जीरे का इस्तेमाल किचन के कई व्यंजनों में स्वाद का तड़का लगाने के लिए किया जाता है। यूं कहा जाए कि जीरे के बिना खाने का स्वाद ही अधूरा है। जीरे को किसी न किसी रूप में हम अपनी डाइट में जरूर शमिल करते हैं क्योंकि ये खाने का स्वाद बढ़ाने के अलावा सेहत के लिए भी बहुत ज्यादा फायदेमंद माना जाता है। लेकिन क्या आपने कभी जीरे से बनी चाय का सेवन किया है ? 

जीरे की चाय बनाने में आसान होने के साथ कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने में भी लाभदायक है। जहां एक तरफ इसके सेवन से वजन नियंत्रित किया जा सकता है, वहीं ये शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करती है। आइए फैट टू स्लिम ग्रुप की सेलिब्रिटी इंटरनेशनल डाइटीशियन और न्यूट्रिशनिष्ट शिखा ए शर्मा से जानें किस तरह से जीरे से बनी चाय का सेवन हमारी सेहत के लिए फायदेमंद होता है और इसे कैसे तैयार किया जा सकता है।   

पाचन तंत्र को मजबूत बनाए 

digestive system strong

जीरे की चाय पाचन तंत्र को दुरुस्त बनाकर कब्ज की समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद करती है। अपने दिन की शुरुआत एक गर्म कप जीरा चाय से करने से पेट की कई समस्याएं दूर हो सकती हैं। यह उल्टी जैसी समस्याओं से राहत प्रदान करने में मदद करती है और कब्ज तथा सूजन की समस्याओं से बचने में भी मदद करती है। इसके अलावा जीरा की चाय को लिवर डिटॉक्सीफिकेशन गुण के लिए भी जाना जाता है। जीरा लिवर को डिटॉक्सीफाई करने के लिए मुख्य घटक की तरह काम करता है। हर दिन जीरा चाय का सेवन करने से यह पाचन एंजाइमों के उचित उत्पादन को बढ़ावा देने में मदद करती है।

वजन नियंत्रित करे 

weight loss cumin seeds

जीरे की चाय के नियमित सेवन से बहुत तेजी से वजन कम करने में मदद मिलती है। जीरा में फाइबर तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं जो वजन कम करने में मुख्य भूमिका निभाते हैं। । जीरा की चाय को अपनी नियमित डाइट में शामिल करने से आप एक महीने में 2 से 3 किलो तक वजन कम करके शरीर को फिट रख सकती हैं।

इसे जरूर पढ़ें:रोजाना सिर्फ '1 चम्‍मच' जीरा खाएं और तेजी से अपना वजन घटाएं 

आयरन का एक समृद्ध स्रोत

शरीर में आयरन की कमी एक आम स्वास्थ्य समस्या है। यह समस्या उन लोगों में ज्यादा होती है जिन्हें जन्म के समय से आयरन तत्वों की उचित खुराक नहीं मिली होती है। ऐसे में डाइट में आयरन युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करके ही इस कमी को पूरा किया जा सकता है। युवा महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान खून की कमी (खून की कमी पूरी करती हैं ये चीज़ें) को पूरा करने के लिए भी आयरन की आवश्यकता होती है। जीरे से तैयार चाय आयरन का एक समृद्ध स्रोत है जिसमें 1.4mg आयरन होता है। इसलिए आयरन की कमी को पूरा करने के लिए इस चाय को अपनी नियमित डाइट में शामिल करना जरूरी है। जीरा चाय पीने से एनीमिया के इलाज में भी मदद मिलती है। 

ब्रेस्टफीडिंग के दौरान मिल्क फार्मेशन 

brest feeding cumin tea

जीरे से तैयार चाय का सेवन उन महिलाओं के लिए भी लाभदायक है जो स्तनपान कराती हैं। जीरे की चाय पीने से लैक्टेशन को बढ़ावा देने में मदद मिलती है। यह स्तन ग्रंथियों से दूध के स्राव की सुविधा देती है- जो बदले में महिलाओं में ब्रेस्टफीडिंग के दौरान मिल्क फार्मेशन को बढ़ाने में मदद करती है। इसके अलावा डिलीवरी के बाद रोज़ जीरा की चाय का सेवन करने से बहुत जल्द ही पेट की गंदगी बाहर निकल जाती है और वजन नियंत्रण में भी सहायता मिलती है। नियमित रूप से एक कप गर्म जीरा चाय या जीरा का पानी पीने से मां और स्तनपान करने वाला बच्चा दोनों स्वस्थ रहते हैं।  

इसे जरूर पढ़ें:वेट लॉस से लेकर सुंदर बनाने तक, महिलाओं की 5 समस्‍याओं का 1 इलाज है जीरा

प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाए 

जीरा चाय को नियमित रूप से पीने से शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है और रोगों से लड़ने की क्षमता का विकास होता है। सभी प्रकार की बीमारियों से लड़कर यह बीमार पड़ने या किसी प्रकार की कमजोरी का अनुभव करने की संभावना को कम करती है। मुख्य रूप से कफ और कोल्ड या वायरल फीवर में जीरा की चाय का सेवन बहुत लाभदायक है। 

मधुमेह नियंत्रित करे 

cumin tea diabetes

जीरा से बनी चाय की एक नियमित खुराक मधुमेह से पीड़ित रोगियों के लिए बहुत अच्छी साबित होती है। यदि मधुमेह रोगी खाली पेट जीरा चाय का सेवन करते हैं तो उनके शरीर में इंसुलिन का उत्पादन उत्तेजित होता है। बहुत जल्द ही जीरा की चाय के सेवन से मधुमेह नियंत्रित करने में मदद मिलती है। इसके अलावा जीरा की चाय शरीर से सभी मौजूदा विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करती है और पित्त उत्पादन को आसान बनाती है।

Recommended Video

जीरा चाय बनाने का तरीका 

आवश्यक सामग्री 

  • जीरा -1 चम्मच 
  • पानी -1 गिलास 
  • शहद - 1 चम्मच 

बनाने की विधि 

cumin tea recipe

  • सबसे पहले जीरा को किसी पैन में डालकर हल्का सा रोस्ट कर लें। 
  • एक बर्तन में पानी डालकर उसमें रोस्ट किया हुआ जीरा डालें। 
  • पानी में जीरा डालने के बाद इसे अच्छी तरह से उबालें। 
  • इसे कम से कम 5 मिनट तक ढककर धीमी आंच में उबालें। 
  • 5 मिनट बाद चाय को छान लें और इसमें ऊपर से शहद मिक्स करें। 
  • इस चाय का सेवन गरम ही करें और कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करें। 

इस चाय को आप सुबह खाली पेट पी सकती हैं और रात के खाने के एक घंटे बाद भी इसका सेवन कर सकती हैं। लेकिन स्वास्थ्य संबंधी  कोई अन्य समस्या होने पर इसके सेवन से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:freepik