भारत में कई ऐसे फल हैं, जो अपने औषधीय गुणों के लिए जाने जाते हैं। इनमें कई पहाड़ी फल भी शामिल हैं। वहीं आज हम एक ऐसे फल के बारे में बात करेंगे, जिसके बारे में बहुत कम लोग जानते होंगे। हम बात कर रह हैं लसोड़ा की, जिसको कई जगहों पर गोंदी और निसोरी भी कहा जाता है। इसके अलावा इसे इंडियन चेरी भी कहा जाता है। इस फल का साइज काफी छोटा होता है लगभग एक सुपारी की तरह। 

लसोड़े का सेवन अलग-अलग तरीके से किया जाता है, जैसे अचार, चूरन, या फिर साग आदि। लसोड़ा फल के अलावा इसके पत्ते और पेड़ की छाल को भी औषधी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। यह एक ऐसा पौधा है जिसका उपयोग खांसी, दमा, स्किन एलर्जी, बुखार और अन्य तरह की शारीरिक परेशानियों के इलाज के रूप में किया जाता है। आइए जानते हैं लसोड़े का उपयोग कैसे कर सकते हैं।

सूजन की समस्या होगी खत्म

swelling

जोड़ों में दर्द या फिर सूजन जैसी समस्या है तो पेड़ की छाल का काढ़ा बनाकर उसमें कपूर मिक्स कर दें। अब इस मिश्रण से सुबह-शाम सूजन या फिर दर्द वाले स्थान की मालिश करें। इसके अलावा लसोड़े के पेड़ की छाल को पीसकर सूजन वाले स्थान पर लेप के रूप में भी लगा सकती हैं। इससे आपको काफी फायदा मिलेगा।

गले की खराश करें दूर

अगर खले में खराश या फिर खांसी जैसी समस्या है तो लसोड़े का काढ़ा बनाकर सेवन कर सकती हैं। काढ़ा बनाने के लिए लसोड़े को पानी में उबालकर पी सकती हैं। इसके अलावा इसके पेड़ की छाल को भी पानी में उबालकर छानकर पी सकती हैं। अगर आपका गला खराब है तो इस काढ़े से आपको काफी राहत मिलेगी।

स्किन एलर्जी की समस्या

skin allergy

दाद, खाज, या फिर खुजली जैसी समस्या से निपटने के लिए लसोड़े के बीज काफी फायदेमंद हैं। इसके लिए लसोड़े के बीज को पीस लें और पेस्ट की तरह खुजली वाले स्थान पर लगाएं। बता दें कि आज भी कई जगह पर लसोड़े का इस्तेमाल दवाईयों के रूप में किया जाता है।

Recommended Video

शरीर को मिलती है ताकत

लसोड़े में न सिर्फ प्रोटीन होता है बल्कि इसमें कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, आयरन, फॉस्फोरस, और कैल्शियम जैसे गुण होते हैं जो शरीर को कई तरीके से फायदा पहुंचाते हैं। कच्चा खाने के अलावा लसोड़े का सेवन सूखा भी किया जाता है। लसोड़े को सुखाकर अन्य सामग्रियों में मिलाकर लड्डू भी बनाया जाता है जिसके सेवन से शरीर को ताकत मिलती है, जिससे आप दिनभर एक्टिव नजर आएंगी। आप चाहें तो लसोड़े का साग भी अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: पंचफोरन में छिपा है सेहत का खजाना, इन बीमारियों से आपको दिला सकती हैं छुटकारा

पीरियड के दर्द होगा दूर

lasoda uses

कई लड़कियों के पीरियड डेज में न सिर्फ मूड स्विंग होते हैं बल्कि दर्द भी होता है। इससे राहत पाने के लिए आप लसोड़े का सेवन कर सकती हैं। इसके लिए आप लसोड़े की छाल का काढ़ा बनाकर पी सकती हैं। ध्यान रखें कि पीरियड के दिनों में आप एक या दो बार काढ़ा बनाकर पिएँगी तो इससे आपको काफी आराम मिलेगा।

इसे भी पढ़ें:काली गाजर खाने के कई है फायदे, आप भी जानें

दांत दर्द से पाएं राहत

teeth pain

दांतों में दर्द जैसी समस्या है तो इससे राहत पाने के लिए भी लसोड़े की पेड़ की छाल का इस्तेमाल कर सकती हैं। काढ़ा बनाने के लिए पेड़ की छाल को पानी में उबाल लें और उस पानी को कुल्ला करने के लिए इस्तेमाल करें। रोजाना ऐसा करने से दांतों के दर्द से आपको राहत मिलेगी और यह हमेशा हेल्दी रहेंगे।

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।