आंखों की समस्या को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। बता दें कि बारिश के मौसम में अक्सर देखा गया है जब लोगों को आंखों में खुजली, ड्राईनेस, जलन जैसी समस्याएं शुरू हो जाती हैं। यही वजह है कि लोग बारिश के मौसम में आंखों को अधिक प्रोटेक्ट करते हैं। हालांकि, कई बार आंखों से जुड़ी ये समस्याएं किसी बड़ी परेशानी का संकेत देते हैं। मानसून में अगर आंखों में खुजली या फिर जलन जैसी समस्याएं हो रही हैं तो उसे नजरअंदाज ना करें।

आपको बता दें कि आंखों से जुड़ी कुछ परेशानियों से निपटने के लिए हम अक्सर देसी तरीका आजमाते हैं। कभी-कभी यह बेहद कारगर साबित होते हैं, लेकिन अगर परेशानी गंभीर हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। वहीं स्पेशलिस्ट शिबल भारतीय के अनुसार, कुछ ऐसे टिप्स हैं, जिसे आप आंखों की खुजली या फिर जलन जैसी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए कर सकती हैं।

आंखों में बिलनी की समस्या

eye itchy

मानसून में गंदे हाथों से खुजली या फिर धूल-मिट्टी जाने की वजह से बिलनी हो जाती है। इसकी वजह से आंखों में पानी पर आता है और धीरे-धीरे पलकों पर सूजन आ जाती है। बिलनी होने पर परेशान होने की जरूरत नहीं है, यह कुछ ही दिनों में ठीक हो जाती है। इसके लिए आप रोजाना गुनगुने पानी से आंखों की पलकों की सिकाई करें। ध्यान रखें कि पानी अधिक गर्म नहीं होना चाहिए। इसके लिए जब पानी गर्म करें तो उसमें कॉटन बॉल को डाल दें। इसके बाद इसे थोड़ी देर ठंडा होने दें और फिर इससे आंखों (आंखों को हेल्दी) की सिकाई करें।

इसे भी पढ़ें: रुजुता दिवेकर की 'यू' सीरीज में जानें यूरिक एसिड से जुड़ी सारी जानकारी

आंखें हो सकती हैं लाल

बारिश के पानी में नहाने से बचें, क्योंकि कई बार इससे भी आंखों में खुजली शुरू हो जाती है। बारिश के पानी में कई बार धूल-मिट्टी भी आने लगती है, इससे एलर्जी होने का डर रहता है। यही नहीं अगर आप स्विमिंग कर रही हैं तो अपनी आंखों पर स्विम गॉगल्स पहनकर ही करें। वही एलर्जी की वजह से ही नहीं बल्कि कई बार आंखें सर्दी-जुकाम की वजह से भी लाल हो जाती हैं। लगातार छींक और खांसने की वजह से नाक और आंख दोनों ही लाल हो जाती हैं। 

आंखों में कीड़ा चला जाये तो करें ये काम

eye problem

मानसून में कीड़े-मकोड़ों का आंतक बढ़ जाता है, ऐसे में आपको चलते समय या फिर गाड़ी चलाते वक्त अक्सर आंखों में कीड़े चले जाते हैं। अगर आपकी भी आंख में कीड़ा चला जाए तो पानी की छींटे मारने या फिर आंखों को मसलने की जगह एक चुल्लू पानी लें अपनी आंखों को उससे खोले और बंद करें। ध्यान रखें कि आपको पानी जो इस्तेमाल कर रही है वह पूरी तरह शुद्ध होना चाहिए। इसके लिए आप चाहें तो पीने वाला पानी इस्तेमाल कर सकती हैं। अब पानी से सिर्फ आंखों को पोंछ दें। थोड़ी देर कॉटन बॉल पर गुलाब जल डालकर आंखों के ऊपर रखें और 15 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें। जलन की समस्या नहीं होगी।

Recommended Video

कूल या फिर वार्म कंप्रेस की लें मदद

eye care tips

अगर आप बाहर कहीं से आई हैं और आपकी आंखे थकी-थकी या फिर आंखों में खुजली की समस्या हो रही है तो आप कूल या फिर वार्म कंप्रेस ले सकती हैं। दरअसल कुछ लोग आंखों की परेशानी के लिए कूल कम्प्रेस तो कुछ वार्म कंप्रेस की मदद लेते हैं। आप अपनी सुविधा के अनुसार कोई सा भी ले सकती हैं। कूल में एक कपड़े में बर्फ डालकर हल्के हाथों से सिकाई करें और वार्म में पानी को गर्म कर लें और उसमें एक साफ कपड़े को डाल दें। अब कपड़े को पानी में डाल दें और उसे निचोड़ कर आंखों की सिकाई करें। 

इसे भी पढ़ें: दांतों की कई समस्याओं का समाधान है एप्पल साइडर विनेगर, जानें इस्तेमाल के तरीके

कब करना चाहिए डॉक्टर से संपर्क

अगर आंखों से जुड़ी परेशानियां नॉर्मल हैं तो आप इन घरेलू तरीकों को आजमा सकती हैं। हालांकि कई बार परेशानियां दिन पर दिन बढ़ने लगती हैं, ऐसी स्थिति में आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। यही नहीं आंखों की खुजली या फिर जलन के लिए कोई भी आई ड्रॉप का इस्तेमाल ना करें, इसकी जगह आप लुब्रिकेंट आई ड्रॉप का उपयोग करें। दरअसल यह आंखों की नमी पहुंचाता है। इसके बाद भी परेशानी कम नहीं हो रही तो डॉक्टर से संपर्क करें। वहीं आंखों में कंजंक्टिवाइटिस के लक्षण दिख रहे हैं तो डॉक्टर द्वारा बताई गई दवाईयों का ही सेवन करें। इसके अलावा आप कॉन्टैक्ट लेंस का इस्तेमाल करते हैं तो समय-समय पर डॉक्टर से उसकी जांच करवाते रहें।

मानसून में अपनी आंखों को संक्रमण से बचाने के लिए आप इन टिप्स को फॉलो कर सकती हैं। इसके अलावा आपको आंखों से जुड़ी कोई गंभीर परेशानी नजर आ रही है तो तुरंत डॉक्टर से परामर्श करें। साथ ही, अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें। इसी तरह के अन्य रोचक लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।