एक्सरसाइज रूटीन में अक्सर बेली फैट कम करने के लिए प्लैंक्स करने की सलाह दी जाती है। यकीनन प्लैंक्स एक ऐसी एक्सरसाइज है जिससे कम समय में आप काफी ज्यादा कैलोरीज बर्न कर सकते हैं। अगर आपको एब्स की एक्सरसाइज करनी है तो ये एक बहुत सही तकनीक है जिससे पेट को टोन किया जा सकता है। पर आसान दिखने वाली इस तकनीक की सबसे बड़ी समस्या ये है कि कई लोग इससे जुड़ी गलतियां कर बैठते हैं। 

न सिर्फ प्लैंक मिस्टेक्स से आपको सही फिटनेस रूटीन नहीं दे पाएंगी बल्कि इनकी वजह से आपको चोट भी लग सकती है। सीधा सा दिखने वाला प्लैंक भी आपको इंजुरी दे सकता है। तो चलिए आज आपको बताते हैं कि प्लैंक्स करते समय किस तरह की गलतियों को नहीं करना चाहिए। 

1. टाइमर नहीं सांस पर करें भरोसा-

कई लोगों को लगता है कि वो जितनी ज्यादा देर प्लैंक पोजीशन में रहेंगे उन्हें उतना ज्यादा फायदा मिलेगा, लेकिन स्टॉप वॉच या टाइमर की मदद से एक्सरसाइज करने वाले लोगों को ये जान लेना चाहिए कि इस दौरान लंबी सांसें लेना आपको ज्यादा फायदा दे सकता है। 

इसका मतलब है कि प्लैंक पोजीशन में गहरी सांस भरें और मुंह से सांस छोड़ें। प्लैंक पोजीशन में इससे बेली बटन मूव करेगा और ये तरीका आपको ज्यादा कैलोरी कम समय में बर्न करने में मदद करेगा। 

plank mistakes for begineers

इसे जरूर पढ़ें- मोटे गालों को पतला करने के लिए 3 बेस्ट एक्सरसाइज, चेहरे पर आएगी चमक और कम होगा Face Fat

2. लोअर बैक को झुकाना-

प्लैंक को करने वाले लोगों द्वारा की जाने वाली सबसे कॉमन गलती है लोअर बैक को झुकाने की। इस गलती से आपके लोअर बैक में स्प्रेन आ सकता है और इससे प्लैंक का असर बहुत कम हो सकता है। प्लैंक करने के लिए आपको अपना लोअर बैक सीधा रखना होगा। अगर आप लोअर बैक को झुका कर रखेंगे तो आपके रिब केज पर भी असर पड़ेगा। 

आपके प्लैंक का फायदा तो होगा ही नहीं और साथ ही साथ आपके शरीर में दर्द भी बढ़ेगा। 

planks and mistakes

3. अपने हिप्स को उचका कर रखना-

प्लैंक की एक और गलती ये होती है कि लोग अपने हिप्स को उचका कर रखते हैं, ये सही तरीका नहीं है। ये प्लैंक का तरीका सही नहीं है और हो सकता है ऐसा आप बिना सोचे समझे कर रहे हों क्योंकि आपके पैरों में कोई समस्या हो या टो में बैलेंस नहीं बन पा रहा हो, लेकिन ऐसे में आपके पंजों पर असर पड़ सकता है और हो सकता है कि आपको ये परेशान कर दे। आपको अपना शरीर पैरलल लेकर आना है। 

4. प्लैंक करते समय घुटनों को मोड़ लेना-

प्लैंक करते समय घुटनों को मोड़ना सही नहीं है। घुटनों को मोड़ने पर आपके पूरे शरीर का संतुलन खो सकता है और खासतौर पर लोअर बैक पर असर हो सकता है। घुटनों को मोड़ने की कोशिश न करें और अगर आप प्लैंक की सही पोजीशन नहीं बना पा रहे हैं तो नी-प्लैंक (Knee Plank) करें जो ज्यादा बेहतर होता है। 

इसे जरूर पढ़ें- हर रोज़ 30 मिनट वॉक करने से आपके शरीर पर होंगे ये असर 

5. गर्दन को ऊपर या नीचे झुकाना-

आपका पूरा शरीर प्लैंक करते समय टेंशन की स्थिति में रहता है और इसलिए ये जरूरी है कि आप अपनी गर्दन सीधे रखें। अगर आप इसे ऊपर या नीचे रखेंगे तो हो सकता है कि गर्दन की नस चढ़ जाए। अगर आपको अपनी गर्दन का ख्याल रखना है तो न ही इसे लटकाएं न ही बहुत ऊपर रखें।  

तो अगली बार प्लैंक करते समय इन बातों का ध्यान जरूर रखना। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।