क्‍या आप वजन कम करने वाली अलग-अलग तरह की डाइट प्‍लान अपनाते-अपनाते थक गई हैं और बावजूद इसके आपका वजन कम नहीं हो रहा है? तो हम आपको बताते हैं कि ऐसा क्‍यों हो रहा है। जी हां हम एक ऐसे वातावरण में रहते हैं जहां pesticides और केमिकल का बहुत ज्‍यादा इस्‍तेमाल किया जाता है और प्रिजर्वेटिव तो खाने की तमाम चीजों में इस्‍तेमाल होता है। इसलिए यह समझना बहुत जरूरी है कि फल, सब्जियों और अन्‍य पशुओं को एंटीबायोटिक और हार्मोन के साथ ट्रीट किया जाता है ताकि वह अपने साइज से बड़ी दिख सकें। हमारी बॉडी के लिए इन हानिकारक पदार्थो को डाइ‍जेस्‍ट करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है इसलिए यह टॉक्सिन के रूप में फैट सेल्‍स में जमा हो जाते हैं और बॉडी के कामकाज को ठीक से होने नहीं देते हैं। और यह हानिकारक टॉक्सिन वजन बढ़ने का कारण बनते हैं।

लेकिन इन छिपे हुए टॉक्सिन का पता लगाकर और आप अपनी बॉडी को डिटॉक्‍स करके आसानी और सही तरीके से वजन कम कर सकती हैं। आइए जानें कौन से है ये छिपे हुए 4 टॉक्सिन और इससे कैसे बचा जा सकता है। 

Pesticides

Pesticides health

फलों और सब्जियों में पाए जाने वाले कीटनाशक endocrine के लिए खतरा है जो वजन से जुड़ा होता है। यह आपकी बॉडी को कई तरह से प्रभावित करता है, जिसमें एस्ट्रोजेन की नकल सबसे हानिकारक होती है। इससे बॉडी की लीन मसल्‍स को बनाने की क्षमता कम हो जाती है और यह फैट स्‍ट्रोरेज को बढ़ाता है। इन कीटनाशकों में से अधिकांश मोटापे को बढ़ावा देने के लिए फैट और लिपिड metabolism को अनुचित तरीके से promote करते हैं।

विकल्‍प:Organic फलों और सब्जियों को अपनी डाइट में शामिल करें। खाने से पहले कच्‍ची सब्जियों को ठीक से साफ करके खाएं।

Artificial sweeteners

artifical sweetners health

अक्‍सर मीठे में चीनी की जगह महिलाएं artificial sweeteners को लेना पसंद करती हैं। लेकिन चीनी के विकल्‍प का डाइट और ड्रिंक में लेने वजन कम करने की बजाय बढ़ने लगता हे साथ ही डायबिटीज और हाई ब्‍लड प्रेशर की समस्‍या भी हो सकती है।

इसे जरूर पढ़ें: खूब जमकर पालक खाइये और अपना वजन घटाइये

दूर रहें: चीनी के विकल्प जैसे एस्पार्टेम, सुक्रोलोस और सैकिरिन।

High fructose corn syrup

High fructose corn syrup health

पेय पदार्थों में high fructose corn syrup की खपत के कारण वेट और मोटापा हो सकता है यह ग्‍लूकोज के अवशोषण को बढ़ाकर लीवर के कार्य में बाधा उत्‍पन्‍न कर सकता है इससे insulin resistance और मोटापा बढ़ जाता है।

जरूरी है: पैक किए गए फूड के लेबल्स को ध्‍यान से पढ़ें ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि आप अनजाने में अधिक कार्न सिरप का सेवन तो नहीं कर रही हैं।

Recommended Video

हाइड्रोजनीकृत तेल

Hydrogenated oils health

इसे ट्रांस-फैटी एसिड के रूप में भी जाना जाता है, हाइड्रोजनीकृत तेलों में पकाया खाना खाने से मेटाबॉलिज्‍म स्‍लो हो जाता है और कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ने लगता है। बॉडी में ऑयल इस्‍तेमाल करने की जगह हेल्‍दी फैट के लिए allotted होता है और यह गुड फैट की तरह काम नहीं कर सकता है। 

क्यों बचें: क्योंकि हाइड्रोजनीकृत तेल अगर सिस्टम में अधिक रहता है, तो अतिरिक्त फैट अवशोषण होता है।

Refined sugars और carbs: रिफाइंड शुगर और कार्बोहाइड्रेट blood stream में तेजी से अव‍शोषित होकर के बॉडी के ब्‍लड शुगर लेवल को बढ़ाते हैं। इसके अलावा refined carbs और sugar खाने से लाइफस्‍टाइल से जुड़े रोगों के होने का खतरा काफी बढ़ सकता है और आप मोटापे, हार्ट डिजीज और टाइप-2 डायबिटीज का शिकार हो सकती हैं।

निवेश करें: Whole foods जिनमें फाइबर बहुत अधिक मात्रा में हो और अविश्वसनीय हेल्‍दी हैं।

इसे जरूर पढ़ें: सिर्फ bed पर लेटे-लेटे करें ये exercises

डिटॉक्स कैसे करें

  • फ्रेश फूड प्रोडक्‍ट ही खाएं और processed, refined और फास्‍ट फूड से बचें।
  • फ़िल्टर्ड पानी पीना चाहिए जो बॉडी से toxins को बाहर निकालने का एक शानदार तरीका है। एक दिन में कम से कम तीन लीटर पानी पीएं।
  • यह भी सुनिश्चित करें कि किसी भी हानिकारक bacteria को नष्‍ट करने के लिए खाने को पूरी तरह से पकाया जाना चाहिए। खरीदने से पहले लेबल को अच्‍छी तरह से पढ़ लें ताकी आप हानिकारक सामग्री को खरीदने से बच सकें।
  • हानिकारक कीटनाशक और केमिकल के सेवन से बचने के लिए जैविक खाएं। Organic foods किसी भी life-threatening pesticides और एंटीबायोटिक दवाओं के उपयोग के बिना उगाए जाते हैं।

अगर आप भी आसानी और तरीके से वेट लॉस करना चाहती हैं तो पहले इन toxins को बॉडी से डिटॉक्‍स करें।