अक्ल दाढ़ का निकलना वास्तव में बेहद दर्दभरा होता है। ये किसी भी व्यक्ति के मुंह में मसूढ़ों में सबसे पीछे की तरफ निकलते हैं। आमतौर पर सभी में 4 अक्ल दाढ़ होते हैं, जिनमें से प्रत्येक शीर्ष पर और नीचे हर कोने में होता है। ये मोलर्स का तीसरा सेट है जो आमतौर पर 17 और 25 वर्ष की आयु के बीच उभरता है। अक्ल दाढ़ निकलने का अनुभव वास्तव में दर्द भरा होता है और यदि ये इसकी वजह से मसूड़ों में सूजन और अन्य मोलर्स को नुकसान पहुँचता है तो इसे निकलवा देना ही बेहतर होता है। 

अक्ल दाढ़ निकलने के दर्द को कुछ घरेलू नुस्खों के द्वारा कम किया जा सकता है। इन घरेलू नुस्खों के बारे में स्माइल केयर डेंटल यूनिट ,कोलकाता के डॉक्टर विवेक तिवारी (B.D.S, MIDA ) बता रहे हैं, जिन्हें आजमाकर अक्ल दाढ़ के दर्द से राहत पाई जा सकती है। लेकिन यदि किसी कारण से राहत नहीं मिले तो तुरंत डेंटिस्ट से संपर्क करना जरूरी है। दर्द से राहत दिलाने वाले घरेलू नुस्खे हैं-

  • प्याज का इस्तेमाल
  • नमक के पानी का कुल्ला  
  • लौंग का इस्तेमाल 
  • ग्रीन टी एक्सट्रैक्ट 
  • लहसुन का इस्तेमाल 
  • हींग का इस्तेमाल 
  • आइस पैक का इस्तेमाल 

प्याज का इस्तेमाल

onion in tooth pain 

प्याज का उपयोग अक्सर दर्द और सूजन को कम करने के लिए किया जाता है। प्याज में सूजन को कम करने वाले और रोगाणुरोधी गुण होते हैं जो प्रभावित क्षेत्र में सूजन और बैक्टीरिया को कम करने में मदद करते हैं। प्याज में फाइटोकेमिकल्स होते हैं जो अक्ल दाढ़ के क्षेत्रों से दर्द पैदा करने वाले कीटाणुओं को दूर करने में मदद करते हैं। इस घरेलू उपाय का उपयोग करने के लिए, आपको कच्चे प्याज को चबाना होगा, प्याज का तीखापन दर्द से छुटकारा पाने के लिए बेहतर होगा। ज्यादा दर्द वाली स्थिति में कुछ मिनट तक प्याज के टुकड़े को चबाते रहें जब तक दर्द कम न हो जाए और फिर इसे थूक दें। ऐसा करने से प्याज से रस आपके दांत में प्रवेश करेगा और सूजन और बैक्टीरिया को कम करेगा।

इसे जरूर पढ़ें:क्या आपके दांतों में सेंस्टिविटी होती है ? जानें इसके कारण और इलाज

नमक के पानी का कुल्ला

salt water uses 

नमक के पानी का कुल्ला मुंह से बैक्टीरिया को हटाने में मदद कर सकता है क्योंकि इसमें कीटाणुनाशक गुण होते हैं। जब अक्ल दाढ़ मसूड़ों से बाहर आते हैं, तब उस क्षेत्र के चारों ओर बैक्टीरिया का निर्माण हो सकता है जो दर्द का कारण बन सकता है। गुनगुने पानी में नमक मिलाकर कुल्ला करने से दर्द में तुरंत राहत मिलती है साथ ही ये बैक्टीरिया को भी कम करने में मदद करता है। गुनगुने नमक के पानी से मसूड़ों में सूजन कम होगी और प्रभावित क्षेत्र से मलबे को हटाने में भी मदद मिलेगी। ये कुल्ला करने के लिए  एक कप गर्म पानी में 1 चम्मच नमक मिलाएं और इसका एक घूंट लेकर इसे 30 सेकंड के लिए अपने मुंह में घुमाएं और फिर इसे बाहर थूक दें। सर्वोत्तम परिणामों के लिए दिन में 2-3 बार कुल्ला करें।

लौंग का इस्तेमाल 

clove in wisdom tooth

दांत में दर्द होने पर लौंग सबसे ज्यादा इस्तेमाल की जाने वाली और सबसे प्रभावी सामग्री में से एक है। दर्द को कम करने के लिए, लौंग का तेल तुरंत राहत प्रदान कर सकता है क्योंकि इसमें यूजेनॉल नामक एक रसायन होता है, जिसमें जीवाणुरोधी गुण होते हैं जो दर्द वाली जगह को सुन्न कर देता है। लौंग के तेल में एंटी-फंगल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो बैक्टीरिया को दूर कर सकते हैं और सूजन को कम कर सकते हैं। लौंग का तेल लगाने के लिए इसे रुई के फाहे में डुबोकर दर्द वाली जगह पर रखें। यदि तेल उप्लब्श नहीं है तो लौंग को दर्द वाले स्थान पर रखें और मिनटों में दर्द से छुटकारा पाएं। 

Recommended Video

ग्रीन टी एक्सट्रैक्ट

green tea extract

मसूड़ों से जब अक्ल दाढ़ बाहर निकल रही होती है तब मसूड़ों में सूजन हो सकती है। सूजन को कम करने के लिए ग्रीन टी एक्सट्रैक्ट एक प्रभावी घरेलू नुस्खा है। ग्रीन टी में टैनिक एसिड होता है जिसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। यह ग्रीन टी एक्सट्रैक्ट सूजन कम करने और बैक्टीरिया के संक्रमण से लड़ने के लिए उपयोगी माना जाता है। इस घरेलू उपाय के लिए आप ग्रीन टी बैग की गरम पानी में डिप करके रखें और थोड़ी देर बाद इसी पानी से कुल्ला करें। जल्द ही आपको अक्ल दाढ़ के दर्द से राहत मिलेगी।  

लहसुन का इस्तेमाल

garlic for toothache 

लहसुन का इस्तेमाल अक्ल दाढ़ दर्द में बहुत आराम पहुंचाता है। लहसुन में एंटीबॉयोटिक गुण होते हैं जिसे खाने से दांतों में किसी प्रकार के संक्रमण से बचाव किया जा सकता है। लहसुन में एलीसिन होता है जो दांतों के पास से बैक्टीरिया, जर्म्स और जीवाणुओं को समाप्त कर दांतो को स्वस्थ और मजबूत बनाता है। अगर अक्ल दाढ़ में दर्द हो रहा हो तो लहसुन की एक कली को दांत के नीचे रखिए इससे दांत का दर्द समाप्त हो जाएगा। 

हींग का इस्तेमाल 

heeng for wisdom tooth

अक्ल दाढ़ में दर्द होने पर दर्द वाले स्थान पर हींग का इस्तेमाल करने से इस दर्द से तुरंत राहत मिलती है। चुटकी भर हींग लेकर इसे नींबू या मोसंबी के रस में मिलाकर रुई के फाहे में लेकर अक्ल दाढ़ वाली जगह पर रखें कुछ ही देर में दर्द से राहत मिलेगी। अक्ल दाढ़ दर्द के निवारण के लिए हींग को सबसे उपयोगी माना जाता है। इसलिए आप सीधे हींग का इस्तेमाल भी दर्द वाली जगह पर कर सकते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:क्या आपका पसंदीदा टूथपेस्ट आपके दांतों की सुरक्षा करने में सक्षम है, जानें डेंटल एक्सपर्ट की राय

आइस पैक का इस्तेमाल

ice pack for wisdom tooth 

सूजन को कम करने और अक्ल दाढ़ के दर्द से राहत पाने के लिए जबड़े पर आइस पैक लगाना एक आसान और प्रभावी घरेलू उपाय है। अपने जबड़े पर आइस पैक लगाने से दर्द और सूजन को काफी हद तक कम किया जा सकता है। यह प्रभावित क्षेत्र को थोड़ी देर के लिए सुन्न कर देगा, जिससे दर्द से राहत मिलेगी। आइस पैक बनाने के लिए बस एक तौलिया या मोटे कपडे में कुछ बर्फ के टुकड़े लपेटें और इसे अपने चेहरे के बाहर की तरफ जबड़े पर रखें, जहाँ यह दर्द होता है। जब तक दर्द कम नहीं हो जाता तब तक इसे 15 मिनट तक पकड़े रखें । उसी क्षेत्र पर आइस पैक को फिर से लगाने से पहले 15 मिनट तक प्रतीक्षा करें। जल्द ही दर्द से राहत मिलेगी। 

ये सभी घरेलू उपाय आपको अक्ल दाढ़ निकलने के दर्द से तुरंत राहत दिला सकते हैं, लेकिन अधिक समस्या होने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें। इसी तरह के अन्य रोचक लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit:  freepik and shutterstock