एग्जाम का सीजन मतलब स्ट्रेस का सीजन जहां बच्चे ही नहीं बल्कि माता-पिता भी काफी स्ट्रेस लेते हैं और साथ ही साथ घर का माहौल बहुत संगीन हो जाता है। स्कूल, कॉलेज, एंट्रेंस एग्जाइम, किसी जॉब का इंटरव्यू आदि बहुत ही मुश्किल वक्त होता है और ऐसे में बच्चों को जरूरी पोषण के साथ-साथ सही आहार की जरूरत भी होती है। उन्हें डाइट में ऐसी चीज़ें आजमानी होती हैं जिससे कम से कम उन्हें स्ट्रेस न हो पर आखिर इस काम को करने के लिए उनकी डाइट में क्या शामिल किया जाए?

इन दिनों में अक्सर घर में मां अपने बच्चों को दूध और पौष्टिक आहार देने की कोशिश करती है, लेकिन आपको ये ध्यान रखने की जरूरत है कि आखिर इस आहार में कौन सी चीजें जरूरी होती हैं। तापसी पन्नू की न्यूट्रिशनिस्ट मुनमुन गनेरीवाल ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर टिप्स शेयर की हैं कि कैसे आखिर डाइट के जरिए हम एग्जाम स्ट्रेस को कम कर सकते हैं। 

1. घर का बनाया नाश्ता-

कई लोग समय बचाने के लिए सीरियल्स, ओट्स आदि खाते हैं जो शरीर के लिए उतने अच्छे नहीं होते। आप इंस्टेंट नाश्ता कितना भी खाएं, लेकिन सही मायनों में असर कुछ भी नहीं होता है। अगर आप दिन भर एनर्जेटिक रहना चाहते हैं और सही तरह से नाश्ता करना चाहते हैं तो सुबह उठकर घर पर कुछ बनाएं और बच्चों को भी खिलाएं। पोहा, उपमा जैसी चीज़ें स्वाद से भरपूर हो सकती हैं और ये यकीनन दिमाग और शरीर को चलाने के लिए अच्छी होंगी। 

diet and exam

2. घी को कभी न छोड़ें-

अगर आप शरीर के सभी न्यूट्रिएंट्स को सही तरीके से चलाना चाहती हैं तो ये बहुत जरूरी है कि आप घी का इस्तेमाल जरूर करें और उसे बिलकुल न छोड़ें। कई लोगों को लगता है कि घी को बहुत ज्यादा खाने से वो मोटे हो जाएंगे और ये सही भी है कि जरूरत से ज्यादा इसे नहीं खाना चाहिए, लेकिन ये भी सही है कि हमारे शरीर को थोड़े गुड फैट की जरूरत होती है और घी न सिर्फ हमारी याद्दाश्त को ठीक करता है बल्कि ये ओमेगा 3 फैटी एसिड्स से भरपूर भी होता है जो शरीर के अन्य फंक्शन्स के लिए ठीक होता है। ऐसे में ब्रेकफास्ट, लंच, डिनर में हर रोज़ 1 चम्मच घी का सेवन जरूर करें। 

exam and diet plan

3. दही खाने से होगा फायदा-

एग्जाम के समय दही-शक्कर खाकर भेजा जाता था। दही में गुड बैक्टीरिया भरपूर होता है जो शरीर में हैप्पी हार्मोन सेरोटोनिन (serotonin) सिक्रीट करता है जिससे स्ट्रेस लेवल कम होता है और एग्जाम के समय आप ज्यादा अच्छी तरह से फोकस कर सकते हैं। दही हमेशा आपके स्ट्रेस लेवल के लिए अच्छा होता है और एग्जाम के समय तो इसे खाना यकीनन फायदेमंद होता है।

4. अनरिफाइन्ड शक्कर है बेस्ट-

अक्सर हमारे घर में रिफाइन्ड शक्कर होती है, लेकिन अगर बात करें एनर्जी और सही तरह के डाइट की तो अनरिफाइन्ड शक्कर सबसे बेस्ट साबित हो सकती है। इससे दिमाग और शरीर में एनर्जी आती है और लंबे समय तक एक ही पोजीशन में बैठकर पढ़ने का साहस भी मिलता है। लड्डू, चिक्की, कोकम या नींबू शरबत आदि ब्लड शुगर लेवल को सही रखते हैं और इससे हमारा ध्यान भी एक जगह लगा रहता है। 

 

5. डाइट में चावल जरूर शामिल करें-

अक्सर हमने देखा है कि चावल प्री-बायोटिक होता है और इससे पेट लाइट रहता है। अगर आप अपनी डाइट में थोड़ा सा चावल भी शामिल करते हैं तो इससे ब्लोटिंग कम हो सकती है, नींद अच्छी आ सकती है और साथ ही साथ आप अगले दिन फ्रेश फील कर सकते हैं। आप दाल, चावल, खिचड़ी, घी और दही चावल अपने डिनर में ले सकते हैं जिससे पेट हल्का रहे। 

ये सभी टिप्स पढ़ने और लंबे समय तक एक ही जगह ध्यान लगाए रखने के लिए बेहतर साबित हो सकती हैं। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।