सर्दियों के मौसम में हरी सब्जियों के साथ-साथ गाजर को भी बहुत ज्‍यादा पसंद किया जाता है। गाजर का इस्‍तेमाल पुलाव, सब्‍जी और सूप बनाने के साथ-साथ हलवे के रूप में भी किया जाता है। जी हां ठंड के मौसम में गाजर का हलवा सबसे ज्‍यादा पसंद की जाने वाली मिठाइयों में से एक है। यह एक ऐसी स्‍वीट डिश है जिसको अलग-अलग तरीकों से बनाया जा सकता है।

घी और ड्राई फ्रूटस से बना गाजर का हलवा मुंह में पिघल जाता है और इसका स्वाद इतना लाजवाब होता है कि सर्द रात में भोजन के बाद इसे बड़े ही नहीं बच्‍चे भी बहुत चाव से खाते हैं। लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि खाने में स्‍वादिष्‍ट गाजर का हलवा आपकी हेल्‍थ के लिए भी बहुत अच्‍छा होता है। क्‍या सच में गाजर का हलवा हमारी सेहत के लिए अच्‍छा होता है, इस बारे में जानने के लिए हमने MY22BMI की न्‍यूट्रिशनिस्‍ट और फाउंडर Ms.Preety Tyagi से बात की। आइए हमारे साथ आप भी जानें कि उन्‍होंने क्‍या बताया।  

एक्‍सपर्ट की राय

expert tips inside

Ms.Preety Tyagi जी का कहना है कि ''गाजर का हलवा बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला मूल घटक गाजर है। गाजर विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन के और फाइबर से भरपूर होता है। गाजर में विटामिन ए दृष्टि में सुधार करने में मदद करता है। हलवे में दूध डालकर पकवान में कैल्शियम और प्रोटीन को मिलाया जाता है। काजू और किशमिश हलवे में प्रोटीन और एंटीऑक्सीडेंट को जोड़ते हैं। हलवे में शुद्ध घी आपके शरीर को सर्दियों में होने वाले दर्द को कम करने के लिए जरूरी गुड फैट देता है। इसके अलावा गाजर खाने से शरीर को चेस्‍ट संक्रमण को ठीक करने और रोकने में भी मदद मिलती है।''

इसे जरूर पढ़ें:महिलाओं के कई मर्जों की '1 दवा' है गाजर, एक्‍सपर्ट से जानिए

गाजर के फायदे

carrot benefits inside

हममें से बहुत से लोग ऐसे हैं खासतौर पर बच्‍चे, जो गाजर खाना पसंद नहीं करते हैं। ऐसे लोगों को इसे स्वादिष्ट, मीठे हलवे के रूप में खाना चाहिए। इसे खाने से कोई नुकसान नहीं होता है। गाजर उन हेल्‍दी सब्जियों में से एक है जिनका हम सेवन कर सकते हैं। यह विटामिन ए, सी, और के से भरपूर होती है जो हमारे संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छे हैं।

  • यह फाइबर से भरपूर होती है जो वजन घटाने में मदद करती है।
  • यह सब्जी कोलेस्ट्रॉल से लड़ती है और हार्ट हेल्‍थ को बढ़ाती है।
  • गाजर में विटामिन ए होता है जो आंखों के स्वास्थ्य को बढ़ाता है।
  • गाजर डाइजेशन में मदद करती है और मल त्याग में सुधार होता है।
  • विटामिन, मिनरल, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर गाजर इम्‍यूनिटी को बढ़ाने में मदद करती है।

विटामिन्‍स और मिनरल्‍स से भरपूर

ड्राई फ्रूट्स के बिना गाजर के हलवे की रेसिपी अधूरी होती है। ड्राई फ्रूट्स फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन्‍स और मिनरल्‍स से भरपूर होते हैं, जो आपके शरीर के लिए जरूरी होते हैं, खासकर सर्दियों के मौसम में। अगर आपको ड्राई फ्रूट्स पसंद नहीं हैं, तो उन्हें अपने गाजरे के हलवे में शामिल करना उनके सेवन का एक अच्छा तरीका हो सकता है। यह अत्यधिक पौष्टिक होते हैं, आपके समग्र स्वास्थ्य में सुधार करते हैं।

सर्दियों में रखता है हेल्‍दी

ghee for health inside

गाजर का हलवा बनाने में घी का इस्‍तेमाल किया जाता है जो सर्दियों के मौसम में आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है। घी में गुड फैट होता है जो इस मौसम में दर्द को कम करने में मदद करता है। गाजर में मौजूद विटामिन ए चेस्‍ट संक्रमण और अन्य मौसमी संक्रमणों के इलाज में मदद करता है। गाजर का हलवा का सेवन इम्यूनिटी बढ़ाने में भी मदद करता है।

त्वचा को नुकसान से बचाता है

यह हमारी त्वचा को सूरज की हानिकारक यूवी किरणों से बचाने के लिए जरूरी है जो सर्दी के मौसम में एक्टिव होती हैं। गाजर में मौजूद बीटा कैरोटीन त्वचा की सुरक्षा करता है।

Recommended Video

कैल्शियम से भरपूर

milk inside

जैसा कि ऊपर हमारे एक्‍सपर्ट ने बताया है कि दूध का उपयोग करके गाजरे के हलवा की रेसिपी तैयार की जाती है। दूध इस मिठाई को पूरी तरह से हेल्‍दी बनाता है। दूध आपके शरीर के लिए आवश्यक कैल्शियम की मात्रा को बढ़ाता है।

इसे जरूर पढ़ें:गाजर के हलवे को ऐसे करेंगे स्‍टोर तो कई दिन तक नहीं होगा खराब

लो फैट गाजर का हलवा बनाने की रेसिपी

हालांकि गाजर का हलवा आपकी सेहत के लिए बहुत अच्छा है, लेकिन यह कैलोरी से भरपूर होता है जो आपका वजन बढ़ा सकता है। लेकिन आपको अपनी फेवरेट मिठाई का पूरा मजा लेना चाहिए। इसलिए आज हम आपको लो फैट गाजर का हलवा बनाने की रेसिपी बता रहे हैं। 

सामग्री

  • गाजर- 2 कप कद्दूकस 
  • लो फैट मिल्क- 1 कप 
  • कटा हुआ खजूर- 1/2 कप 
  • घी- 1 चम्मच 
  • इलायची पाउडर- 1/4 छोटा चम्‍मच 
gajar ka halwa inside

बनाने का तरीका

  • प्रेशर कुकर में घी और गाजर डालें। 5 मिनट तक भूनें।
  • इसके बाद कुकर में दूध और खजूर डालें और अच्छी तरह मिलाएं। 
  • 2 सीटी के लिए प्रेशर कुकर बंद कर दें। 
  • इलायची पाउडर डालें और अच्छी तरह मिलाएं। लगातार हिलाते रहें।
  • लो-फैट गाजर का हलवा तैयार है। 
  • लो फैट मिल्‍क और चीनी की जगह खजूर का इस्‍तेमाल करने से गाजर के हलवे में कैलोरी की मात्रा कम करने में मदद मिलती है। 

आप भी सर्दियों में इस टेस्‍टी और हेल्‍दी गाजर के हलवे का मजा ले सकती हैं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com