ग्रीन, व्हाइट, और पर्पल कलर में पाये जाने वाले शतावर को आप अपनी डाइट में अलग-अलग तरीके में शामिल कर सकती हैं। फ्राइड राइस, पास्ता, सब्जी, या फिर जूस बनाकर भी पी सकती हैं। खासकर महिलाओं के लिए यह काफी फायदेमंद है। इसे अपनी डाइट में शामिल करने से आपको एक नहीं बल्कि कई फायदे होंगे। शतावर में फैट और कोलेस्ट्रॉल नहीं होता है और इसमें सोडियम और कैलोरी की मात्रा बहुत कम होती है। इसके अलावा इसमें विटामिन ए, सी, ई, के, बी 6, फोलेट, आयरन,  कैल्शियम, प्रोटीन, और फाइबर जैसे विटामिन और मिनरल्स मौजूद हैं।

आमतौर पर शतावर के डंठल सब्जी के रूप में खाए जाते हैं, लेकिन इसकी जड़ें, बीज, और अर्क का उपयोग अलग-अलग बीमारियों को दूर करने के लिए किया जाता है। सब्जी के अलावा आप चाहें तो इसे जूस के रूप में भी डाइट में शामिल कर सकती हैं। आइए जानते हैं शतावर का जूस घर पर कैसे बना सकती हैं।

शतावर का जूस

asparagus carrot juice recipe

इसे बनाने के लिए गाजर, शतावर की आवश्यकता होती है। अब इन सभी चीजों को उचित मात्रा में काटकर मिक्सर में डाल दें और अच्छी तरह ब्लेंड कर लें। अब इसमें स्वाद बढ़ाने के लिए नींबू का रस मिक्स कर दें। रोजाना इसे पीने से आपको कई फायदे होंगे।

एंटीऑक्सिडेंट का अच्छा स्रोत

एंटीऑक्सिडेंट आपकी कोशिकाओं को फ्री रेडिकल और ऑक्सीडेटिव तनाव के हानिकारक प्रभावों से बचाने में मदद करते हैं। ऑक्सीडेटिव तनाव उम्र बढ़ाने, क्रोनिक इंफ्लामेशन और कई बीमारियों को दूर करने की क्षमता रखते हैं। शतावर एंटीऑक्सिडेंट का अच्छा स्त्रोत है। इसमें विटामिन ई, विटामिन सी और ग्लूटाथियोन के साथ-साथ अलग-अलग फ्लेवोनोइड्स और पॉलीफेनोल जैसे पोषक तत्व होते हैं।

सुधारता है पाचन तंत्र

drinking asparagus juice

बेहतर पाचन तंत्र के लिए डाइट में शतावर को शामिल करें, क्योंकि इसमें फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है। रिसर्च में पाया गया है कि फाइबर युक्त फल और सब्जियों को खाने से हाई ब्लड प्रेशर, दिल की बीमारी और डायबिटीज जैसी बीमारियों के खतरे को कम कर सकते हैं। डाइट में शतावर को शामिल करने से पाचन तंत्र स्वस्थ रहता है।

चाहती हैं हेल्दी प्रेग्नेंसी

शतावर में फोलेट का अच्छा स्त्रोत है, जिसे विटामिन बी 9 के रूप में भी जाना जाता है। फोलेट एक आवश्यक पोषक तत्व है जो रेड ब्लड सेल को बनाने और हेल्दी विकास के लिए डीएनए का निर्माण करने में मदद करता है। प्रेग्नेंसी के शुरुआती स्टेज के दौरान इसे अपनी डाइट में शामिल करें तो यह काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। वहीं फोलेट भ्रूणों में तंत्रिका-ट्यूब दोषों के जोखिम को कम कर सकता है।

इसे भी पढ़ें: घर पर रहते हुए अक्सर होती है घबराहट तो अपनी डाइट में शामिल करें ये चीजें

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या

asparagus juice good for

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या अब युवाओं में भी काफी देखने को मिल रहा है। रिसर्च के अनुसार नमक के सेवन को कम करते हुए पोटेशियम का सेवन हाई ब्लड प्रेशर को कम करने का एक प्रभावी तरीका है। ऐसे में शतावर पोटेशियम का एक अच्छा स्त्रोत है, अगर आप हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से परेशान हैं तो रोजाना शतावर के जूस का सेवन करें। इसके अलावा आप सब्जी भी खा सकती हैं।

Recommended Video

वेट लॉस में है मददगार

शतावर में लो कैलोरी होती है, इसलिए अगर आप वजन कम करना चाहती हैं तो अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं। इसके अलावा इसमें लगभग 94 % पानी है। रिसर्च के मुताबिक लो कैलोरी और पानी युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करने से वजन तेजी से घटता है। 

इसे भी पढ़ें: Winter Skin Care: पूरे साल चमकेगी स्किन अगर सर्दियों में खाएंगी ये 5 फल

डाइट में ऐसे करें शामिल

asparagus green juice

शतावर को आप अलग-अलग तरीके से शामिल कर सकती हैं। आप चाहें तो इसे उबालकर, रोस्ट करके, या फिर ग्रिल करके डाइट में शामिल कर सकती हैं। आप चाहें तो इसे सलाद, आमलेट या फिर पास्ता जैसे पकवानों में शामिल कर सकती हैं। किसी भी ग्रोसरी स्टोर में शतावर आसानी से उपलब्ध होता है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।