• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

Omicron BA.2: कोरोना के खतरनाक वेरिएंट के लक्षण और उपचार के बारे में जानें

यूरोपीय और एशियाई देशों में ओमिक्रोन के सब-वेरिएंट BA.2 के मामलों की काफी संख्या में वृद्धि हुई है। आइए इसके बारे में एक्‍सपर्ट से विस्‍तार में जानें। 
author-profile
Next
Article
omicron ba. new variant symptoms and treatment

जब हम सभी ने सोचा कि महामारी खत्म हो गई है और चीजें वापस नॉर्मल हो रही हैं, तो दुनिया भर में कोविड-19 के मामले फिर से बढ़ने लगे। इस बार, ओमिक्रोन के सब-वेरिएंट, BA.2 के लेने की संभावना है। हम इस नए सब-वेरिएंट के कारण पहले से ही एशिया और यूरोप के कुछ हिस्सों में कोविड-19 मामलों में वृद्धि देख रहे हैं।

मलेशिया, दक्षिण कोरिया, न्यूजीलैंड जैसे देशों में कोरोनावायरस के मामलों में तेजी से वृद्धि हुई है और इसने भारत में खतरे को बढ़ा दिया है।

BA.2 क्या है?

BA.2 पांचवें वेरिएंट, ओमिक्रोन के कई उप-वर्गों से बना है। इस सब-वेरिएंट को पहली बार दक्षिण अफ्रीका में पिछले साल नवंबर के महीने में खोजा गया था। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, नए वेरिएंट के कारण कोविड-19 मामलों में यह वृद्धि केवल चीन और पश्चिमी यूरोप तक ही सीमित नहीं होगी।

ओमिक्रोन वेरिएंट वर्तमान में दुनिया भर में प्रमुख है और यह कई उप-वर्गों से बना है। ओमिक्रोन की सबसे आम उप-वर्ग BA.1, BA.1.1 और BA.2. BA.2 हैं। हाल ही में अन्य उप-वर्गों की तुलना में अपेक्षाकृत बढ़ रहा है और रिपोर्ट के अनुसार अन्य सभी प्रकारों का प्रसार घट रहा है।

omicron ba. new variant symptoms hindi

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार 

विश्व स्वास्थ्य संगठन दुनिया भर में कोरोना की कम टेस्टिंग पर गहरी चिंता जताई है और वायरस और इसके वेरिएंट ओमिक्रोन के बारे में 3 तरह की गलत धारणाओं को सूचीबद्ध किया है। WHO की कोविड-19 टेक्निकल लीड मारिया वान केरखोव ने हाल ही में एक सम्मेलन में शेयर किया कि घातक कोरोनावायरस के बारे में गलत सूचना दुनिया भर में कोविड-19 मामलों में हालिया स्पाइक की ओर ले जा रही है।

इसे जरूर पढ़ें: दुनिया भर में फैलने वाले नए कोरोना ओमिक्रोन वेरिएंट के बारे में जानें

वायरस और ओमिक्रोन को लेकर बहुत ज्‍यादा गलत सूचनाएं फैली हुई हैं, जो भ्रम पैदा कर रही हैं। उन्होंने कहा कि ये गलत सूचनाएं हैं कि ओमिक्रोन हल्का है। यह कोरोनावायरस का लास्ट वेरिएंट है और महामारी अब खत्म हो गई है।

केरखोव का कहना है, 'इसको लेकर भारी संख्या में भ्रम फैला हुआ है। जैसे- ओमिक्रॉन तो बस एक हल्का इन्फेक्शन है। यह कोरोना वायरस का लास्ट वेरिएंट है, इसके बाद किसी नए वेरिएंट की एंट्री की गुंजाइश नही है। भ्रम यह भी है कि महामारी अब खत्म हो गई है। हमें इन सभी गलत सूचनाओं से निपटना होगा। यह वास्तव में लोगों के बीच भ्रम पैदा कर रही हैं। इनके कारण लोग गुमराह हो रहे हैं और कोविड प्रोटोकॉल को फॉलो करने से परहेज कर रहे हैं, क्योंकि उन्हें लग रहा है कि अब किसी वायरस का खतरा नहीं है।'

 

BA.2 का हस्तांतरण

मारिया वान केरखोव ने इसके बाद सब-वेरिएंट, बीए.2 के हस्तांतरण की ओर इशारा किया। उन्‍होंने शेयर किया कि यह सबसे अधिक संक्रामक वेरिएंट प्रतीत होता है। उन्‍होंने आगे कहा, "हम जनसंख्या के स्तर पर बीए.1 की तुलना में बीए.2 की गंभीरता में बदलाव नहीं देखते हैं। हालांकि, बड़ी संख्या में मामलों के साथ, आप अस्पताल में भर्ती होने में वृद्धि देखेंगे और बदले में यह बढ़ी हुई मौतों में तब्दील हो गई है।"

ओमिक्रोन BA.2 की गंभीरता

हमने सीनियर रेजिडेंट (मेडिसिन) डॉक्‍टर मुकेश सिंह से बात की और उनसे सब-वेरिएंट की गंभीरता के बारे में पूछा। उन्होंने कहा, 'वेरिएंट की गंभीरता का आकलन करना अभी बाकी है क्योंकि भारत में इसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है और चीन में हालिया प्रकोप से पता चलता है कि यह चीन के कई शहरों में बहुत तेज गति से फैल रहा है लेकिन गंभीरता पिछले वेरिएंट की तरह नहीं है।'

ओमिक्रोन BA.2 के लक्षण

ओमिक्रोन BA.2 में ऐसे लक्षण हैं जो पिछले रूपों जैसे बुखार, सांस लेने में कठिनाई, दस्त, पेट दर्द, मायालगिया जैसे अन्य लक्षणों के समान हैं।

हाई जोखिम में कौन है?

जिन लोगों का टीकाकरण नहीं हुआ है, वे सबसे अधिक जोखिम में हैं और कमजोर इम्‍यूनिटी के लोगों को भी इस नए वेरिएंट, BA.2 से संक्रमित होने का हाई जोखिम है।

ओमिक्रोन BA.2 का उपचार

एक्‍सपर्ट ने शेयर किया कि इस नए वेरिएंट का उपचार रोगी की गंभीरता पर निर्भर करता है। हालांकि, उल्लिखित लक्षणों वाले किसी भी रोगी को तुरंत डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

omicron ba. new variant symptoms by expert

भारत में कोरोनावायरस चौथी लहर

यूरोपीय देशों और अन्य पड़ोसी देशों में कोविड-19 मामलों में स्पाइक की रिपोर्ट के बाद, महाराष्ट्र सरकार ने अलर्ट जारी किया है। सरकार लोगों से बाहर निकलते समय सभी कोविड-19 प्रोटोकॉल को फॉलो करने का आग्रह कर रही है। इससे पहले भी महाराष्ट्र महामारी की तीसरी लहर से सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ था। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे को हाल ही में केंद्र से इस संबंध में एक पत्र मिला है।

यदि हम संख्या पर नजर डालें तो राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, पिछले सप्ताह 394 लोग कोविड-19 से ठीक हुए, वर्तमान में 1680 सक्रिय मामले हैं और हाल ही में 17 नए मामले सामने आए हैं।

इसे जरूर पढ़ें:कोरोना वायरस को रोकने के लिए लोगों से दूरी और आइसोलेशन है बेहद जरूरी

हाल ही में, कर्नाटक के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री के सुधाकर ने भी एक बैठक को संबोधित किया जहां उन्होंने चौथी लहर के बारे में बात की। अपने संबोधन के दौरान उन्होंने शेयर किया कि अगस्त महीने के लिए देश में चौथी लहर की भविष्यवाणी की गई है। उन्होंने आगे शेयर किया कि कैसे राज्य कोरोनोवायरस की चौथी लहर से निपटने के लिए हर दिन तैयारी कर रहा है। 

Recommended Video

 

उन्होंने कहा, 'कुल 265 प्रयोगशालाएं स्थापित की गई हैं और टेस्‍ट क्षमता प्रति दिन 2.5 लाख बढ़ाई गई है। तीन साल के अनुभव के साथ, डॉक्टर उपचार प्रदान करने के लिए अच्छी तरह आपकी मदद करेंगे।'

वैक्सीनेशन कोविड-19 के प्रसार को रोक सकता है। यदि आपने अभी तक अपना वैक्सीनेशन नहीं लिया है, तो इस नए सब-वेरिएंट से संक्रमित होने के जोखिम को कम करने के लिए इसे प्राथमिकता के आधार पर लें। इसके अलावा, अकेले वैक्सीनेशन पर्याप्त नहीं है। आपको खुद को रोकने के लिए कोविड-19 की सभी  सावधानियां बरतनी चाहिए। यदि आप उपरोक्त किसी भी लक्षण से पीड़ित हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप तुरंत डॉक्टर से परामर्श लें और इसके प्रसार को रोकने के लिए खुद को अलग करें। 

यदि आपके पास ओमिक्रोन BA.2 से संबंधित कोई अन्य प्रश्न हैं, तो हमें हमारे फेसबुक पेज पर कमेंट करके जरूर बताएं। हम आपके लिए इसका उत्तर हमारे एक्‍सपर्ट से प्राप्त करेंगे। हेल्‍थ से जुड़ी ऐसी ही और जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।