Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    फैटी लिवर बीमारी से जुड़ी यह चार बातें जरूर जानें

    अगर आप फैटी लिवर डिसीज के बारे में अधिक जानना चाहती हैं तो आपको उससे संबंधित इन बातों के बारे में अवश्य पता होना चाहिए।
    author-profile
    • Mitali Jain
    • Editorial
    Updated at - 2022-10-07,12:28 IST
    Next
    Article
    causes of fatty liver

    शरीर में अतिरिक्त फैट का स्टोर होना सेहत के लिए बेहद हानिकारक होता है। यह फैट किसी भी हिस्से में स्टोर हो सकता है। कभी-कभी यही अतिरिक्त फैट कुछ गंभीर बीमारियों का कारण भी बन सकता है। इन्हीं समस्याओं में से एक है फैटी लिवर। फैटी लिवर एक ऐसी स्थिति है, जिसमें व्यक्ति के लिवर पर फैट जमा होने लगता है।

    जब व्यक्ति में लिवर पर फैट जमा होता है तो इससे उसके कार्य करने की क्षमता पर विपरीत असर पड़ता है। लीवर हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण भाग है जो भोजन को पचाने से लेकर हानिकारक पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है। लेकिन जब फैटी लिवर की समस्या होती है तो लिवर सही ढंग से काम नहीं कर पाता हैं और व्यक्ति के शरीर में पाचन सहित अन्य कई समस्याएं जन्म लेने लगती हैं। यह समस्या कभी-कभी काफी गंभीर रूप भी ले सकती है। तो चलिए इस लेख में सेंट्रल गवर्नमेंट हॉस्पिटल के ईएसआईसी अस्पताल की डाइटीशियन रितु पुरी आपको फैटी लिवर से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण बातों के बारे में बता रही हैं-

    दो तरह का होता है फैटी लिवर

    two types of fatty liver

    फैटी लिवर मुख्य रूप से दो तरह का होता है- अल्कोहलिक फैटी लिवर और नॉन-अल्कोहलिक फैटी लिवर। अल्कोहलिक फैटी लिवर का मुख्य कारण अत्यधिक शराब का सेवनकरना होता है। जो लोग नियमित रूप से अधिक मात्रा में शराब का सेवन करते हैं, उन्हें अल्कोहलिक फैटी लिवर होने की संभावना काफी अधिक हो जाती है। दरअसल, शराब का सेवन करने से उसमें मौजूद हानिकारक तत्व लिवर के सेल्स को नुकसान पहुंचाते हैं। वहीं नॉन-अल्कोहलिक फैटी लिवर उन लोगों में होता है जो शराब नहीं पीते हैं। इसका मुख्य कारण खानपान की अनियमितता और खराब लाइफस्टाइल है।

    इसे भी पढ़ें-स्किन पर इस तरह का पिगमेंटेशन हो सकता है लिवर की बीमारी का संकेत, जानें क्यों

    expert tips on fatty liver

    साइलेंट किलर है फैटी लिवर

    फैटी लिवर की समस्याको लोग साइलेंट किलर कहकर भी पुकारते हैं। ऐसा इसलिए है, क्योंकि कई बार लोग इस समस्या से ग्रस्त होते हैं, लेकिन उन्हें इसकी जानकारी ही नहीं होती है। जिसके कारण प्रारंभ में ही इसका इलाज ना होने के कारण समस्या और भी अधिक विकट हो जाती है। जब तक व्यक्ति कोे इसकी जानकारी होती है, लिवर काफी डैमेज हो चुका होता है। इसलिए, हर किसी को यह सलाह दी जाती है कि व्यक्ति अपना समय-समय पर इलाज करवाता रहे। 

    खराब डाइट से हो सकती है फैटी लिवर की समस्या

    fatty liver problem

    फैटी लिवर की समस्या मुख्य रूप से व्यक्ति के आहार से जुड़ी है। जब कोई व्यक्ति बेहद कम उम्र से ट्रांस फैट और सैचुरेटिड फैट का सेवन करने लगता है, तो इससे उसका वजन बढ़ने लगता है। अतिरिक्त वसा शरीर के किसी भी हिस्से में जमा हो सकता है। जब यह अतिक्ति फैट लिवर पर जमा होता है तो इससे व्यक्ति को फैटी लिवर की समस्या होती है। 

    बेहतर लाइफस्टाइल से इलाज है संभव

    फैटी लिवर वास्तव में लिवर पर जमा फैट है और इसलिए इस समस्या के इलाज का सबसे प्रभावशाली उपाय है अपने लाइफस्टाइल को इंप्रूव करना। जब आप अपना वजन कम करना शुरू करते हैं। एक्सरसाइज और खान-पान की अच्छी आदतों को अपनाते हैं तो इससे धीरे-धीरे व्यक्ति केे लिवर पर जमा फैट भी कम होने लगता है और उसकी सेहत तेजी से सुधरती है। 

    इसे भी पढ़ें- लिवर को साफ करेगा ये 'डिटॉक्‍स वॉटर' 

    तो अब फैटी लिवर के बारे में महत्वपूर्ण बातों को जानने के बाद आपके लिए भी इस बीमारी से खुद का बचाव करना अधिक आसान हो गया होगा।

    अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकीअपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

    Image Credit- freepik

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।