जब हेल्दी फूड्स या न्यूट्रिएंट्स की बात होती है तो अक्सर लोग कैल्शियम या प्रोटीन की ही बात करते हैं, लेकिन मैग्नीशियम भी एक बेहद महत्वपूर्ण मिनरल है, जिसकी शरीर को बेहद आवश्यकता होती है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसकी गिनती सात महत्वपूर्ण मैक्रोमिनरल्स में होती है और यह शरीर की कार्यप्रणाली को सुचारू रूप से चलाने में मदद करता है। अगर इसकी कमी हो जाए तो इससे व्यक्ति को कई स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। 

यह एक आवश्यक मिनरल्स है, जो ना केवल फूड को ऊर्जा में तोड़ने में मदद करता है, बल्कि कोशिकाओं की मरम्मत करने और अमीनो एसिड का उपयोग करके प्रोटीन बनाने में भी मददगार है। अगर इसका पर्याप्त मात्रा में सेवन किया जाए तो इससे ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने से लेकर सिरदर्द व अन्य कई समस्याओं को दूर करने में मदद मिलती है। एक स्वस्थ मनुष्य को प्रतिदिन कम से कम 100 मिलीग्राम मैग्नीशियम का सेवन करने की आवश्यकता होती है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको कुछ मैग्नीशियम रिच फूड्स के बारे में बता रहे हैं, जो आपकी डेली मैग्नीशियम की जरूरतों को पूरा करने में मदद करेंगे-

डार्क चॉकलेट

dark chocolate

डार्क चॉकलेट खाने में जितनी स्वादिष्ट होती है उतनी ही हेल्दी भी। इसके सेवन का एक लाभ यह है कि इसमें मैग्नीशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। एक औंस डार्क चॉकलेट अर्थात् लगभग 28 ग्राम डार्क चॉकलेट में करीबन 64 मिलीग्राम मैग्नीशियम होता है। वैसे डार्क चॉकलेट में मैग्नीशियम के अलावा, आयरन, कॉपर और मैंगनीज भी उच्च मात्रा में होता है और इसमें एंटीऑक्सिडेंट भी पाए जाते हैं, जो फ्री रेडिकल्स के प्रभाव को बेअसर करते हैं।

नट्स

nuts magnesium food

नट्स की गिनती एक हेल्दी स्नैक्स के रूप में होती है। इनमें कई तरह के पोषक तत्व होते हैं। खासतौर से, काजू, बादाम और ब्राजील नट्स आदि में मैग्नीशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। काजू के 1 औंस अर्थात् लगभग 28 ग्राम में 82 मिलीग्राम मैग्नीशियम होता है। इसके अलावा, अधिकांश नट्स फाइबर और मोनोअनसैचुरेटेड फैट का भी एक अच्छा स्रोत हैं और मधुमेह पीड़ित लोगों में रक्त शर्करा और कोलेस्ट्रॉल के स्तर में सुधार करता है।

इसे जरूर पढ़ें:चतुर्मास में रुजुता दिवेकर की इस मानसून फूड गाइड को करें फॉलो, रहें स्वस्थ और तंदुरुस्त

केला

केले को फलों में एक सुपरफूड माना गया है, क्योंकि इसमें सभी तरह के पोषक तत्व मौजूद होते हैं। यूं तो इनमें पोटेशियम उच्च मात्रा में होता है, जिससे हद्य रोगों का खतरा कम होता है। लेकिन इनमें मैग्नीशियम भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। एक बड़े केले में करीबन 37 मिलीग्राम मैग्नीशियम होता है। इसके अलावा केले से आपको विटामिन सी, विटामिन बी6, मैंगनीज और फाइबर भी प्राप्त होता है।

एवोकाडो

avocado magnesium food

एवोकाडो एक बेहद ही हेल्दी फल है, जिसमें मैग्नीशियम पर्याप्त मात्रा में होता है। एक मीडियम साइज के एवोकाडो का सेवन करने से आपको 58 मिलीग्राम मैग्नीशियम प्राप्त होता है। इसके अलावा, एवोकाडो में पोटेशियम, विटामिन बी और विटामिन के भी उच्च मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा, एवोकाडो फाइबर का एक उत्कृष्ट स्रोत है।

इसे जरूर पढ़ें:एक्सपर्ट से जानें भूख बढ़ाने का तरीका, आहार में शामिल करें ये पांच चीजें

Recommended Video

सीड्स

बीज खासतौर से, फ्लेक्स, कद्दू और चिया बीज सहित कई अन्य सीड्स में मैग्नीशियम की उच्च मात्रा होती है। इनमें भी मुख्य रूप से एक औंस अर्थात् 28 ग्राम कद्दू के बीज में करीबन 150 मिलीग्राम मैग्नीशियम पाया जाता है। इसके अलावा, इन सीड्स में आयरन, मोनोअनसैचुरेटेड फैट और ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर होते हैं। साथ ही इनमें फाइबर कंटेंट भी काफी अधिक होता है।

फैटी फिश

फिश खासतौर से फैटी फिश सेहत के लिए बेहद लाभदायी मानी जाती है। कई प्रकार की मछलियां जैसे सैल्मन, मैकेरल और हलिबूट आदि में  मैग्नीशियम काफी मात्रा में पाया जाता है। सैल्मन का आधा टुकड़े में करीबन 53 मिलीग्राम मैग्नीशियम होता है। इसके अलावा, मछली पोटेशियम, सेलेनियम, विटामिन बी और कई अन्य पोषक तत्वों से भरपूर होती है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।