आपमें से ज्यादातर लोगों के दिन की शुरुआत एक कप चाय से होती है। यूं कहा जाए कि अगर चाय नहीं मिलती है तो सुबह का मज़ा ही नहीं आता है। लोग अपनी पसंद के हिसाब से अलग -अलग तरह की चाय पीते हैं। जहां कुछ लोग दूध वाली चाय से अपने दिन की शुरुआत करते हैं वहीं कुछ की सुबह ग्रीन टी के एक प्याले से होती है। 

अगर चाय स्वाद  के साथ सेहत से भी भरपूर हो तो बात ही क्या है। लोग अपनी चाय को सेहतमंद बनाने के लिए कभी उसमें कोई हर्ब डालते हैं तो कभी किचन के किसी मसाले का इस्तेमाल करके चाय तैयार करते हैं। ऐसी ही सेहत से भरपूर चाय होती है लौंग की चाय। इस तरह की चाय को अपनी नियमित डाइट में शामिल करना कई तरह से सेहत के लिए फायदेमंद होता है। आइए फैट टू स्लिम ग्रुप की सेलिब्रिटी इंटरनेशनल डाइटीशियन और न्यूट्रिशनिष्ट शिखा ए शर्मा से जानें लौंग की चाय के फायदों के बारे में। 

दांत दर्द से राहत दिलाए 

toothache clove tea

लौंग में एंटी-इंफ्लेमेटरी तत्व होते हैं जो मसूड़ों की सूजन और दांतों के दर्द से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं। इसलिए यदि आप दांत दर्द या मसूड़ों के दर्द से पीड़ित हैं, तो इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए लौंग की चाय का इस्तेमाल करें। लौंग की चाय आपके मुंह से बैक्टीरिया को दूर करती है, जिससे दांत दर्द और मसूड़ों के दर्द से तुरंत राहत मिलती है। यह चाय सभी मौखिक समस्याओं जैसे दांत दर्द, सांसों की बदबू आदि से छुटकारा दिलाने में भी मदद करती है। 

इसे जरूर पढ़ें:Expert Tips: क्या आप जानती हैं जीरे की चाय के सेहत से जुड़े ये अद्भुत फायदे, डाइट में जरूर करें शामिल

साइनस और सर्दी के लक्षणों में असरदार 

अगर आप सीने में जकड़न, सर्दी, कफ जैसी समस्याओं से गुजर रहे हैं तो लौंग की चाय आपके लिए एक असरदायक उपाय हो सकती है। इन सभी तरह के संक्रमणों को दूर करने और साइनस से जल्दी राहत पाने के लिए एक कप गर्म लौंग की चाय प्रभावी रूप से काम करती है। लौंग की चाय मैग्नीशियम से भरपूर होती है और विटामिन -ई और विटामिन- के का एक समृद्ध स्रोत है जो इसे पोषक तत्वों से भरपूर पेय बनाती है। लौंग की चाय कई तरह के बैक्टीरिया के संक्रमण से लड़ने में मदद करती है। किसी भी तरह के बुखार में भी इस चाय को पीने से बुखार की समस्या से छुटकारा मिलता है। 

पाचन में सहायक

improve digestion clove

यदि आप खाने के लगभग एक घंटे पहले लौंग की चाय का सेवन करती हैं तो ये पाचन को सुचारु बनाए रखने में मदद करती है। लौंग की चाय ब्लड सर्कुलेशन को उत्तेजित कर सकती है और भोजन के बेहतर पाचन के लिए लार के उत्पादन में सुधार करती है। इनके अलावा, लौंग की चाय गैस्ट्रिक स्राव को बढ़ाती है और इसमें एनाल्जेसिक गुण होते हैं जो अपच या पेट फूलने के कारण होने वाली एसिडिटी और पेट दर्द का मुकाबला करते हैं। इसके अलावा लौंग की चाय का उपयोग पेट के कीड़ों से छुटकारा पाने के लिए किया जाता है।

Recommended Video

त्वचा की समस्याओं से छुटकारा 

एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर होने के कारण लौंग की चाय त्वचा की विभिन्न समस्याओं से निपटने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। लौंग की चाय में वाष्पशील तेल होते हैं जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को साफ करने में मदद करते हैं। जब इसे त्वचा की बाहरी परत पर लगाया जाता है तब यह बाहरी घावों को ठीक करती है। आप इस चाय को ठंडा करके त्वचा की चोटों या खरोंच, फंगल संक्रमण जैसे एथलीट फुट या दाद से बचाने के लिए त्वचा पर लगा सकते हैं।

इसे जरूर पढ़ें:हेल्थ बेनिफिट्स ही नहीं खूबसूरती पाने में भी ग्रीन टी का जवाब नहीं

कैसे बनाएं लौंग की चाय 

clove tea recipe tips

आवश्यक सामग्री 

  • साबुत लौंग -3 -4 
  • पानी -1 गिलास 

बनाने का तरीका 

  • सबसे पहले लौंग को पीसकर पाउडर बना लें। एक पैन में एक गिलास पानी डालें और साथ में लौंग पाउडर डालें। 
  • पानी में उबाल आने दें। लगभग 3-5 मिनट बाद गैस बंद कर दें और इसे छन्नी से छान लें। 
  • यदि आप चाय को मीठा बनाना चाहती हैं तो इसमें स्टीविया मिला सकती हैं। 
  • इस चाय को दिन भर में थोड़ा -थोड़ा करके इस्तेमाल करें और गर्मी के मौसम में इसके सेवन से पहले विशेषज्ञ की सलाह लें। 
  • आप अपनी नियमित चाय में भी लौंग का पाउडर दाल सकती हैं। 

लौंग की चाय को अपनी नियमित डाइट में शामिल करना सेहत के लिए फायदेमंद है लेकिन इसके इस्तेमाल से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।  

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik