हल्दी से आप बेहद हेल्दी चाय तैयार कर सकती हैं, जो ना सिर्फ़ सेहत के लिए फ़ायदेमंद है, बल्कि यह कई तरह की बीमारियों से आपको दूर भी रखेगी। बता दें कि हल्दी की चाय एक डिटॉक्स ड्रिंक है, जिसका सेवन आप कभी भी कर सकती हैं। आप सुबह या शाम को किसी भी समय हल्दी की चाय पी सकती हैं, लेकिन इसका सेवन सीमित मात्रा में ही करें क्योंकि हम अन्य खाद्य पदार्थों में भी हल्दी का प्रयोग करते हैं, अधिक मात्रा में खाने से शरीर अंदर से गर्म हो जाता है, जिससे अन्य शरीरिक समस्याएं शुरू हो सकती हैं।

जानी मानी डायटीशियन स्वाति बथवाल के अनुसार हल्दी में करक्यूमिन नामक कंपाउंड होता है, जो तभी अब्सॉर्ब होता है जब इसके साथ काली मिर्च को मिक्स करें। काली मिर्च में पिपेरिन नामक कपाउंड होता है, दोनों ही हेल्दी कंपाउंड हैं , जो शरीर को बीमारियों से बचाते हैं। जब हल्दी की चाय बनाएं तो इसमें एक चुटकी काली मिर्च ज़रूर मिक्स करें। आइए जानते हैं हल्दी की चाय के हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में...

सूजन करता है कम

inflammation

अगर आपको चोट या फिर मोच की वजह से सूजन आ गया है तो हल्दी वाला चाय पिएं। यह ना सिर्फ आपको दर्द से राहत दिलाएगी, बल्कि सूजन को भी ठीक करने में मददगार है। हल्दी में पाए जाने वाला तत्व करक्यूमिन दर्द और सूजन दोनों को कम करने के लिए कारगर है। इसके अलावा बारिश के मौसम में जब दर्द या फिर सर्दी-जुकाम हो जाए तो आप एक कप हल्दी की चाय पिएं, इससे आपको काफी फायदा मिलेगा।

इसे भी पढ़ें: रोज सुबह पीएंगी 'त्रिफला का पानी' तो होंगे ये फायदे

आपकी इम्यूनिटी को करेगा बूस्ट

tea benefits

हल्दी में पाए जाने वाले औषधीय गुण इम्यूनिटी को बूस्ट करने में मददगार होते हैं। कोरोना काल में मज़बूत इम्यूनिटी के लिए आप एक हल्दी वाली चाय पी सकती हैं। बता दें कि स्ट्रांग इम्यूनिटी कई बीमारियों और इंफ़ेक्शन से लड़ने में मदद करती है। यही नहीं इससे आपको सर्दी-जुकाम जैसी समस्याओं से भी राहत मिलेगी।

जोड़ों के दर्द से पाएंगी राहत

arthritis

उम्र के साथ लोगों में जोड़ों के दर्द की समस्या काफ़ी आम है, लेकिन इन दिनों भरपूर पोषण नहीं होने की वजह से युवाओं में भी यह शिकायत देखने को मिलती है। हल्दी में स्ट्रांग एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं जो इंफ्लामेशन और सूजन को कम करते हैं। जोड़ों के दर्द में होने वाली सूजन को कम करने के लिए हल्दी की चाय फ़ायदेमंद साबित हो सकती है। यही नहीं यह दर्द के लक्षण को भी कम करती है।

 

कोलेस्ट्राल को कंट्रोल करें

make heart healthy

हाई कोलेस्ट्रॉल हार्ट स्ट्रोक और हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारियों की वजह बन सकती है। हालांकि आप चाहें तो हेल्दी डाइट और वर्कआउट से इसे कंट्रोल कर सकती हैं। अपनी डाइट में हल्दी की चाय शामिल करें तो आपको काफ़ी फ़ायदा होगा, क्योंकि ये हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करती है। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट के गुण ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने का काम करते हैं। आप चाहें तो रात में भी हल्दी की चाय पी सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: शक्कर की जगह मिश्री खाने से हो सकते हैं ये 5 फायदे

कैंसर के ख़तरे को करती है कम

cancer prevention

हल्दी की चाय औषधीय गुणों से भरपूर होती है, क्योंकि इसमें एंटी-ऑक्सिडेंट और एंटी-इंफ्लामेटरी जैसे गुण होते हैं, जो कैंसर की रोकथाम में योगदान दे सकते हैं। बता दें कि रिसर्च के अनुसार हल्दी में पाये जाने वाले तत्व करक्यूमिन को एक प्रभावी पदार्थ के रूप में मान्यता दी गई है, जो कैंसर को रोकने में मदद करता है।

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।