नियमित एक्सरसाइज करते रहना सेहत के लिए कितना ज़रूरी है ये लगभग हम सभी जानते हैं। लेकिन, अगर आपसे यह सवाल किया जाए कि आयुर्वेद के अनुसार एक्सरसाइज के क्या नियम हो सकते हैं, तो फिर आपका जवाब क्या हो सकता है? शायद आपके पास इस सवाल का कोई सटीक जानकारी नहीं हो। आपको बता दें कि आयुर्वेद के अनुसार एक्सरसाइज करने के कुछ ऐसे नियम होते हैं जिन्हें फॉलो करके सेहत को ख़राब होने से बचा सकते हैं। आज इस लेख में आयुर्वेद की डॉक्टर वारालक्ष्मी बताने जा रही हैं कि आयुर्वेद क्या कहता है एक्सरसाइज करने बारे में, तो आइए जानते हैं।

कब करें एक्सरसाइज?

ayurveda guidelines for exercise inside

ऐसे बहुत से लोग है जो किसी एक समय नहीं बल्कि कभी सुबह, दोपहर तो कभी शाम के समय एक्सरसाइज करते हैं। लेकिन, डॉक्टर वारालक्ष्मी के अनुसार आयुर्वेद के अनुसार सुबह से एक्सरसाइज करना सेहत के बेस्ट हो सकता है। उनके अनुसार सुबह 6 बजे से लेकर 10 बजे के अंदर एक्सरसाइज करना सेहत के लिए बेस्ट होता है। ऐसे में अगर आप दोपहर या शाम को एक्सरसाइज करते हैं, तो अब आपको सुबह से ज़रूर एक्सरसाइज करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: सुबह में पानी पीने के नियमों के बारे में क्या कहता है आयुर्वेद, आप भी जानें

कितनी देर तक एक्सरसाइज करें 

ayurveda guidelines for exercise inside

अगर आप 10-20 मिनट तक ही एक्सरसाइज करते हैं, तो फिर इसके बारे में आपको सोचना चाहिए। क्योंकि, डॉक्टर लक्ष्मी के अनुसार सुबह में एक्सरसाइज लगभग 40-45 मिनट तक ज़रूर करना चाहिए। अगर आप एक घंटे एक्सरसाइज करते हैं तो यह आपके लिए बेस्ट हो सकता है। आगे लक्ष्मी कहती हैं कि सर्दियों और स्प्रिंग मौसम के दौरान एक्सरसाइज करना आयुर्वेद के अनुसार बेस्ट समय माना जाता है।

Recommended Video

एक्सरसाइज में क्या करें?

ayurveda guidelines for exercise inside

डॉक्टर वारालक्ष्मी के अनुसार ज़रूरी नहीं कि एक्सरसाइज के दौरान भारी वजन को उठाकर ही एक्सरसाइज करना है। बल्कि, उनके अनुसार आप कुछ किलोमीटर पैदल चलाना, स्विमिंग करना, साईकिल चलाना, रनिंग करना, बैडमिंटन खेलना आदि भी एक्सरसाइज की तरह है। ऐसे में आप सुबह-सुबह इनके द्वारा भी एक्सरसाइज कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: हर उम्र की महिला रोजाना करें ये 3 योग, बीमारियां नहीं भटकेंगी पास

कब ना करें एक्सरसाइज?

ayurveda guidelines for exercise inside

वैसे तो बहुत से कारण होते हैं कि एक्सरसाइज कब नहीं करना चाहिए। लेकिन, वारालक्ष्मी कहती हैं कि एक्सरसाइज के दौरान सांस लेने में परेशानी हो, पैर दर्द या शरीर का अन्य भाग दर्द, सिर दर्द करें या फिर शरीर में पानी की कमी लगे तो एक्सरसाइज करने से बचना चाहिए। इसके अलावा डॉक्टर वारालक्ष्मी कहती हैं कि महिलाओं को पीरियड के दौरान भी एक्सरसाइज करने से बचाना चाहिए।

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@freepik)