• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

वेजाइना की क्‍लीनिंग और महक को बेहतर बनाते हैं ये फूड्स

आज हम आपको स्वस्थ योनि के लिए कुछ फूड्स के बारे में बता रहे हैं जो वेजाइना के पीएच लेवल को बनाए रखते हैं और इंफेक्‍शन्‍स को रोकते हैं।
author-profile
Published -16 May 2022, 14:17 ISTUpdated -17 May 2022, 09:15 IST
Next
Article
vaginal health diet in hindi

एक पौष्टिक आहार आपके शरीर के हर हिस्से को प्रभावित करता है यहां त‍क कि आपकी वेजाइना (योनि) की हेल्‍थ पर भी इसका असर पड़ता है। एक संतुलित योनि पीएच को 3.8 से 4.5 की सीमा में रहने की जरूरत है। योनि का पीएच बनाए रखना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि अगर इसका ध्यान नहीं रखा जाता है तो आप बैक्टीरिया और यीस्‍ट इंफेक्‍शन से ग्रस्त हो जाती हैं जिससे बदबू आ सकती है। 

सबसे अच्छी बात यह है कि अगर कुछ बुनियादी स्वच्छता बनाए रखी जाए तो वेजाइना खुद अपनी रक्षा करती है और खुद साफ हो जाती है। कुछ ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जो योनि के पीएच लेवल को बनाए रखने में आपकी मदद करते हैं और इस प्रकार इंफेक्‍शन्‍स से बचाते हैं।

आपकी योनि को आपकी आंत की तरह अपने सामान्य एसिड/एल्‍कलाइन संतुलन को बनाए रखने और संक्रमण से लड़ने के लिए स्वस्थ बैक्टीरिया की आवश्यकता होती है। आपके पेट के लिए अच्छे खाद्य पदार्थ आमतौर पर योनि के लिए भी अच्छे होते हैं। इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसे फूड्स के बारे में बता रहे हैं जो वेजाइना को क्‍लीन रखने में आपकी मदद कर सकते हैं। इन फूड्स की जानकारी हमें न्यूट्रिशनिस्ट मेघा मुखीजा जी दे रही हैं। मेघा मुखीजा 2016 से Health Mania में चीफ डा‍इटीशियन और फाउंडर हैं।

vaginal health foods expert

वेजाइना की क्‍लीनिंग के लिए फूड्स

1. पानी (Water)

हाइड्रेटेड रहने के कई फायदे हैं जिनमें यूटीआई की रोकथाम भी शामिल है। पानी का अच्छा सेवन उचित पेशाब सुनिश्चित करता है जो संक्रमण पैदा करने से पहले बैक्टीरिया को बाहर निकालने में मदद करता है। साथ ही भरपूर पानी का सेवन न केवल त्वचा को हाइड्रेट करता है बल्कि योनि के सूखेपन को भी रोकता है जो खुजली और जलन को रोकता है।

इसे जरूर पढ़ें: वेजाइना को हेल्दी रखते हैं ये 3 योग, महिलाएं जरूर करें

2. क्रैनबेरी (Cranberry)

Cranberry for vaginal health

महिलाओं में बार-बार होने वाले यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन को रोकने के लिए कई शोधों में बिना चीनी वाले क्रैनबेरी को अच्‍छा माना गया है। क्रैनबेरी में बैक्टीरिया से लड़ने के लिए शक्तिशाली एसिडिक यौगिक होते हैं। इनमें आपकी इम्‍यूनिटी को बढ़ावा देने के लिए एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन-ई और विटामिन-सी भी होते हैं।

3. शकरकंद  (Sweet potato)

शकरकंद में हाई मात्रा में विटामिन-ए होता है, जो प्रजनन क्षमता से जुड़ा होता है। यह हेल्‍दी योनि और गर्भाशय की दीवारों के लिए मसल्‍स के ऊतकों को मजबूत करने में मदद कर सकता है।

4. प्रोबायोटिक रिच फूड (Probiotic Rich Food)

दही और योगर्ट पीएच लेवल को संतुलित कर सकते हैं और गुड बैक्टीरिया पेश कर सकते हैं। यह संक्रमण को दूर करने और खमीर संक्रमण को रोकने में मदद कर सकता है।

5. नींबू (Lemon)

lemon for vagina health

नींबू विटामिन-सी से भरपूर होता है। विटामिन-सी शरीर की इम्‍यूनिटी को बढ़ाता है और यह आपको यूरिन ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन से बचाता है। विटामिन-सी आपके यूरिन और योनि में एसिड के लेवल को बढ़ाता है जिससे हानिकारक बैक्टीरिया मर जाते हैं। खट्टे फलों के नियमित सेवन से यूटीआई का खतरा कम होता है। साथ ही नींबू पानी एक प्राकृतिक मूत्रवर्धक है जो आपको ठीक से यूरिन करने में मदद करता है जिससे बैक्टीरिया और फंगस बाहर निकल जाते हैं।

6. सोयाबीन (Soyabean)

सोयाबीन में पौधे से प्राप्त फाइटोएस्ट्रोजन होता है जो एस्ट्रोजन के लेवल में कमी वाली महिलाओं के लिए फायदेमंद होता है। एस्ट्रोजन का लेवल कम होने से योनि में सूखापन होता है। सोयाबीन किसी भी रूप में योनि सूखापन में मदद कर सकता है और विशेष रूप से पोस्टमेनोपॉज़ल महिलाओं में त्वचा और रक्त वाहिका स्वास्थ्य को लाभ पहुंचा सकता है।

7. लहसुन (Garlic)

garlic for vaginal health

यह सुझाव देने के लिए कुछ शोध भी हुए हैं कि लहसुन यूटीआई के कुछ मल्‍टीड्रग रेसिस्टेंट स्‍ट्रेन्‍स के खिलाफ लड़ाई में शरीर की मदद कर सकता है। दरअसल, 2015 के एक अध्ययन से पता चला है कि 82% अनुपचारित रेसिस्टेंट बैक्टीरिया लहसुन से लिए गए कच्चे जलीय अर्क के लिए अतिसंवेदनशील थे (अन्यथा एलियम सैटिवम के रूप में जाना जाता है), इसलिए यदि आप लहसुन खाना पसंद करती हैं तो इसकी खुराक को बढ़ाने से आपको फायदा हो सकता है।

Recommended Video

8. हरी पत्तेदार सब्जियां (Green leafy vegetables)

हरी पत्तेदार सब्जियां स्वाभाविक रूप से ब्‍लड शुद्ध करती हैं और सर्कुलेशन को बढ़ाती हैं। ये योनि के सूखेपन को रोकती हैं और उत्तेजना को बढ़ाती हैं। ये साग विटामिन-ई, मैग्नीशियम और कैल्शियम से भी भरपूर होते हैं, ये सभी वेजाइना की मसल्‍स सहित सभी मसल्‍स के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं।

इसे जरूर पढ़ें: वेजाइना को हेल्‍दी रखने के लिए इन 4 चीजों से बचाना है जरूरी

आप भी इन फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करके वेजाइना को हेल्‍दी रख सकती हैं। अगर आप किसी भी अन्‍य बीमारी से परेशान है तो इन फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करने से पहले एक बार एक्‍सपर्ट से सलाह जरूर कर लें। 

आपको यह आर्टिकल कैसा लगा? हमें फेसबुक पर कमेंट करके जरूर बताएं। ऐसी ही और जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।