आज के तेज और तनावपूर्ण जीवन में हमें करियर, परिवार और सामाजिक जीवन की चुनौतियों का सामना करना पड़ता हैं। और इसके कारण, हमें कभी भी अपनी सांसों पर ध्यान केंद्रित करने का समय नहीं मिलता है, जिससे हेल्‍थ संबंधी विभिन्न समस्याएं होती हैं - शारीरिक और मानसिक। इसलिए इससे निपटने में आपकी मदद करने के लिए, हम निर्देशित ध्यान पटरियों के साथ आए हैं जो आप अपने श्वास पर ध्यान केंद्रित करेंगे, अपने दिमाग को शांत करेंगे और आपके शरीर को आराम पहुंचाएगे। इसका अभ्यास करने से आप डीप रेस्‍ट में रहेंगे और साथ ही आपको सतर्क भी रखेंगे। नियमित अभ्यास भी आपको अपने चक्रों को सक्रिय करने में मदद मिल सकती है। चलिए और अपने आप को अपने भीतर के स्व के साथ संपर्क में आने दें। और इस बारे में हमें बॉलीवुड एक्‍ट्रेस शिल्‍पा शेट्टी बता रही हैं। जिसे हम फिटनेस फ्रीक और योगा एक्‍सपर्ट भी मानते हैं। 

जी हां वैश्विक महामारी और इसके संकट के मद्देनजर, शिल्पा शेट्टी द्वारा एक विशेष निर्देशित मेडिटेशन कार्यक्रम लॉन्‍च किया है - पॉजिटिव एनर्जी के लिए चक्र संतुलन जो शरीर में अवरुद्ध चक्रों या ऊर्जा केंद्रों को भर देता है। और इसकी जानकारी उन्‍होंने अपने इंस्‍टाग्राम पर एक वीडियो शेयर करके दी हैं।

इसे जरूर पढ़ें: शिल्पा शेट्टी से जानिए हेल्दी रहने के लिए योगा के अलावा किन चीजों को करना है शामिल

इंस्‍टाग्राम पर वीडियो शेयर करते हुए शिल्‍पा शेट्टी ने कैप्‍शन में लिखा है, ''यह मेरी हेल्‍थ का एक सीक्रेट है, और आज गर्व के साथ मैं इसे अपने ऐप पर विशेष रूप से शेयर कर रही हूं। चक्र मेडिटेशन मैं हफ्ते में कम से कम 3 बार करती हूं, विशेष रूप से ऐसे समय में जब लॉकडाउन आपको डाउन कर रहा है। चक्र या ‘spinning wheels’ 7 ऊर्जा का केंद्र हैं, हमारी चेतना हमारे शरीर द्वारा संचालित होती है और विचारों और भौतिक ऊर्जा के अभिसरण हैं।'' 

 
 
 
View this post on Instagram

This is the secret to my well-being, and today with pride I share it exclusively on my App. Chakra Meditation is what I practice at least 3 times a week, especially in times like these when the lockdown can bog you down. Chakras or ‘spinning wheels’ are seven energy centres, our consciousness is governed by our bodies. They are the convergence of thoughts and physical energy. Our chakras when aligned have an abundance of possibilities. Activating them helps achieve success, prosperity, creativity, stability, alleviates stress/anxiety, and increases clarity of the mind; while ensuring overall well-being of the human body and mind. For all you people out there, please try out THIS meditation program on the @shilpashettyapp, ‘Chakra Balance for Positive Energy’. Try it... it works wonders, leaves you feeling centered and calm. You can download the App (head to my stories) and embark on your healing journey today... Swasth Raho, Mast Raho! With Gratitude, SSK . . . . . #SwasthRahoMastRaho #Chakras #ChakraBalance #SpiritualAwakening #EnergyCenters #wellbeing #WorkoutAtHome #yoga #yogi #positivity #balance #stability #PositiveEnergy

A post shared by Shilpa Shetty Kundra (@theshilpashetty) onMay 12, 2020 at 3:30am PDT

आगे उन्‍होंने लिखा, ''जब हमारे चक्रों में संभावनाओं की बहुतायत होती है तो उन्हें सक्रिय करने से सफलता, समृद्धि, रचनात्मकता, स्थिरता प्राप्त करने में हेल्‍प मिलती है, तनाव / चिंता को कम करता है, और मन की स्पष्टता को बढ़ाता है; मानव शरीर और मन की समग्र भलाई सुनिश्चित करते हुए। आप सभी लोग, कृपया @shilpashettyapp के इस मेडिटेशन कार्यक्रम को करने की कोशिश करें, सकारात्मक ऊर्जा के लिए 'चक्र संतुलन' की कोशिश करें ... यह अद्भुत काम करता है, आपको केंद्रित और शांत महसूस करता है। आप एप्लिकेशन डाउनलोड कर सकते हैं और आज अपनी चिकित्सा जर्नी पर लग सकते हैं ...स्वस्थ रहो, मस्त रहो! आभार के साथ।''  

