आज के समय में चाय और कॉफ़ी खान-पान का एक अहम् हिस्सा है। अगर कोई व्यक्ति सुबह या दिन में एक से दो कप चाय का कॉफ़ी का सेवन न करें तो दिनभर चेहरे पर तनाव महसूस होता है। अगर इसका सेवन कर लें तो मिज़ाज एकदम मस्त रहता है। हमारे आसपास कुछ ऐसी भी चाय और कॉफ़ी है जिसका सेवन स्वास्थ्य रहने के लिहाज से भी किया जाता है। जैसे-हर्बल टी या फिर ग्रीन टी।

ग्रीन टी से याद आया कि क्या आपने कभी ग्रीन कॉफ़ी का सेवन किया है। ग्रीन कॉफ़ी को सामान्य कॉफ़ी से बेहतर माना जाता है। जी हां, कहा जाता है कि सामान्य कॉफ़ी में कैफीन की मात्रा अधिक पाई जाती है, जो हेल्थ के लिए सही नहीं। लेकिन, ग्रीन कॉफ़ी में महज़ न के बराबर कैफीन पाई जाती है। आज इस लेख में हम आपको ग्रीन कॉफ़ी और उसके फायदे के बारें में बताने जा रहे हैं। जिसे जानने के बाद आप भी अपनी डाइट में ज़रूर शामिल करना पसंद करेंगी। तो चलिए जानते हैं।

क्या है ग्रीन कॉफ़ी

green coffee and its health benefits inside

आपने सामान्य कॉफ़ी देखी होगी, जो हल्का और गहरे भूरे रंग की होती हैं। कई बार इसे भूना भी जाता है जिसके चलते ये भूरा रंग की दिखाई देती हैं। लेकिन, हरा कॉफ़ी को भूना नहीं जाता है। सरल भाषा में अगर बोला जाए, तो इसक अर्थ यह है कि कॉफ़ी के फल को निकालकर बीना भूने कॉफ़ी को तैयार करना ही ग्रीन कॉफ़ी कहलाती है, जो सामान्य कॉफ़ी से गुणकारी मानी जाती हैं। आगे चलिए इसके फायदे में बारे में जानते हैं।

इसे भी पढ़ें: जानें हरे प्याज़ के कुछ ऐसे फायदे जो आपने पहले नहीं सुने होंगे, डाइट में जरूर करें शामिल

वजन नियंत्रण करें

green coffee and its health benefits inside

आजकल के लाइफस्टाइल में बढ़ते हुए वजन से लगभग हर कोई परेशान है, जिसमें से एक कारण है खान-पान पर अधिक ध्यान नहीं देना। लेकिन, जैसे नियमित ग्रीन टी पीने से वजन को कम किया जा सकता है ठीक उसी प्रकार ग्रीन कॉफ़ी के सेवन से भी बढ़ते हुए वजन को कम किया जा सकता है। कहा जाता है कि ग्रीन कॉफ़ी एंटीओबेसिटी गुणों का एक भंडार है, जिसके सेवन से फैट को बढ़ने से रोकती है और वजन को कम करती है।

Recommended Video

तनाव मुक्त में फायदेमंद 

ग्रीन कॉफ़ी को सिर दे दर्द से लेकर तनाव मुक्त करने के लिए एक बेस्ट आहार माना जाता है। कहा जाता है कि एक सामान्य कॉफ़ी के मुकाबले बहुत कम मात्रा में ग्रीन कॉफ़ी में कैफीन पाई जाती है। मसलन, जिस चाय और कॉफ़ी में कम मात्रा में कैफीन पाई जाती है, वो उतना ही तनाव मुक्त करने में हेप्ल करती है। तनाव के साथ-साथ ग्रीन कॉफ़ी अन्य कॉफ़ी के मुकाबले जल्द ही थकान से राहत देने में मदद करती है।

मधुमेह की समस्या से रखें दूर 

green coffee and its health benefits inside

कई लोग ऐसे भी होते हैं, जो शुगर के चलते चाय या फिर कॉफ़ी का सेवन नहीं करते हैं। लेकिन, ग्रीन कॉफ़ी को लेकर ये कहा जाता है कि इसमें हाइपोग्लाइसेमिक और एंटीडायबिटिक पाए जाते हैं, जो मधुमेह जैसी समस्या से दूर रखने में हेल्प करते है। अगर आप कॉफ़ी पीने का शौक रखती हैं और मधुमेह की समस्या से भी परेशान रहती है, तो ग्रीन कॉफ़ी कुछ मात्रा में सेवन कर सकती हैं। ग्रीन कॉफ़ी को इम्यून सिस्टम मजबूत करने के लिए बेस्ट आहार  है।

इसे भी पढ़ें: सेहत के लिए बेहद ही फायदेमंद है आंवला का चूर्ण, जानें कैसे

दिमाग रहता है फ्रेश  

green coffee and its health benefits inside

कैफीन काम होने की वजह से ग्रीन कॉफ़ी को दिमाग फ्रेश रखने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। कहा जाता है कि एक सामान्य कॉफ़ी के मुकाबले ग्रीन कॉफ़ी से याददाश्त और मानसिक सुधार और किसी भी काम को लेकर एकाग्रता बनी रहती है। ग्रीन काफी भूख लगने की समस्या में भी काफी हेल्प करती है। ग्रीन कॉफ़ी के सेवन से गैस की समस्या भी नहीं होती और पेट संबंधी बीमारी भी ठीक रहता है।

इसके अलावा स्किन के लिए और हड्डियों की मजबूती के लिए भी ग्रीन कॉफ़ी को बेस्ट आहार समझा जाता है। हालांकि, इसके सेवन से ये सभी समस्या दूर तो हो जाती है लेकिन, इससे संबंधित अधिक फायदेमंद के लिए आपको एक बार डॉक्टर से ज़रूर सलाह लेनी चाहिए। अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@emoha.com,www.arabiaweddings.com)