• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Shilpa
  • Editorial, 11 May 2022, 13:31 IST

जानें एक्सपर्ट से ब्रेस्ट मिल्क को पंप और स्टोर करने का आसान तरीका

कामकाजी महिलाएं बच्चे को दूध पिलाने के लिए ब्रेस्ट मिल्क को स्टोर कर सकती हैं। आइए जानते हैं इसे स्टोर करने का सही तरीका।
author-profile
  • Shilpa
  • Editorial, 11 May 2022, 13:31 IST
Next
Article
how to pump breast milk m

शिशु के बेहतर स्वास्थ्य के लिए जन्म के 6 महीने तक मां का दूध अच्छा माना जाता है। 6 महीने बाद से बच्चे को ब्रेस्टफीड कराने के साथ साथ थोड़ा बहुत आहार देना शुरू किया जाता है। मां अपने बच्चे की सेहत के लिए बहुत ज्यादा सतर्क रहती है और अच्छी देखभाल के लिए हर तरह की कोशिश करती हैं। वहीं कामकाजी महिलाएं ब्रेस्टफीडिंग को लेकर परेशान रहती हैं कि वह पूरे दिन बच्चे को ब्रेस्टफीड कैसे कराएं। केयरटेकर रखने के बाद भी बच्चे को फीड कराना एक बड़ी समस्या हो सकती है। अगर आपके मन में भी यही सवाल है, तो यह लेख आपको जरूर पसंद आएगा। 

इस लेख में हम आपको ब्रेस्ट पंप के बारे में बताएंगे। यह कामकाजी मांओं के लिए एक अच्छा ऑप्शन है। ब्रेस्ट पंप की मदद से बच्चे को जब भी भूख लगे तो उसे दूध पीला सकते हैं। इस विषय पर हमने गायनेकोलॉजिस्ट डॉक्टर शिखा गुप्ता से बातचीत की है। उन्होंने इसको स्टोर करने के साथ साथ इसके फायदे और नुकसान के बारे में बताया है। आइए जानते हैं ब्रेस्ट मिल्क स्टोर करने का सही तरीका। 

क्या है ब्रेस्ट पंप? 

breast milk store tips in hindi ()

ब्रेस्ट पंप एक ऐसी मशीन है जिसके द्वारा महिलाएं ब्रेस्ट मिल्क को स्टोर कर सकती हैं। इसके साथ ब्रेस्ट शील्ड आती है जो निप्पल पर फिट की जाती है। इसके बाद पंप को मैन्युअली ऑपरेट किया जाता है और पंप करने पर दूध बोतल में आ जाता है। 

कैसे करें इसका इस्तेमाल 

ब्रेस्ट पंप को यूज करना बेहद आसान है। इसके लिए केवल ब्रेस्ट शील्ड को अपने निप्पल के ऊपरी तरफ अच्छे से फिट करना है इसके बाद पंप की मदद से दूध की बोतल में दूध निकाल लें। इन दिनों मार्केट में इलेक्ट्रिक पंप मिल रहे हैं जिसमें केवल स्विच ऑन करने की जरूरत होती है। वहीं अगर आप मैन्युअल पंप का प्रयोग कर रही हैं, तो आपको इसे खुद से पंप करना होगा। 

ब्रेस्ट मिल्क को पंप करने के टिप्स 

breast milk store tips in hindi ()

  • ब्रेस्ट मिल्क को पंप करने के लिए सबसे पहले आपको रिलैक्स होना होगा। इसके लिए आप किसी शांत जगह का चयन करें। 
  • इसके बाद ब्रेस्ट पर मसाज करें। इससे पंप करना आसान होता है। 
  • अगर आप इलेक्ट्रिक पंप का उपयोग कर रही हैं तो कम सेटिंग से इसकी शुरुआत करें। धीरे-धीरे इसकी स्पीड बढ़ा सकते हैं। 

हाथों से कैसे करें मिल्क स्टोर 

बहुत सी महिलाएं दूध निकालने के लिए हाथों का इस्तेमाल करना पसंद करती हैं। अगर आप भी दूध को हाथों से निकालना चाहती हैं, तो फॉलो करें ये टिप्स। 

  • सबसे पहले अपने हाथों को अच्छे से धो लें। क्योंकि बच्चे बहुत ही ज्यादा नाजुक होते हैं ऐसे में उनकी हाइजीन का ध्यान रखना जरूरी है। 
  • इसके बाद ब्रेस्ट पर हल्के हाथों से मसाज करें। इससे दूध निकालना आसान हो जाता है। 
  • इसके बाद हल्का सा झुक जाए फिर अपनी उंगलियों की मदद से ब्रेस्ट को दबाए और दूध निकालने के लिए धीरे-धीरे इसे गोलाई में हिलाएं। 
  • दूध निकालने के बाद इसे स्टोर करना बहुत जरूरी होता है। इसे आप साफ बोतल में स्टोर करें। ( ब्रेस्‍ट मिल्‍क को बढ़ाने का उपाय)

क्या यह बच्चे के लिए फायदेमंद है?

breast milk store tips in hindi ()

एक्सपर्ट के अनुसार दूध को तुरंत निकालकर पिलाया जाए, तो यह बच्चे की सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। ब्रेस्ट मिल्क निकालने के बाद रूम टेम्परेचर में तीन से चार घंटे तक खराब नहीं होता है। ब्रेस्ट पंप किया हुआ दूध बेबी की हेल्थ के लिए बाहर के दूध से बहुत अधिक फायदेमंद होता है। 

इसे जरूर पढ़ेंः  नवजात शिशु को गर्मी में नहीं होगी परेशानी, बस इन टिप्स का लें सहारा

बच्चे को कैसे पिलाएं

पंप किया हुआ ब्रेस्ट मिल्क को गर्म करने की कोई जरूरत नहीं होती है। इसे आप बच्चे को रूम टेंपरेचर में भी फीड करा सकती हैं। अगर आप इस दूध को गर्म करना चाहती हैं, तो किसी बड़े बर्तन में गर्म पानी कर लें। इसके बाद इस पानी में दूध की बोतल को एक या दो मिनट के लिए रख दें। ब्रेस्ट मिल्क को गैस या फिर माइक्रोवेव में गर्म नहीं करना चाहिए। बेबी को दूध पिलाने से पहले इसे टेस्ट जरूर करें। इसके अलावा पिलाने से पहले बोतल को जरूर हिला लें। (ब्रेस्ट मिल्क को कैसे करें स्टोर)

Recommended Video

दूध न आना 

एक्सपर्ट के अनुसार इन दिनों अधिकतर महिलाएं ब्रेस्ट पंप का उपयोग कर रही हैं। जिसकी वजह से कुछ समय बाद दूध आना बंद हो जाता है। ऐसे में बच्चे को मां का दूध नहीं मिल पाता है। तो आप कोशिश करें कि बच्चे को खुद से दूध पिलाएं। लैक्टेशन कि इस समस्या से बचने के लिए शरीर को हाइड्रेट रखें। 

उम्मीद है कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए हमें कमेंट कर जरूर बताएं और जुड़े रहें हमारी वेबसाइट हरजिंदगी के साथ।  

Image Credit: freepik

 
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।