरी है, क्योंकि ये बैक्‍टीरिया शारीरिक संपर्क से फैलते हैं। रेगुलर एक्‍सरसाइज करें, इससे बॉडी की इम्‍यूनिटी मजबूत बनती है। पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं, हेल्‍दी और पोषक तत्‍वों से भरपूर आहार लें। अच्‍छा खाने से इम्‍यूनिटी मजबूत होती है। इन्फ्लुएंजा से बचने के लिए वैक्सीन उपलब्ध है, लेकिन यह उन्हीं लोगों को देनी चाहिए जिनमें इंफेक्‍शन की आशंका अधिक हो।

Read more: सर्दी-जुकाम में इन फूड से नहीं किया तौबा तो जाएगी हाय..तौबा

डॉक्‍टर से सलाह लें

डॉक्‍टर साहनी ने कहा, बुखार और बॉडी पेन को कम करने के लिए दवाएं ली जा सकती हैं। कफ ड्रॉप खांसी से राहत देते हैं, लेकिन अगर लक्षण बहुत ज्यादा परेशान कर रहे हैं तो डॉक्टर से सलाह लें। मानसून में सेकेंडरी इन्फेक्शन भी हो सकता है। ऐसे मामलों में दोस्तों, इंटरनेट की सलाह से दवाएं लेने बजाए डॉक्टर से सलाह लें। आराम करें, कम से कम 8 घंटे की नींद लें। मानसून फ्लू के इंफेक्‍शन को ठीक करने के लिए आराम करना बहुत जरूरी है।

Recommended Video

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।