अपच की परेशानी जिसे भी होती है उसे हमेशा पेट दर्द, गैस, ब्लोटिंग जैसी समस्याएं भी होती हैं। ये सिर्फ पेट की समस्याओं से जुड़ा नहीं होता है बल्कि अपच किसी बड़ी बीमारी का संकेत भी हो सकता है। अधिकतर अपच का कारण एक गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल बीमारी (GERD) होती है। इसके अलावा, गाल ब्लैडर या किसी अन्य समस्या के कारण भी अपच हो सकती है। 

अपच में पेट दर्द तो होता ही है साथ ही ऐंठन की समस्या भी बढ़ जाती है और ऐसे में अपने आप कोई भी दवा खाने से बेहतर होगा कि आप डॉक्टर से संपर्क करें। कई बार अल्सर के कारण भी ये हो सकता है और उस दौरान तो ये जरूरी है कि आप डॉक्टर से संपर्क करें। 

अपच के लक्षण क्या हैं?

इनडाइजेशन या अपच के कई लक्षण हो सकते हैं और कई बार लोगों को ये समझ भी नहीं आता कि उनके साथ क्या हो रहा है। इनके लक्षण ये हो सकते हैं-

  • पेट में जलन और ऐंठन
  • पेट में दर्द
  • ब्लोटिंग की समस्या
  • गैस की समस्या
  • जी-मिचलाना और उल्टी होना
  • मुंह में एसिडिक टेस्ट आना
  • पेट में मरोड़ की आवाज़ होना
  • हार्ट बर्न

अगर किसी को स्ट्रेस हो रहा है तो ये सारे लक्षण बढ़ भी सकते हैं। आपको ये सोचने की जरूरत है कि अगर आपके पेट में किसी तरह की कोई समस्या हो रही है तो किसी एक्सपर्ट से संपर्क करें। 

इसे जरूर पढ़ें- अगर रोज़ाना दूध को करते हैं अपनी डाइट में शामिल तो जरूर जान लें ये बातें 

लोगों को कई बार सीने में जलन भी महसूस होती है और ये इनडाइजेशन के बाद कॉमन साइड इफेक्ट है जो अन्य किसी बड़ी समस्या के बारे में संकेत देता है। 

indigestion and its problems

किसे हो सकती है अपच?

अपच की समस्या हर उम्र के इंसान को हो सकती है और ये बहुत कॉमन है, लेकिन जिन लोगों को इसका ज्यादा खतरा होता है वो हैं-

  • जिनका अल्कोहल कंजम्पशन ज्यादा है
  • दवाएं ज्यादा खाते हैं तो भी ये समस्या हो सकती है। एस्पिरिन और पेन रिलीवर आदि बहुत बड़ी समस्या बन सकती हैं। 
  • ऐसी स्थिति में जहां डाइजेस्टिव ट्रैक्ट की कोई समस्या हो जैसे अल्सर आदि।
  • कोई भावनात्मक समस्या जैसे एंग्जाइटी या डिप्रेशन भी इसका कारण बन सकती है।  
indigestion problems at home

कैसे कंट्रोल किया जा सकता है इसे? 

मिस इंडिया कंटेस्टेंट्स को ट्रेनिंग देने वाली एक्सपर्ट डायटीशियन अंजली मुखर्जी ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इस समस्या से निजात पाने के कुछ तरीके शेयर किए हैं। अंजली लगभग 20 सालों से इसी फील्ड में काम कर रही हैं और वो डाइट टिप्स एक्सपर्ट भी हैं।  

अंजली के मुताबिक ये तीन चीज़ें आपकी अपच की समस्या को कम करने में बहुत मदद कर सकती हैं- 

सौंठ- 

अंजली के मुताबिक 10 साल की उम्र से ज्यादा अगर कोई बच्चा भी है तो उसे भी सीमित मात्रा में सौंठ दी जा सकती है। अदरक नॉर्मली भी अपनी डाइट में शामिल करनी चाहिए क्योंकि इससे पेट की कई समस्याएं खत्म होती हैं। अंजली के मुताबिक 500 मिलीग्राम से लेकर 3 ग्राम तक अदरक को डाइट में शामिल किया जा सकता है।  

सौंठ को गुनगुने पानी के साथ लेना चाहिए और उसमें आधे नींबू का रस मिलाना चाहिए। ये सुबह-सुबह पिएं तो आपका पेट ज्यादा बेहतर रहेगा।  

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- कैसे बढ़ाया जा सकता है स्टैमिना, एक्सपर्ट से जानिए टिप्स 

जीरा- 

जीरा भी उन मसालों में से एक है जो अपच की समस्या को दूर करने में मदद कर सकता है। ये सिस्टम को रेगुलेट कर सकता है और सुबह 1 कप गुनगुने पानी के साथ थोड़ा सा जीरा पाउडर लेना बेहतर साबित हो सकता है।  

 

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Anjali Mukerjee (@anjalimukerjee)

पिपरमिंट चाय- 

पिपरमिंट चाय भी अपच की समस्या के लिए अच्छा ऑप्शन हो सकती है।  

आपको एक बात का ध्यान रखना होगा कि सभी का शरीर और उसकी समस्या अलग होती है और साथ ही साथ उनकी बीमारी भी अलग होती है। अगर आपको लगता है कि किसी भी तरह से आपको परेशानी हो रही है तो पहले डॉक्टर से संपर्क करें। आपकी हेल्थ हिस्ट्री के हिसाब से ही डॉक्टर आपको सुझाव देगा। अगर आपको किसी भी देसी नुस्खे पर जरा सा भी शक है तो उसे ट्राई ना करें। ये डॉक्टरी सलाह नहीं है सिर्फ आपकी सेहत से जुड़े कुछ सुझाव हैं।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।