Recommended Video

चक्र संतुलन सात चक्रों, या ऊर्जा केंद्रों की एक श्रृंखला में प्राचीन यौगिक परंपरा पर आधारित है, जो एक आंतरिक रूप से जुड़े सिस्टम का हिस्सा हैं। उन्हें सक्रिय करने से समग्र कल्याण के साथ-साथ सफलता, समृद्धि, जुनून, रचनात्मकता, इच्छा शक्ति और स्थिरता प्राप्त करने की क्षमता बढ़ जाती है। यह विशिष्ट ध्यान कार्यक्रम पश्चिम में व्यापक रूप से प्रचारित और अभ्यास किया जाता है, और इसके लाभों पर दुनिया भर के कई मनोवैज्ञानिकों और वैज्ञानिकों द्वारा शोध भी किया जाता है। हमारे मुख्य फिटनेस फ्रीक, शिल्पा शेट्टी कुंद्रा द्वारा प्रदर्शित, यह मेडिटेशन कार्यक्रम शरीर और मन के भीतर संतुलन खोजने में मदद करेगा।

इसे जरूर पढ़ें: शिल्पा शेट्टी के इन 10 योग पोज से लीजिए मोटिवेशन और हेल्‍दी रहें

7 चक्र बैंलेेेस करने के फायदे

  • मानसिक, शारीरिक, आध्यात्मिक और भावनात्मक समस्‍याओं को ठीक करने की क्षमता होती है।
  • खुलापन, स्मृति, एकाग्रता और जागरूकता में वृद्धि होती है।
  • समझ, व्यवहार और विचार प्रक्रिया की धारणा के संदर्भ में सकारात्मक दृष्टिकोण होता है। 
  • रचनात्मकता और बेहतर संसाधनशीलता आती है। 
  • आत्म-मूल्य, आत्म-सम्मान और आत्मविश्वास की भावना आती है।
  • बेहतर और गहरी नींद, अपनी भावनाओं पर बेहतर कंट्रोल होता है। 
  • मन में शांति विकसित करने में हेल्‍प करता है।
  • ब्‍लड प्रेशर को लो करने में हेल्‍प करता है 
  • तनाव और चिंता को दूर करने में हेल्‍प करता है
  • इम्‍यूनिटी बढ़ाने में हेल्‍प करता है। 

7 चक्रों की जानकारी 

मूलाधार चक्र
यह हमारे शरीर का सबसे पहला चक्र है। यह 4 पंखुरियों वाला आधार चक्र होता है जो पृथ्वी तत्‍व से जुड़ा है। यह चक्र बताता है कि आप बिना डर के इस धरती पर कैसे रह सकते है। 

स्वाधिष्ठान चक्र
यह चक्र की 6 पंखुरियां होती है और इसका संबध पानी से है। यह चक्र हमारे इमोशनल होने की पहचान बताता है। जब यह चक्र जागृत होता है तो हमें ख़ुशी का अहसास होता है।
 
मणिपुर चक्र
यह चक्र नाभि से थोड़ा उपर स्थित होता है और यह आग से जुड़ा हुआ है। यह चक्र आपके आत्मविश्वास को जगाता है।
 
अनाहत चक्र
अनाहत चक्र को हृदय चक्र भी कहते है और इसका तत्व हवा है। यह चक्र आपको बिना शर्त प्यार महसूस करवाता है और प्यार दुनिया का सबसे अच्छा अहसास है।
 
विशुद्द चक्र
यह चक्र गले में स्थित है और इसका तत्व आवाज है। इस चक्र जागृत होने पर आप अपनी बात रखने के अधिकारी होते है।
 
आज्ञाचक्र
यह चक्र तत्व प्रकाश है। जिस व्यक्ति की ऊर्जा यहां ज्यादा सक्रिय है वह बहुत बुद्दिमान और तेज दिमाग वाला होता है।
 
सहस्त्रार चक्र
यह शरीर का सबसे आखिरी चक्र है जो की सिर पर स्थित होता है। यह मोक्ष का द्वार होता है।

तो देर किस बात की अगर आप भी बॉडी के इन 7 चक्रों को खोलकर खुद को चमकदार बनाएं। इस तरह की जानकारी पाने के लिए हर जिंदगी से जुड़े रहें।