जब भी हेल्दी फूड की बात होती है तो लोग प्रोटीन से लेकर कैल्शियम, विटामिन्स से लेकर कई तरह के मिनरल्स पर अधिक फोकस करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि आपके आहार में फाइबर भी पर्याप्त मात्रा में होना बेहद ही आवश्यक है। अगर इसकी कमी हो जाती है तो शरीर में कई तरह की स्वास्थ्य समस्याएं जन्म लेने लगती हैं। आमतौर पर फाइबर फलों, सब्जियों, साबुत अनाज और फलियों में पाया जाता है। यह दो तरह का होता है-सॉल्यूबल फाइबर और इनसॉल्यूबल फाइबर। हेल्दी रहने के लिए दोनों ही तरह के फाइबर की आवश्यकता होती है।

problems due to  lack of fiber by doctor ritu

वैसे जब फाइबर से होने वाले हेल्थ बेनिफिट्स की बात हो तो उसे केवल बाउल मूवमेंट से जोड़कर देखा जाता है। यह सच है कि पर्याप्त मात्रा में फाइबर आपको कब्ज आदि से राहत दिलाता है। लेकिन फाइबर का केवल यही एक काम नहीं है। यह आपके वजन से लेकर ब्लड शुगर लेवल तक को प्रभावित कर सकता है। तो चलिए आज इस लेख में सेंट्रल गवर्नमेंट हॉस्पिटल के ईएसआईसी अस्पताल की डायटीशियन रितु पुरी आपको बता रही हैं कि फाइबर की कमी होने पर महिलाओं को किस-किस तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है-

कब्ज की समस्या

women could have these problems due to lack of fiber inside

अगर आप पर्याप्त मात्रा में फाइबर का सेवन नहीं करती हैं तो इससे आपको कब्ज की समस्या हो सकती है। दरअसल, जब आप फाइबर पर्याप्त मात्रा में नहीं लेती हैं तो इससे आपको स्टूल पास करने में समस्या होती है और फिर आपको बार-बार कब्ज की दिक्कत होने लगती है। इससे आपके शरीर में टॉक्सिन की मात्रा भी बढ़ जाती है। कब्ज के कारण आपका पाचन तंत्र भी गड़बड़ा जाता है। साथ ही आपको इरिटेशन व थकान आदि भी महसूस होता है। बता दें कि एक व्यक्ति को प्रतिदिन 20-40 ग्राम फाइबर का सेवन अवश्य करना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: फेफड़ों को स्वस्थ रखते हैं ये फूड्स, आप भी आहार में करें शामिल

एक्ने की समस्या

women could have these problems due to lack of fiber inside

आपको शायद पता ना हो, लेकिन फांइबर और एक्ने भी आपस में जुड़े है। दरअसल, जब आपके आहार में फाइबर की कमी होती है तो इससे आपको कब्ज की परेशानी होती है और टॉक्सिन भी बॉडी में जमा होने लगते हैं। इस स्थिति में, जब टॉक्सिन आपकी बॉडी में होते हैं, तो इससे आपके फेस पर भी उसका असर नजर आता है। इससे आपको एक्ने की समस्या भी हो सकती है।

Recommended Video

ब्लोटिंग या पेट फूलना

यह भी फाइबर की कमी से होने वाली एक समस्या है। जब आप सही तरह से स्टूल पास नहीं करते हैं तो इससे आपको ब्लोटिंग या पेट फूलने का अहसास होता है। जिससे आपको काफी अनकंफर्टेबल महसूस होता है।

इसे भी पढ़ें: मानसून के दौरान हो रही है आंखों में जलन और खुजली तो आजमाएं ये उपाय, तुरंत मिलेगी राहत

वजन का बढ़ना

women could have these problems due to lack of fiber inside

अगर आप सही मात्रा में फाइबर नहीं लेती हैं तो इससे आपके वजन बढ़ने के चांसेस कई गुना बढ़ जाते हैं। फाइबर आपके ब्लड शुगर को रेग्युलेट करता है, फूड डाइजेशन में मदद करता है। साथ ही आपकी भूख को भी मेंटेंन करता है। जिससे आप बार-बार और अधिक मात्रा में खाना से बचती हैं। लेकिन अगर आप फाइबर कम लेंगी तो आपको हर थोड़ी देर में भूख लगेगी, जिससे आपका कैलोरी काउंट भी बढ़ेगा और इससे तेजी से वजन बढ़ना शुरू हो जाएगा।

ब्लड प्रेशर का बढ़ना

अगर आपकी डाइट में फाइबर की मात्रा कम होती है तो इससे ब्लड प्रेशर भी बढ़ने लगता है। खासतौर से, जिन महिलाओं को पहले से ही हाई बीपी की प्रॉब्लम है, उनके लिए तो यह बहुत अधिक समस्या का कारण बन सकता है। ध्यान रखें कि फाइबर ब्लड प्रेशर को मेंटेन करने में मदद करता है, इसलिए इसे पर्याप्त मात्रा में लेना बेहद आवश्यक है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@freepik)