बदलते मौसम में जब बड़े लोगों की तबीयत खराब हो सकती हैं, तो बच्चों का भी होना आम बात है। समय के साथ धीरे-धीरे अब मौसम बदल रहा है। अब सर्दिया धीरे-धीरे जा रही और गर्मी  का मौसम आ रहा है। लेकिन, इस बदलते मौसम में बच्चों को सर्दी-जुकाम आदि बीमारी से ग्रसित होना आम बात है। हालांकि, अगर इसका ध्यान पहले से रखा जाए तो कई बीमारियों से बच्चों को दूर रखा जा सकता है।

इस बदलते मौसम में बच्चों के बहती नाक से कई मां हमेशा परेशान रहती है। ऐसे में बहती नाक की समस्या को दूर करने के लिए तरह-तरह के उपाय को भी अपनाती रहती हैं, और फिर भी ठीक नहीं होता है। कई बार डॉक्टर के पास जाने की ज़रूरत भी पड़ जाती है। ऐसे में अगर आप भी बच्चों के बहती नाक से कुछ अधिक भी परेशान हैं, तो हम आपको कुछ घरेलू उपाय बताने जा रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप बच्चों के बहती नाक की समस्या को दूर कर सकती हैं। तो चलिए जानते हैं।

तुलसी के पत्ते 

home remedies for child running nose tilasi inside

वर्षों में भारतीय घरों में तुलसी को एक औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता रहा है। आज भी कई लोग तुलसी के पत्ते को बीमारियों को दूर करने के लिए रामबाण इलाज समझते हैं और करते भी हैं। ठीक इसी तरह, आप भी बच्चों के बहती नाक की परेशानी को दूर करने के लिए इसका उपयोग कर सकती हैं। इसके लिए आप तुलसी के पत्ते से साथ गुड़ मिलाकर एक से दो बार सेवन करने के लिए दीजिये। इससे बच्चों को आराम मिलेगा और नाक का बहना भी कम हो जायेगा। इसका सेवन इम्यून सिस्टम के लिए भी बेस्ट माना जाता है।

इसे भी पढ़ें: Baby Care: इन बातों का रखें ध्यान, बच्चा रहेगा हमेशा खुश और तंदरुस्त

अदरक का सेवन 

home remedies for child running nose jingar inside

अदरक भी बहती नाक की समस्या को दूर करने के लिए एक असरदार घरेलू उपाय है। इसके सेवन से शरीर गर्म भी रहता है और बैक्टीरिया से भी बच्चे दूर रहते हैं। इसके लिए आप अदरक का रस निकालकर शहद के साथ बच्चों को सेवन करने के लिए दे सकती हैं। इसके सेवन से जल्द ही नाक का बहना बंद हो जायेगा। इसके लिए आप सप्ताह में एक से दो बार सेवन करने के लिए दे सकती हैं।

Recommended Video

काढ़ा है फायदेमंद 

home remedies for child running nose kadha inside

सर्दी-जुकाम से लेकर कई अन्य बीमारियों के लिए एक रामबाण इलाज है काढ़ा का सेवन करना। कई बार बड़े लोग भी सर्दी-जुकाम और गले की खराश के लिए काढ़ा का उपयोग करते हैं। अगर आप भी बच्चे के बहती नाक से परेशान है, तो पानी में लौंग, इलायची, अदरक, हल्दी, अजवायन, तुलसी आदि डालकर उबाल लीजिये और ठंडा होने के बाद बच्चे को सेवन करने के लिए दीजिये। इसके सेवन से बच्चा अच्छा महसूस भी करेगा और बहती नाक की परेशानी से भी दूर रहेगा।

इसे भी पढ़ें: इस तरह रखें छोटे बच्चों का ख्याल इन सर्दियों के मौसम में

लहसुन और सरसों तेल का मालिश  

home remedies for child running nose inside

अगर बच्चा छोटा है तो लहसुन और सरसों के तेल मालिश से भी बहती नाक की परेशानी को दूर किया जा सकता है। इसके लिए आप एक बर्तन में लहसुन और सरसों के तेल को गरम कर लीजिये और बच्चे को नाक और गले की अच्छे तरीके से मालिश कर दीजिये। इससे बच्चे को तुरंत आराम मिलेगा और नाक बहना भी बंद हो जायेगा। इसके आलवा आप नीलगिरी के तेल का भी उपयोग कर सकती हैं।

इन घरेलू उपयों के अलावा आप शहद और हल्दी-दूध का भी सेवन करने के लिए दे सकती हैं। हालांकि, इन घरेलू उपायों में परेशानी को दूर किया तो जा सकता है लेकिन, बच्चा कुछ अधिक ही परेशान है, तो आपको एक बार डॉक्टर से ज़रूर मिलाना चाहिए। अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@media.self.com,static.langimg.com)